कैथल की जनता को  पानी उपलब्ध नहीं करवा सकते हैं -एक्शन वाटर सप्लाई

कैथल की जनता को  पानी उपलब्ध नहीं करवा सकते हैं -एक्शन वाटर सप्लाई
कैथल 9 नवंबर(अटल हिन्द ) पानी की किल्लत से जूझ रहे कैथल  वासियों के लिए सबसे दुख के विषय की बात यह है कि कैथल का वाटर सप्लाई डिपार्टमेंट कैथल की जनता को पेयजल उपलब्ध करवाने में असमर्थ है पिछले 2 दिनों से कैथल की कई कॉलोनियों में पीने के पानी की कमी है यही नहीं कई कॉलोनियों में तो पिछले 2 दिनों से पेयजल आज ही नहीं रहा जिसकी वजह से लोगों में समस्या बनी हुई है कि वह आखिर बिना पानी के करे तो क्या करें इस संबंध में जब हमने कैथल वाटर सप्लाई के एक्शन करण सिंह से बात की तो उन्होंने कहा हमने इस संबंध में अखबारों में सूचना  प्रकाशित करवा दी थी कि पानी नहीं आएगा लेकिन  इन अफसर साहब को कौन समझाए कि घरों में पानी नहीं आना कितने बड़ी किल्लत होती है और रही  अखबारों में सूचना देने की बात तो क्या सभी लोग उनकी छोटी सी समाचार को ढूंढ ढूंढ कर पढ़ेंगे  की पानी नहीं आएगा हमने जब पिछले 2 दिनों से कैथल की कई कॉलोनियों में पानी न आने वाले वाटर सप्लाई के वाटर सप्लाई के अधिकारी करण सिंह से पूछा तो उन्होंने कहा कि हमारा काम अखबारों में सूचना देना है लोगों के घर जाकर जाकर यह बताना नहीं कि आपको पाने नहीं मिलेगा दूसरी तरफ उन्होंने कहा कि हम कैथल की 200000 जनता को पानी उपलब्ध नहीं करवा सकते हमारे पास पानी है ही नहीं जहां भी समस्या आएगी हम टैंकर  भिजवा देंगे साथ ही उन्होंने कहा कि पानी ना आने की मुनादी करवाना हमारा काम नहीं है लेकिन अफसर साहब लोगों को भी कैसे पता चलेगा कि पानी नहीं आ रहा विभाग का ही काम होता होगा कि लोगों को बताएं कितने दिन पानी नहीं आएगा आप इस्तेमाल कम करें या आपने पानी की व्यवस्था करें उक्त अधिकारी का कहना है कि यह सरकारी काम है अखबारों में सूचना देना ही एकमात्र हल है हम उन आदि नहीं करवा सकते और ना ही लोगों को या कॉलोनियों को कॉलोनी में जाकर इस विषय पर बात कर सकते कि पानी नहीं आएगा,कैथल के पुराने बस अड्डे के सामने एसबीआई कॉलोनी में पिछले 2 दिनों से पिने का पानी नहीं आ रहा जिसके चलते कॉलोनी वासी खासे परेशान है आखिर बिना पानी के क्या करें लेकिन जिला प्रशासन और कैथल का वॉटर सप्लाई विभाग अख़बारों में खबर देकर गहरी नींद सो गया।  अब बिना पानी के कालोनी वासी जिए या मरे इन्हे कोई फर्क नहीं पड़ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
%d bloggers like this: