Atal hind
क्राइम टॉप न्यूज़ राजस्थान

BREKING NEWS-कैसे पता चला कि तहसीलदार भ्रष्टाचार में लिप्त है…पूरे घर को लॉक करके लाखों रूपए आग के हवाले कर दिए

कैसे पता चला कि तहसीलदार भ्रष्टाचार में लिप्त है…

ब्रेकिंग न्यूज़ » तहसीलदार का कारनामा: बाहर खड़े दरवाज खोलने को बोलती रही छापेमारी वाली टीम, अंदर उसने जला डाले लाखों

BREKING NEWS-कैसे पता चला कि तहसीलदार भ्रष्टाचार में लिप्त है…पूरे घर को लॉक करके लाखों रूपए आग के हवाले कर दिए
(SIROHI RAJSTHAN)तहसीलदार का कारनामा: बाहर खड़े दरवाज खोलने को बोलती रही छापेमारी वाली टीम, अंदर उसने जला डाले लाखों
Tehsildar set fire in lakhs of rupees : आदमी मजे से भ्रष्टाचार करता है और फिर फंसने पर ऐसे-ऐसे कदम उठाता है| वह भ्रष्टाचार में लिप्त होने से पहले तनिक भी यह नहीं सोचता कि आगे अंजाम क्या होगा…और होगा क्या बुरा ही होगा..ऐसे किसी का भला हुआ है क्या कभी….एक कहावत याद आ गई ‘चार दिन की चांदनी फिर अंधेरी रात’ … जहां अब कुछ ऐसा ही होगा इस तहसीलदार के साथ|

दरअसल, भ्रष्टाचारी का एक मामला राजस्थान से सामने आया है| जहां एक तहसीलदार ने पहले तो जम के भ्रष्टाचारी में अपने हाथ धोये और फिर जब उसका भ्रष्टाचार सबके सामने आ गया तो उसने ऐसा कदम उठा डाला जिसने सबकों चौंका दिया| अमूनन जब किसी पर भ्रष्टाचारी के आरोप लगते हैं तो उसके ठिकानों पर छापेमारी की जाती है..यहां भी इस तहसीलदार के यहां छापेमारी वाली टीम कार्रवाई के लिए पहुंची थी लेकिन तहसीलदार ने अपना अलग ही खेल खेल डाला| पूरे घर को लॉक करके लाखों रूपए आग के हवाले कर दिए| टीम दरवाजा पर खड़े होकर दरवाजा खोलने को बोलती रही और तहसीलदार पैसों को फूंकता रहा| यह नजारा टीम ने खिड़की से अपनी आँखों से देखा|

बतादें कि, सिरोही जिले के पिंडवाड़ा तहसील में तहसीलदार के घर एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम छापेमारी के लिए पहुंची थी लेकिन तहसीलदार ने टीम को छापेमारी के लिए घर में नहीं आने दिया और अंदर 500 -500 की गड्डियों जलाने लग गया| इस काम में उसकी पत्नी ने भी उसका साथ दिया| हाल्नकी बाद में पुलिस की सहायता से घर में तोड़फोड़ कर एंटर किया गया और जले हुए लाखों रूपए के साथ तहसीलदार को गिरफ्तार कर लिया गया| बताया जाता है कि जली हुई रकम लगभग 15 लाख है|

कैसे पता चला कि तहसीलदार भ्रष्टाचार में लिप्त है….

यहां एक सरकारी भूमि का टेंडर पास करने के लिए तहसीलदार ने एक ठेकेदार से 5 लाख की रिश्वत मांगी थी। सौदा तय होने के बाद राजस्व निरिक्षक (आरआई) एक लाख की रिश्वत राशि लेने के लिए पहुंचा था, जिसे पाली एसीबी ने रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया था| इसी से पूछताछ के आधार पर तहसीलदार का नाम सामने आया जिसके बाद एसीबी उसके यहां कार्रवाई के लिए पहुँची|

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

कैथल के गांव बालू में ठांय ठांय ,चचेरे ने भाई को गोली मारकर सुलाया मौत की नींद

admin

अनिल विज ने निकिता हत्याकांड मामले में अपनाया कड़ा रूख,

admin

क्यों प्रेम का बदला नफरत से देते शोएब- अफरीदी

admin

Leave a Comment

URL