Atal hind
Uncategorized

hariyana-कौन चलाएगा हरियाणा में सरकार, खट्टर या दुष्यंत, कल चलेगा पता

कौन चलाएगा हरियाणा में सरकार, खट्टर या दुष्यंत, कल चलेगा पता
चंडीगढ़: कल दोपहर प्रदेश के लगभग एक दर्जन विधायक मंत्री पद की शपथ लेंगे लेकिन अभी तक उन नेताओं के समर्थकों को ये नहीं पता है कि उनके नेता भी कल मंत्री बनेंगे। सोशल मीडिया पर किसी लिस्ट का इंतजार किया जा रहा है। कुछ नेताओं के समर्थक समाचार चैनलों पर टकटकी लगाए बैठे हैं। खासकर ऐसे समर्थक जिन्हे अंदाजा है कि उनके नेता को ही कल मंत्री बनाया जाएगा। कई समर्थक अच्छे कपडे वगैरा भी सिलवाकर बैठे हैं लेकिन वो परेशान हैं क्यू कि उन्हें जानकारी नहीं मिल पा रही है कि कल क्या होने वाला है। वो चंडीगढ़ जाने के लिए भी तैयार बैठे हैं।
सूत्रों की मानें तो कल तक बड़ा पेंच फंसा था जब तक सीएम दुष्यंत चौटाला से नहीं मिले थे। जजपा मलाईदार पद मांग रही थी। जजपा की डिमांड थी कि उसे वित्त, उद्योग, कृषि, टाउन एंड कंट्री प्लानिंग, आबकारी एवं कराधन विभाग दिया जाए । इसके बाद सीएम और डिप्टी सीएम की बैठक के बाद सहमति बन गई है। दुष्यंत चौटाला को भी डिप्टी सीएम के नाते अहम विभाग दिए जाएंगे।

जिसे दिन से भाजपा ने जजपा से समझौता किया है उसी दिन से दुष्यंत खट्टर को नचा रहे हैं और आगे भी नचाते रहेंगे। एक तरह से प्रदेश की सरकार अब दुष्यंत चलाएंगे। ऐसा न होता तो खट्टर अब तक कल बनाये जाने वाले भाजपा के कोटे के मंत्रियों के नामों का एलान कर देते। आज घर पर बुलाकर किसी को रसगुल्ला खिलाने की जरूरत नहीं पड़ती। कल के मंत्रिमंडल के विस्तार पर सबकी निगाहें टिकीं हैं। मंत्रिमंडल के विस्तार में 40 सीटें जीतने वाली भाजपा के विधायकों को अच्छे मंत्रालय मिलते हैं या 10 सीटें जीतने वाली जजपा अधिकतर बड़े मंत्रालय झटक ले जाती है। ये तो कल ही पता चलेगा। हो सकता है कल मंत्री बनाये जाने वाले नेताओं की लिस्ट रात में रसगुल्ला खिलाने के बाद जारी कर दी जाए। हरियाणा में अब खट्टर की चलेगी या दुष्यंत की ये कल उस समय पता चलेगा जब मंत्रिमंडल में विस्तार के बाद विभागों का बंटवारा होगा।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Leave a Comment

URL