Haryana-अभय का नाम लिए बगैर डिप्टी सीएम ने साधा निशाना

अभय का नाम लिए बगैर डिप्टी सीएम ने साधा निशाना,विपक्ष ने तो लॉकडाउन की धज्जियां उड़ाई,रैलियां शुरू की
किसानों की फसल का एक-एक दाना खरीदा जाएगा .कोरोना कारण गंभीर आर्थिक व सामाजिक चुनौती भी

 

Without taking Abhay’s name, the deputy CM shrugged
Opposition breaks the lockdown, starts rallies
Every grain of the farmers’ crop will be purchased
Corona cause serious economic and social challenge as well

-राजकुमार अग्रवाल –

कैथल (हरियाणा)। हरियाणा में गेहूं खरीद पर आढ़तियों द्वारा किए जा रहे विरोध प्रदर्शन पर सियासत होनी शुरू हो गई है। बुधवार को हरियाणा के डिप्टी सीएम ने लॉकडाउन के संबंध में प्रेसवार्ता की,जब उसने पूछा गया कि विपक्ष आरोप लगा है कि सरकार ने आढ़ती और किसान का गठजोड़ तोड़ दिया है। इस पर दुष्यंत चौटाला ने अभय चौटाला का नाम लिए बिना निशाना साधा और कहा कि विपक्ष ने तो लॉकडाउन की धज्जियां उड़ानी शुरू कर दी है। उन्होंने तो रैलियां शुरू कर दी है। मुझे नहीं लगता हमें कुछ बोलने की जरुरत है,जनता सब जानती है। बता दें कि मंगलवार को अभय चौटाला ने प्रदेश की 20 मंडियों का दौरा किया था। इनमें से कुछ में उनके इर्द-गिर्द काफी संख्या में लोगों की भीड़ जुट गई थी।

Hariyana-सीएम के बयानों से  सरकार के आदेशों को ठेंगा, प्राईवेट स्कूलों की लूटखसोट का पढ़ें पूरा अंकगणित

केंद्र की अनुमति के बाद ही
हरियाणा में शुरू होगी शराब की बिक्री
हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि राज्य में शराब की बिक्री केंद्र सरकार के आदेश के बाद ही होगी। राज्य सरकार का शराब की ब्रिकी की अनुमति देेने का अभी कोई विचार नहीं है। राज्य में गेहूं की खरीद पर उन्होंने बताया कि किसानों की फसल का एक-एक दाना खरीदा जाएगा। गेहूं की खरीद अगले महीने तक होगी। उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने चंडीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत में राज्य सरकार द्वारा कोरोना के खिलाफ जंग में उठाए गए कदमों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि राज्य में कोरोना का संक्रमण को रोकने में काफी कामयाबी मिल रही है।

पॉर्न साइट्स का नया खेल, इंडिया में दोबारा वापसी

 

उन्होंने मीडिया का कोरोना की लड़ाई लडऩे में सहयोग के लिए धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि अगले 10 दिन का लॉकडाउन और बचा है। इसका सभी को गंभीरता से पालन करना चाहिए।अब तक हरियाणा के सात जिले कोरोना से मुक्त हो चुके हैं और कोई भी मरीज गंभीर नहीं है। इस सबके बीच बड़ी चुनौती आर्थिक और सामाजिक है। इससे निपटने के लिए रणनीति तैयार की जा रही है। उन्होंने बताया कि हरियाणा सरकार के पास 4350 इंडस्ट्री ने परमिट के लिए अप्लाई किया है। 3700 हमारे पास पेंडिग एप्लीकेशन हैं। जरूरी सामान के साथ हमने चेन सप्लाई को बरकरार रखने के लिए हरियाणा सरकार ने उद्योगों को कार्य शुरू करने के लिए प्रेरित किया है। गुरुग्राम,फरीदाबाद में जहां कंटेनमेंंट जोन नहीं है वहां पर हमने उद्योगों को शुरू कराने की पहल की है।

india-कौन हैं 2618 फर्जी पैंशन पूर्व सांसद? लोकसभा व राज्यसभा सांसदों की संख्या में भारी फर्जीवाड़ा

 

दुष्यंत ने कहा कि सेल्फ हेल्प ग्रुपों ने 13 लाख प्लाई मास्क मार्केंटिग बोर्ड को भेजे हैं। इसके अलावा होंडा कंपनी और सेल्फ हेल्प ग्रुपों ने सेनेटाइज के पंप भी दिए हैं। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि राज्य में मंडियों में गेहूं और सरसों की खरीद सुचारु रूप से चल रही है। अगले महीने तक किसानों की फसलों की खरीद होगी। किसानों की फसल का एक-एक दाना खरीदा जाएगा। फसल की खरीद का बार बार मुद्दा बेवजह बनाया जा रहा है। अब तक एक लाख 56 हजार मीट्रिक टन सरसों हमने खरीदी।

 

 

अगले 20 दिनों 80 फीसदी सरसों खरीद लेंगे। गेंहू की खरदी दो दिनों में दो लाख 82 मीट्रिेक टन हुई है। विपक्ष फिर भी आरोप लगाने से बाज नहीं आ रहा है। पंजाब और हरियाणा ही इतने बड़े स्तर पर गेंहू खरीदते हैं। पंजाब में कुल 42हजार टन के करीब गेंहू खरीदी गई है। उन्होने कहा कि कई मंडियों में हड़ताल की भी बात सामने आई,लेकिन यह वक्त हड़ताल नहीं मिलकर लडऩे का है। सरकार ने आढ़तियों के पुराने खाते की मांग को मांगा बल्कि हमने तो आढ़तियों को उनके पुराने रजिस्टर्ड किसान की फसल खरीदने की भी बात कही।

 

 

उन्होंने कहा कि अगर मोबाइल से मैसेज करके किसानों को न बुलाते तो हो सकता था भारी संख्या में लोग मंडियों में आ जाते। हरियाणा सरकार नहीं चाहती है कि राज्य में कोरोना से हालात दिल्ली या मुंबई जैसे हों। फसल की खरीद के लिए किसानों से पुछकर खरीद केंद्र बनाए हैं। अगले महीने तक फसल का एक एक दाना हम खरीदेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य में रजिस्ट्री शुरू की गई है। राज्य में अब तक 60 रजिस्ट्री हो चुकी है और हरियाणा सरकार को इससे 57 लाख का फायदा हुआ है।

 

 

 

हमारे काल सेंटर में 5000 के करीब कॉल आती थी और वे ज्यादातर भोजन के लिए होती है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हरियाणा सरकार ने केंद्र सरकार की गाइडलाइन के मुताबिक शराब के ठेकों को बंद कर रखा है। इस दौरान पुलिस व एक्साइज विभाग ने अवैध शराब पकडऩे के लिए 442 जगह रेड की। अवैध शराब बेचने वालों पर 1200 एफआईआर दर्ज कई गई। 1 लाख 60 हजार बोतलें पकड़ी गई। 10 हजार लीटर लाहन पकड़ी गई। इसके अलावा 12 शराब के होलसेलर पर शराब का स्टॉक कम मिला है, उन्हें नोटिस जारी कर दिया गया है। उन पर बैन भी लगाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *