AtalHind
क्राइम (crime)गुरुग्राम (Gurugram)टॉप न्यूज़हरियाणा

Gurugram News -प्रेमी की हत्या करके शव को नहर में फेंकने की वाला दम्पति गिरफ्तार

गुरुग्राम पुलिस के द्वारा 24 घंटे में ब्लाईंड मर्डर की गुत्थी  सुलझाई गई
Advertisement
पत्नी के प्रेम प्रसंग का पता लगने पर दम्पति ने रची  हत्या करने की योजना
Advertisement
हत्या करने के बाद शव को कट्टे में बांधकर फेंका था धनकोट नहर में
गुरुग्राम 11 जून (अटल हिन्द ब्यूरो)
Advertisement
Advertisement
सोमवार को गुरुग्राम पुलिस की टीम के माध्यम से पुलिस चौकी धनकोट, गुरुग्राम की पुलिस टीम को एक सूचना धनकोट नहर में एक अज्ञात व्यक्ति का शव धनकोट नहर जाल में अटका हुआ के सम्बन्ध में प्राप्त हुई।प्राप्त सूचना पर पुलिस चौकी धनकोट, गुरुग्राम की पुलिस टीम धनकोट नहर नजदीक द्वारिका एक्स्प्रेस-वे सैक्टर-99, गुरुग्राम पहुँची जहां पर नहर सफाई कर्मचारी ने पुलिस टीम को बतलाया कि सोमवार को नहर के टैलपानी जाल से कचरा निकाल रहा था। सफाई के दौरान इसको एक कट्टा जाल में रुका हुआ दिखाई दिया, इसने अपने सफाई करने वाले फावड़े से उसे हटाने की कोशिस की तो कट्टा खुल गया जिसमें एक अज्ञात व्यक्ति का शव था। इसने डॉयल-112 पर फोन करके पुलिस को शव मिलने की सूचना दी।
Advertisement
Advertisement
Advertisement
पुलिस प्रवक्ता के मुताबिक पुलिस टीम द्वारा नहर के सफाई कर्मचारी के उपरोक्त कथनों पर पुलिस थाना राजेन्द्रा पार्क, गुरुग्राम में धारा 302, 201 के तहत अभियोग अंकित करके पुलिस की सीन-ऑफ-क्राईम, एफएसएल व फिंगरप्रिंट की पुलिस टीमों को घटनास्थल पर बुलवाकर घटनास्थल का निरीक्षण करवाया गया तथा मृतक की पहचान व पोस्टमार्टम के लिए शव को मोर्चरी में रखवाया गया।
Advertisement
Advertisement
उप-निरीक्षक अमित कुमार, इंचार्ज अपराध शाखा फरुखनगर, गुरुग्राम की पुलिस टीम द्वारा उपरोक्त अभियोग में मृतक की पहचान के लिए तथा व मामले से सम्बन्धित सूचनाएं एकत्रित करना प्रारंभ किया तो सोमवार को पुलिस थाना सैक्टर-10A, गुरुग्राम के एरिया से  09. जुन को एक व्यक्ति के गुम होने के सम्बन्ध में अभियोग अंकित मिला, जिसके परिजनों से सम्पर्क करके धनकोट नहर में मिले अज्ञात शव की शिनाख्त कराई गई, मृतक का चेहरा पहचान की हालात में नही था तो मृतक के हाथ पर गुदे हुए अक्षर पी वी के वाई से मृतक के परिजनों ने शव की पहचान पुष्पेन्द्र (उम्र 38 वर्ष) निवासी नंगलालेखराज, जिला फिरोजाबाद, उत्तर-प्रदेश के रूप में कराई।
Advertisement
Advertisement
उप-निरीक्षक अमित कुमार, इन्चार्ज अपराध शाखा फरुखनगर की पुलिस टीम द्वारा उपरोक्त मामले में आगामी कार्यवाही करते हुए मृतक से सम्बन्ध में विभिन्न जानकारी एकत्रित की गई। एकत्रित की गई सूचनाओं तथा उनका अवलोकन करने के परिणामस्वरूप पुलिस टीम द्वारा 24 घण्टों के अंदर आरोपियों की पहचान व उन्हें काबू करके इस ब्लाईंड मर्डर की गुत्थी को सुलझाने में बड़ी सफलता हासिल की है।
Advertisement
Advertisement
Advertisement
उपरोक्त अभियोग में पुष्पेन्द्र (मृतक) की हत्या करने की वारदात को अंजाम देने वाले दम्पति को पुलिस टीम द्वारा मंगलवार को सरस्वती एनक्लेव, गुरुग्राम से काबू करके अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया, जिनकी पहचान नीलम (उम्र 30 वर्ष) पत्नी रामनिवास व रामनिवासी (उम्र 34 वर्ष)  निवासी ससोतिया जगदीश, जिला एटा उत्तर-प्रदेश, वर्तमान निवासी सरस्वती एनक्लेव, गुरुग्राम के रूप में हुई।
Advertisement
Advertisement
आरोपियों से पुलिस पूछताछ में ज्ञात हुआ कि उपरोक्त आरोपी रामनिवास ऑटो चलाने का काम करता है तथा उपरोक्त अभियोग में मृतक पुष्पेन्द्र व उक्त आरोपित महिला नीलम दोनों एक ही कम्पनी में काम करते थे । इसी दौरान इन दोनों के बीच प्रेम सम्बन्ध बन गए थे। इन दोनों के बीच प्रेम सम्बन्ध का आरोपित महिला के पति रामनिवास (उपरोक्त आरोपी) को पता चल गया तो नीलम व इसके पति रामनिवास ने पुष्पेन्द्र की हत्या करने की योजना बनाई।
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
योजनानुसार शनिवार 8 जून को नीलम  पुष्पेन्द्र से कम्पनी में मिली और उसे  08/09. जुन की रात को समय 02 बजे अपने कमरे पर आने के लिए कहा। नीलम के कहे अनुसार पुष्पेन्द्र बताए गए समय पर नीलम के कमरे पर पहुँच गया और नीलम ने अपने पति रामनिवास के साथ मिलकर पुष्पेन्द्र के मुँह में कपड़ा डालकर व उसका गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। हत्या करने के बाद इन्होंने शव को एक कट्टे में बांध दिया, फिर आरोपी रामनिवास शव को अपने ऑटो रिक्शा में रखकर धनकोट नहर पर ले गया और नहर में फैंककर अपने कमरे पर वापस आ गया। पुलिस से बचने के लिए इन्होंने उसी दिन अपना किराये का कमरा भी बदल लिया था।
Advertisement
Advertisement

Related posts

हुड्डा सरकार के कार्यकाल में ही खत्म चुकी गौड़ सभा की जमीन की लीज

atalhind

कैथल में 9 मामलों में 4 हजार 178 बोतल देसी शराब, 116 बोतल हथकढ़ी शराब व 24 बोतल बीयर सहित कुल 4318 बोतल शराब बरामद

admin

DAP के लिए अपराधियों की तरह हुई किसानों की वैरिफिकेशन

admin

Leave a Comment

URL