Friday, June 21, 2019
 
BREAKING NEWS
मिशन 2024 पर निकले रणदीप सुरजेवाला,किसान कांग्रेस के जरिए पूरे प्रदेश में समर्थकों को किया एडजैस्टहिमाचल में बस 500 फीट गहरी खाई में गिरी, 28 की मौत; 32 घायलफरीदाबाद की एक और बेटी तनीषा दत्ता ने किया देश का नाम रौशनयोग करता है मन की वृतियों को नियंत्रण में, होती है मानसिक, शारीरिक, अध्यात्मिक स्वास्थ्य की प्राप्ति : आरके सिंहभाजपा आईटी सेल के बनाए ग्रुपों में राजकुमार सैनी के खिलाफ अफवाह चलाने की चर्चाएं !करवाएंगे केस दर्ज : सैनीकैथल खाद्य एवं आपूर्ति विभाग को कैशलेस करने की योजना !कैथल की सरकार पर भ्रष्टाचार मामले में एफआईआर दर्ज होने के बाद भी कोई कार्रवाई न होना बना रहा हास्यास्पद स्थिति !नही चले अयुष्मान कार्ड, बेटे के ईलाज के लिए दर-दर भटक रहे परिजनमर रही थी गाये, न खाने के लिए प्रर्याप्त चारा न की जाती थी देखभाल डीसीआरयूएसटी में एम.एससी. कैमिस्ट्री बना हुआ है टॉप च्वाइस. कैमिस्ट्री में 261 व पीएच.डी में कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग में 85 ने किया आवेदन

Uttar Pradesh

अमेठीः समय से आय जाति निवास में लेखपाल नहीं लगा रहे रिपोर्ट, स्कॉलरशिप से छूट सकते हैं छात्र

August 20, 2018 07:49 PM
सुरजीत यादव अमेठी

अमेठीः समय से आय जाति निवास में लेखपाल नहीं लगा रहे रिपोर्ट, स्कॉलरशिप से छूट सकते हैं छात्र

अमेठीः उत्तर प्रदेश सरकार छात्रों के हित में भले ही कटिबद्ध है लेकिन उनके मातहत अधिकारी सरकार की किरकिरी कराने में कोई कसर नहीं छोड़ रहें हैं। इस समय उत्तर प्रदेश में स्कॉलरशिप फार्म भरे जा रहे हैं जिसे भरने के लिए आय जाति प्रमाण पत्रों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है, लेकिन इनको जारी कराने के लिए लोगों को जनसेवा केंद्रों के दिन रात चक्कर काटने पड़ रहे हैं, भले ही सरकार ग्राम पंचायतों में जन सेवा केंद्र खोल रखे हैं लेकिन लेखपालों की कार्यशैली कहीं ना कहीं लोगों को तहसील के चक्कर काटने के लिए मजबूर कर रहे हैं, आपको बता दें कि जन सेवा केंद्रों से आय जाति निवास हेतु आवेदन तो समय से कर दिए जाते हैं लेकिन लेखपाल द्वारा समय से रिपोर्ट नहीं लगाने के कारण आम जनता एवं छात्राओं को भारी मुसीबतों का सामना करना पड़ता र्है।
इन ग्राम पंचायतों के लेखपाल समय से नहीं लगाते रिपोर्ट
आय जाति निवास प्रमाण पत्रों में रिपोर्ट न लगने के कारण ग्राम पंचायत पाली, एक्काताजपुर, दक्खिनगॉव क्यार, तेंदुआ, शिवली, आदि दर्जनों गॉवों के छात्रों को जनसेवा केन्द्रों के चक्कर काटने पड़ रहें हैं। जनसेवा केंद्रों के साथ उनको तहसीलों में भी चक्कर लगाने पड़ते हैं और समय के साथ लोगों का धन भी अधिक मात्रा में वहन होता है वही जानकारों एवं आवेदनकर्ताओं की माने तो उनका कहना है कि जब तक लेखपालों को फोन नहीं किया जाता है तब तक सही रिपोर्ट नहीं लगाई जाती है महीनों आवेदन पड़े रहने के बाद भी कोई सुनवाई या कोई कार्रवाई नहीं की जाती है। जिससे लोगों के आय जाति निवास संबंधित दस्तावेज समय से जारी हो सके और लोगों को सरकारी सुविधाओं का समय से लाभ मिल सके, लोगों ने बताया कि अगर लेखपाल को रिपोर्ट लगाने के लिए एक बार से दूबारा फोन किया जाता है तो फर्जी कारण बताकर फार्म निरस्त कर देते हैं। जिसका खामियाजा जनता को भुगतना पड़ रहा है और सरकार की किरकिरी हो रही है। आपकों बता दें आय जाति निवास के लिए छात्रों के आवेदन में शासन द्वारा 7 समय निर्धारित हैं वहीं आम जनता के लिए 15 का समय निर्धारित किया गया है।

Have something to say? Post your comment

More in Uttar Pradesh

अमेठीः जनहित की समास्याओं को लेकर किसान यूनियन ने लगाई चौपाल, कहा मजबूर होकर करना पड़ेगा आन्दोलन

सेक्स रैकेट, गिड़गिड़ाने लगी पकड़ी गई लड़की, बोली- छोड़ दीजिये, 2 दिन बाद शादी है

ननकऊ साहू बने ब्लॉक अध्यक्ष, रमेश तिवारी जिला उपाध्यक्ष

साहब : भूमाफिया जबरन कर रहे जमीन पर अवैध कब्जा

संत महंत ने उठाया राम मंदिर निर्माण का मुद्दा, कल बैठक में होंगे कई बड़े फैसले..!!

हादसे में बाल-बाल बचे कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य.

मुंह मे मिट्टी ठूंसकर ग्यारह वर्षीय बालक की हत्या

गुप्तांग पर ईंट बांधकर उसको पूरे गांव और खेतों मे घुमाया मंदबुद्धि बालक को

पूर्व सांसद घर में मृत मिले, जहर से मौत का अंदेशा*

स्मृति ईरानी ने कहा, हत्यारों को मौत की सजा दिलाकर ही दम लेंगे