Wednesday, June 19, 2019
 
BREAKING NEWS
मनोहर सरकार ने जनहित की योजनाओं और सुशासन की बदोलत जीता जनता का दिल : डॉ. गणेश दत्तश्री अमरनाथ सेवा मंडल की शाखा पूंडरी द्वारा 24वें भंडारे की सामग्री रवानापृथ्वी एक देश है और हम सभी इसके नागरिक हैंधड़ाधड़ बड़े-बड़े मामले सुलझाने वाले इंस्पेक्टर नवीन पाराशर की आईजी हनीफ कुरेशी ने थपथपाई पीठ शव नग्नावस्था में मिला,बेरहमी से सिर में ईंट माकर हत्या किसानों की आय दोगुनी हो इसके लिए केन्द्र व राज्य सरकार दृढ़ संकल्प: विपुल गोयलआरटीए कार्यालय पर चला मुख्यमंत्री का डंडा कार्यालय में बुलाकर पीड़ित को दी बगैर हस्ताक्षर की रसीद बिना बताए बीडीपीओ बावल ने लिया अवकाश, 4 दिन का वेतन रूका भाजपा नए चेहरे पर विश्वास जताकर मैदान में उतारेगी युवा चेहरा : कौल कानूनी साक्षरता शिविरों का आयोजन किया

Uttar Pradesh

ब्राह्मण सभा में हुआ एकता का शंखनाद

September 09, 2018 04:46 PM
सुरजीत यादव अमेठी

ब्राह्मण सभा में हुआ एकता का शंखनाद

अमेठी । ब्राह्मण सभा को एक होने और समाज का अस्तित्व बचाए रखने के उद्देश्य से ब्राह्मण समाज की एक बैठक आज शुकुल बाजार में संपन्न हुई । भगवान परशुराम की प्रतिमा के समक्ष क्षेत्र के ब्राह्मणों ने समाज की एकता और अस्तित्व पर विशेष चर्चा की, जिसमें निज समाज के उत्थान से राष्ट्रोत्थान तक की बात पर मंथन किया गया। एससीएसटी एक्ट पर केंद्र सरकार के प्रावधानों पर काफी आक्रोश भी दिखाई दिया।

बाजार शुक्ल कस्बा स्थित शिव श्यामा चिकित्सालय के एक हाल में क्षेत्र के ब्राह्मणों ने अस्तित्व क्षीण हो रहे, ब्राह्मण समाज के उत्थान की बात पर चर्चा की। सर्वप्रथम भगवान परशुराम की आरती उपरांत के.डी. मिश्रा द्वारा सभा का संचालन किया गया। जिसमें ब्राह्मण समाज को सर्व समाज का अग्रणी बताते हुए उसे अपने अस्तित्व पर चिंतन करना आवश्यक माना जा रहा है । कृष्णा नर्सिंग होम के चिकित्सक पवन तिवारी ने कहा की राजनीति के माध्यम से उत्थान की उम्मीद करना सार्थक नहीं होगा। ब्राह्मण समाज का उत्थान उसके अपने अस्तित्व पर चिंतन करने से होगा । अन्यथा ब्राह्मण अस्तित्व खोता जा रहा है। बाबा कल्याण दास ने शंखनाद करते हुए सब को एक मंच पर आने का आवाहन किया है। इस मौके पर संघठन के साथ सभी ब्राह्मणों ने एक मंच पर आने का संकल्प लिया। इसके अतिरिक्त क्षेत्र के रमेश तिवारी, राधिका प्रसाद शुक्ला, करुणा शंकर पांडे, कुलदीप शुक्ला, सुशील तिवारी, संतराम शुक्ला, शिव शंकर त्रिपाठी, रवि तिवारी, राम प्रताप तिवारी, परिक्रमा तिवारी आदि सैकड़ों ब्राह्मणों ने निश्चित एवं संगठन एकता पर बल दिया, साथ ही आगामी वर्ष में वैशाख माह की अक्षय तृतीया को परशुराम जयंती का भव्य आयोजन का भी संदर्भ ग्रहण किया।

Have something to say? Post your comment

More in Uttar Pradesh

ननकऊ साहू बने ब्लॉक अध्यक्ष, रमेश तिवारी जिला उपाध्यक्ष

साहब : भूमाफिया जबरन कर रहे जमीन पर अवैध कब्जा

संत महंत ने उठाया राम मंदिर निर्माण का मुद्दा, कल बैठक में होंगे कई बड़े फैसले..!!

हादसे में बाल-बाल बचे कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य.

मुंह मे मिट्टी ठूंसकर ग्यारह वर्षीय बालक की हत्या

गुप्तांग पर ईंट बांधकर उसको पूरे गांव और खेतों मे घुमाया मंदबुद्धि बालक को

पूर्व सांसद घर में मृत मिले, जहर से मौत का अंदेशा*

स्मृति ईरानी ने कहा, हत्यारों को मौत की सजा दिलाकर ही दम लेंगे

कई अधिकारियों के निलंबन का फरमान,हाईकोर्ट का यूपी में चल रहे सभी रेड लाइट एरिया बंद करने का आदेश

छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया बरसण्डा गॉव में चुनावी जनसभा को सम्बोधित