Friday, June 21, 2019
 
BREAKING NEWS
मिशन 2024 पर निकले रणदीप सुरजेवाला,किसान कांग्रेस के जरिए पूरे प्रदेश में समर्थकों को किया एडजैस्टहिमाचल में बस 500 फीट गहरी खाई में गिरी, 28 की मौत; 32 घायलफरीदाबाद की एक और बेटी तनीषा दत्ता ने किया देश का नाम रौशनयोग करता है मन की वृतियों को नियंत्रण में, होती है मानसिक, शारीरिक, अध्यात्मिक स्वास्थ्य की प्राप्ति : आरके सिंहभाजपा आईटी सेल के बनाए ग्रुपों में राजकुमार सैनी के खिलाफ अफवाह चलाने की चर्चाएं !करवाएंगे केस दर्ज : सैनीकैथल खाद्य एवं आपूर्ति विभाग को कैशलेस करने की योजना !कैथल की सरकार पर भ्रष्टाचार मामले में एफआईआर दर्ज होने के बाद भी कोई कार्रवाई न होना बना रहा हास्यास्पद स्थिति !नही चले अयुष्मान कार्ड, बेटे के ईलाज के लिए दर-दर भटक रहे परिजनमर रही थी गाये, न खाने के लिए प्रर्याप्त चारा न की जाती थी देखभाल डीसीआरयूएसटी में एम.एससी. कैमिस्ट्री बना हुआ है टॉप च्वाइस. कैमिस्ट्री में 261 व पीएच.डी में कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग में 85 ने किया आवेदन

National

डिजिटल फाउन्डेशन के अन्य प्रदेशों से जुड़े तार, करोड़ों लेकर फरार

October 07, 2018 12:43 PM
सुरजीत यादव अमेठी

डिजिटल फाउन्डेशन के अन्य प्रदेशों से जुड़े तार, करोड़ों लेकर फरार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, सहित कई शहरों में ठगों ने डिजीटल इंडिया के सपने को हिलाकर रख दिया है। इन ठगों का जाल इतना बड़ा है कि लखनऊ पुलिस भी कार्यवाही से कतराती नजर आ रही है। दिल्ली, मुंबई, बिहार, मध्य प्रदेश तक इनका जाल बिछा हुआ है।

(MOREPIC1) 

तस्वीर में दिख रही महिला डिजिटल फाउन्डेशन की मैनेजर बतायी जा रही है। खबर है कि डिजिटल फाउन्डेशन मैनेजन अंशिका लड़कों से बड़े मीठी बोली पहले फंसाती थी बाद में जब इसे बेरोजगार युवाओं ग्राहक सेवा के खोलने के इस 25000 हजार का चेक दे देते थे तो यह महिला फोन नहीं उठाती थी। और युवाओं को बड़े गर्म मिजाज में धमकी थी। इस महिला की तार वहॉ की स्थानीय पुलिस से जुड़े होने की खबर है पुलिस शिकायतकर्ताओं को अश्वासन देती थी तुम्हारा पैसा वापस कर दिया जायेगा ठीक उससे पहले अंशिका नाम की महिला हजारों युवाओं से करोड़ों रूपये लेकर फरार है।
(MOREPIC2)
डिजिटल फाउन्डेशन नाम की यह कम्पनी अब हजारों लोगों को ठगी का शिकार बना चुकी है लेकिन लखनऊ पुलिस शिकायत के बाद भी कार्यवाही से कतरा रही है। आपकों बता दें कि डिजिटल फाउन्डेशन नाम की कम्पनी के मालिक गजेन्द्र सिंह और नीतू सिंह है।

(MOREPIC3) 

इस तरह शुरू की संगठित ठगी
आपको बता दें कि डिजिटल फाउन्डेशन कम्पनी का एक बकाया बेबसाइट, मोबाइल अप्लीकेशन टोलफ्री नम्बर कम्पनी का टेड मार्क आई एसओ का प्रमाण पत्र संख्या जिससे देश के बेरोजगार विश्वास में आ जाते थे। और ग्राहक सेवा केन्द्र डिजिटल सेवा लेने के बैंक मित्र के साइट पर आवेदन करते थे। महिला कर्मचारी द्वारा आवेदक को लखनऊ के गाजीपु थाना क्षेत्र इन्द्रा नगर प्राइम प्लाजा के ऑफिस नम्बर 410 में जाते थे जहॉ चेक द्वारा कम्पनी के नाम डिजिटल सेवा देने के लिए 25000 रूपये वसूल किए जाते थे। आपको बता दें कि डिजिटल फाउन्डेशन नाम की कम्पनी युवाओं को ठगी शिकार बनाती रही है और सब सब इन्द्रानगर पुलिस के नाक नीचे होती रही है ।

Have something to say? Post your comment

More in National

परिवहन मंत्री को बधाई देते हुए देविंदर नागर।

आज रोटरी क्लब फरीदाबाद एनआईटी ने अखिल भारतीय मानव कल्याण ट्रस्ट के सहयोग से शिव मंदिर, चावला कॉलोनी में रक्तदान शिविर का कार्य संपन्न किया गया

स्थानीय सेक्टर -12 के हेलीपैड मैदान पर वीरवार को 5वे अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस योगा दिवस की फाइनल रिहर्सल आयोजित की गई

अटॅमबर्ग ने दिल्ली एनसीआरप के लोगों के लिए वाईफाई, लएलेक्सा और गूगल होम से संचालित होने वाले स्मार्ट पंखे पेश किए

भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष सचिन ठाकुर ने अनाथ आश्रम के बच्चों को फिल्म दिखा कर मनाया जन्मदिन

मनोहर सरकार ने जनहित की योजनाओं और सुशासन की बदोलत जीता जनता का दिल : डॉ. गणेश दत्त

उद्योग मंत्री विपुल गोयल के बड़े भाई विनोद गोयल ने बसों को हरी झंडी दिखा कर हरिद्वार के लिए रवाना किया।

करनाल में सेब का बगीचा देखकर हैरान :-उद्योग मंत्री विपुल गोयल

सीमा त्रिखा ने पोलियो ड्राप पिलाकर पल्स पोलियो अभियान का किया शुभारंभ।

भगवान जगन्नाथ जी के मंदिर में कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने फीता काट कर नए लिफ्ट का शुभारंभ किया,।