Tuesday, June 25, 2019
 
BREAKING NEWS
लुप्त हुए "तरावड़ी गेट' और 'बाजारी गेट' कुछ हिस्सा बचने पर ऐतिहासिक करनाली गेट का होगा पुन: निर्माणइंडिया टीम में तेज गेंदबाजी कर परचम लहराऐगा तरावड़ी का नवदीप सैणीनशा मुक्ति दिवस पर 26 जून को सैमिनार, बुद्धिजिवी वर्ग तथा सामाजिक संस्थाए करेंगी प्रतिभागी प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना लागू ,गरीब व्यक्ति को भी आर्थिक लाभ मिलेगा -डीसी दीपेंद्र को हरियाणा कांग्रेस प्रधान बनवाने के लिए बड़ी ताकतें हुई लामबंद,कांग्रेस के आधा दर्जन बड़े नेता कर रहे सामूहिक प्रयासनगर परिषद कैथल के सफाई कर्मचारियों ने सर्वसम्मति से अंगूरी देवी को चुना प्रधान पत्रकार संघ के प्रदेशाध्यक्ष बने तरावड़ी के संजीव चौहानलाड़वा हल्के मे मल्टीपल खेल स्टेडिरूम बनवाना होगा प्राथमिकता : संदीप गर्गमुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व मे लाड़वा हल्के ने छुए विकास के नए आयाम : पवन सैनी भाजपा विधायक ने मंत्री के सामने लगाए एसपी मुर्दाबाद के नारे

Haryana

कैथल-आधी-अधूरी व्यवस्थाओं में सम्पन्न हुआ 14 दिवसीय धार्मिक फल्गु मेला

October 10, 2018 03:44 PM
कृष्ण प्रजापति की रिपोर्ट

कैथल-आधी-अधूरी व्यवस्थाओं में सम्पन्न हुआ 14 दिवसीय धार्मिक फल्गु मेला

प्रशासन का दावा - सभी इंतजाम पूरे थे, लेकिन श्रद्धालुओं ने कहा कि अबकी बार कमियां बहुत थी

सोमवती अमावस्या न होते हुए भी मेले का हुआ था आयोजन : रणदीप आर्य

कैथल, 09 अक्टूबर (कृष्ण प्रजापति): गत 25 सितंबर से शुरू हुए विश्व प्रसिद्ध फल्गु मेले का आज दोपहर को समापन हो गया। मेले के दौरान जहां जिला प्रशासन सौ प्रतिशत पूरे इंतजाम का दावा करता रहा लेकिन श्रद्धालुओं की तरफ से आधी अधूरी व्यवस्था के आरोप सामने आए। मेले के दौरान अनेक प्रकार की खामियां नजर आई जिनका विभिन्न समाचारों के माध्यम से जिला प्रशासन तक पहुंचाने का प्रयास भी किया लेकिन जिला प्रशासन कमियों को दूर करने के दावे करता रहा और अधिकारी मेले के बाद भी निर्माण कार्यो को पूरा करने का हवाला देते रहे। श्रद्धालुओं को कीचड़ भरे रास्तों से, धूल भरी सड़कों से व अंधेरी गलियों से होकर गुजरना पड़ा। इस मेले के दौरान जहां 120 बच्चे, महिलाएं और बुजुर्ग अपने परिजनों से बिछड़े व मिले तो वहीं इस मेले में दर्जनों लोगों की बाइकें भी चोरी हुई और कई श्रद्धालुओं के कपड़े, पर्स और मोबाइलो पर भी चोरो ने खूब हाथ की सफाई दिखाई। पुलिस प्रशासन द्वारा सुरक्षा के अनेक पुख्ता इंतजामों के बावजूद चोरी, मारपीट, शराब बिक्री की घटनाएं होती रही। बात करें अगर सुरक्षा व्यवस्था की तो मनोरंजन स्थल पर शाम होते ही शराबियों का जमावड़ा शुरू हो जाने लगा था और लगभग 11 बजे तक शराबियों को हल्का पुलिस बल प्रयोग करके खदेड़ा जाता रहा। अनेक शराबियों द्वारा मेले में उत्पात मचाने के मामले भी सामने आए, जिस पर तुरंत पुलिस द्वारा कंट्रोल भी किया गया। मेले में श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिहाज से बल्लियां लगाई गई थी लेकिन नालियों के इंतजाम सही नहीं किए गए थे जिसके कारण नालियों का गंदा पानी सड़कों पर गुजर रहा था और गंदे पानी से श्रद्धालुओं को गुजरना पड़ा। गत 1 अक्टूबर को मेले के दौरान हुए हादसे (जिसमें जाजनपुर निवासी 16 वर्षीय बच्चे (जसविंदर) की मौत हो गई थी, उसके बाद प्रशासन ने घाटो पर बैरिकेट्स लगा दिए थे ताकि कोई व्यक्ति गहरे पानी में छलांग ना लगा सके। महिला घाटों पर पुलिस बल की भी तैनाती की गई थी। मेले में श्रद्धालुओं ने जहां श्रद्धा, श्राद्ध, तर्पण, स्नान आदि किया तो वहीं अब की बार मनोरंजन को लेकर मेले में श्रद्धालुओं की संख्या अधिक रही। सांग, सांस्कृतिक कार्यक्रमों, सपेले, बिन सारंगी वादकों आदि द्वारा मेले में आये श्रद्धालुओं का मनोरंजन किया गया।

(MOREPIC1) 

बॉक्स--मेले में सीएम मनोहर लाल खट्टर के आगमन की पूरे श्रद्धालुओं में चर्चा रही लेकिन अमावस्या के दिन तक भी सीएम नहीं आए थे। हलका विधायक प्रो० दिनेश कौशिक, लोकसभा सांसद राजकुमार सैनी, डीसी, एसपी, मान० हरियाणा पंजाब हाईकोर्ट के जज, अनेक अधिवक्ताओं ने वीआईपी घाट पर स्नान व पूजा अर्चना की।

(MOREPIC2) 

बॉक्स--- ग्रामीण रणदीप आर्य फरल ने अबकी बार लगे फल्गु मेले को लेकर बताया कि यहां फल्गु मेला श्राद्ध में अश्वनी मास की कृष्ण पक्ष की सोमवती अमावस्या को होता है लेकिन अब की बार जिला प्रशासन द्वारा आनन-फानन में, अपनी मनमर्जी के चलते मेले का आयोजन करवाया, कई ग्रामीणों ने विरोध इसलिए नहीं किया क्योंकि मेले के कारण गांव में विकास कार्य हो जाते हैं लेकिन सोमवती अमावस्या वर्ष 2012, वर्ष 2015 के बाद 2028 में आयोजित होती है, इसलिए 2018 में मेला बनता ही नहीं था लेकिन फिर भी प्रशासन द्वारा मेले का आयोजन किया गया, जिसको लेकर रणदीप आर्य फरल ने जिला प्रशासन पर अनेक गंभीर आरोप भी लगाए हैं। चाहे कुछ भी हो फल्गु मेला 2018 श्रद्धालुओं के लिए फिर से अनेक यादें छोड़ गया है। श्रद्धालुओं ने जोश से अलविदा फल्गु मेला कहा।

Have something to say? Post your comment

More in Haryana

लुप्त हुए "तरावड़ी गेट' और 'बाजारी गेट' कुछ हिस्सा बचने पर ऐतिहासिक करनाली गेट का होगा पुन: निर्माण

भाजपा को लोकसभा चुनावों में मिली भारी जीत को लेकर गांव गुमथला गढू में कार्यक्रम आयोजित

भाजपा नेता संदीप ओंकार ने बार्बर सम्मान समारोह का किया आयोजन संत शिरोमणी श्री सैन महाराज ने मानवता को त्याग अहिंसा व प्रेम का दिया संदेश

अंतरराष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस पर किया गया जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन

नशा मुक्ति दिवस पर 26 जून को सैमिनार, बुद्धिजिवी वर्ग तथा सामाजिक संस्थाए करेंगी प्रतिभागी

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना लागू ,गरीब व्यक्ति को भी आर्थिक लाभ मिलेगा -डीसी

नगर परिषद कैथल के सफाई कर्मचारियों ने सर्वसम्मति से अंगूरी देवी को चुना प्रधान

पत्रकार संघ के प्रदेशाध्यक्ष बने तरावड़ी के संजीव चौहान

भाजपा विधायक ने मंत्री के सामने लगाए एसपी मुर्दाबाद के नारे

नए-नए कानून योजना तुरंत बणा दिए तैयार तनै,हरियाणा में ठाठ ला दिए बीजेपी सरकार तनै-डीपीआरओ