Wednesday, June 26, 2019
 
BREAKING NEWS
1500 रूपये लेकर MLA के फर्जी लैटर पैड पर आधार कार्ड बनाने वाले 6 गिरफ्तारतरावड़ी प्रशासन नही गंभीर, समाजसेवियों के भरोसे गौ-रक्षाजरूरत के हिसाब से पानी का करें प्रयोग : सूर्या सैनीजनता ने भाजपा को फिर से प्रदेश मे सत्ता सौंपने का बनाया मन : पवन सैनीलुप्त हुए "तरावड़ी गेट' और 'बाजारी गेट' कुछ हिस्सा बचने पर ऐतिहासिक करनाली गेट का होगा पुन: निर्माणइंडिया टीम में तेज गेंदबाजी कर परचम लहराऐगा तरावड़ी का नवदीप सैणीनशा मुक्ति दिवस पर 26 जून को सैमिनार, बुद्धिजिवी वर्ग तथा सामाजिक संस्थाए करेंगी प्रतिभागी प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना लागू ,गरीब व्यक्ति को भी आर्थिक लाभ मिलेगा -डीसी दीपेंद्र को हरियाणा कांग्रेस प्रधान बनवाने के लिए बड़ी ताकतें हुई लामबंद,कांग्रेस के आधा दर्जन बड़े नेता कर रहे सामूहिक प्रयासनगर परिषद कैथल के सफाई कर्मचारियों ने सर्वसम्मति से अंगूरी देवी को चुना प्रधान

Entertainment

जर्मनी के कलाकारों के मुख से भी निकला एंडी हरियाणा

October 28, 2018 06:35 AM
राकेश शर्मा

जर्मनी के कलाकारों के मुख से भी निकला एंडी हरियाणा
हरियाणा की कला संस्कृति व क्राफ्ट को सांझा करने के लिए आप सभी का थैंक्यू: लिज़ा फ्रेंक
राम-राम हरियाणा, गज़ब हरियाणा, एंडी हरियाणा: मोनिका आकिम
जर्मनी की कलाकार लिज़ा फ्रेंंंक ने की हरियाणवी संस्कृति की प्रशंसा, हरियाणवी संस्कृति को जानने के लिए रत्नावली के अपणी बात के मंच पर जर्मनी के कलाकार, कलाकारों को रत्नावली के विशेष अंग वस्त्र से किया सम्मानित
कुरुक्षेत्र, 27 अक्टूबर। राकेश शर्मा
जर्मनी के कलाकारों के मुख से भी एंडी हरियाणा के बोल निकले। इन शब्दों को सुनकर हरियाणा की युवा पीढ़ी में भी पूरा जोश भर आया और जर्मनी के कलाकारों के सुर में सुर मिलाया।कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में शनिवार को राज्य स्तरीय रत्नावली महोत्सव के अपणी बात के मंच पर जर्मनी से हरियाणा की संस्कृति को जानने के लिए विशेष कलाकारों के एक विशेष दल को आमंत्रित किया गया। इस मंच पर अपने मन की बात को सांझा करते हुए लिज़ा फ्रेक ने कहा कि यह उनका सौभाग्य है कि हरियाणवी संस्कृति के महाकुंभ में आने के साथ-साथ हरियाणवी संस्कृति के जीवन्त पहलुओं को देखने का अवसर मिला। यह क्षण उनके लिए सुनहरे पल होंगे और हरियाणा प्रदेश की संस्कृति अपने आप में बेमिसाल है। अगर अवसर मिला तो एक बार फिर से रत्नावली को देखने के लिए कुरुक्षेत्र की पावन धरा पर पहुंचेंगे। इतना ही नहीं जर्मनी के कलाकारों के शिष्टमंडल में मोनिका आकिम, माईके निशायन, अन्ने ग्रोसे, टिल मैन, डेविड ने भी हरियाणवी संस्कृति के वाद्य यंत्र ढोल, नगाडे, बीन, बांसुरी की धुन सुनकर अपने आपको गौरवान्वित महसूस किया।डीवाईसीए के निदेशक प्रो. तेजेन्द्र शर्मा ने कहा कि हरियाणा सरकार के विशेष प्रयासों से संस्कृति के आदान-प्रदान करने के उद्ेदश्य से ही जर्मनी के कलाकारों का एक शिष्ट मंडल रत्नावली महोत्सव में पहुंचा है। यह महोत्सव कलाकारों को खूब भाया। धरोहर के क्यूरेटर डॉ. महासिंह पूनिया ने मेहमानों का स्वागत करते हुए कहा कि जर्मनी से कलाकारों का रत्नावली के अपणी बात के मंच पर पहुंचना अपने आप में एक अनूठा अनुभव है। इन कलाकारों से रत्नावली महोत्सव की भी शान बढ़ी है।इस कार्यक्रम के अंत में डीवाईसीए के निदेशक प्रो. तेजेन्द्र शर्मा, उप-निदेशक डॉ. हितेन्द्र त्यागी व डॉ. महासिंह पूनिया ने जर्मनी के कलाकारों को अंग वस्त्र देकर सम्मानित किया।

Have something to say? Post your comment

More in Entertainment

ये मर्द बेचारा फिल्म की फरीदाबाद में हो रही शूटिंग

शाहाबाद- निजी अस्पताल में चल रहा था सेक्स रैकेट, कई पकडे गए

68 साल के बुजुर्ग के साथ 19 साल की लड़की पकड़ी

म्यूजिक जगत में खास पहचान बनाने के लिए उसकी बारीकियों को जानना जरूरी : वर्मा

मौसी ने अपनी ही भांजी के साथ करवाया दुष्कर्म

छोड़ा खुला कैमरा, आकर देखा तो दोस्त के साथ पत्नी का दिखा अतरंग वीडियो

महिला आयोग ने देह व्यापार के रैकेट का किया भंडाफोड़, चार नाबालिग लड़कियां मुक्त कराईं

सोनू सिंह के सौजन्य हुआ होली मिलन समारोह, पहुंचे कई दलों के राजनीतिक दिग्गज

राजौंद -पुलिस कर्मी महिला से साथ मिले आपत्तिजनक अवस्था में , ग्रामीणों ने जमकर की धुनाई

बिना दहेज केवल 1 रुपया लेकर भाजपा नेत्री के बेटे ने कर ली शादी