Tuesday, June 25, 2019
 
BREAKING NEWS
नगर परिषद कैथल के सफाई कर्मचारियों ने सर्वसम्मति से अंगूरी देवी को चुना प्रधान पत्रकार संघ के प्रदेशाध्यक्ष बने तरावड़ी के संजीव चौहानलाड़वा हल्के मे मल्टीपल खेल स्टेडिरूम बनवाना होगा प्राथमिकता : संदीप गर्गमुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व मे लाड़वा हल्के ने छुए विकास के नए आयाम : पवन सैनी भाजपा विधायक ने मंत्री के सामने लगाए एसपी मुर्दाबाद के नारेये मर्द बेचारा फिल्म की फरीदाबाद में हो रही शूटिंगअमेठी में पंचायत उपचुनाव को लेकर बजा बिगुल, डॉ योगेश कुमार बनाये गये बाजार शुक्ल चुनाव अधिकारीशाहाबाद- निजी अस्पताल में चल रहा था सेक्स रैकेट, कई पकडे गए नए-नए कानून योजना तुरंत बणा दिए तैयार तनै,हरियाणा में ठाठ ला दिए बीजेपी सरकार तनै-डीपीआरओ युवा चेहरों को मौका मिला तो बदल जाऐंगे राजनीति के मायने

Literature

मदहोश होकर लोग हुए आउट आफ कंट्रोल हरिनाम संकीर्तन में

January 19, 2019 06:28 PM
प्रवीण कौशिक

 मदहोश होकर लोग हुए आउट आफ कंट्रोल हरिनाम संकीर्तन में
परिवार और समाज को बचाने के लिए श्री मद्भगवत गीता की शरण में जाएं: विष्णु कृष्ण दास
करनाल , प्रशांत प्रवीण
देश प्रांत और रंग की सीमाएं तोड़ कर भगवान कृष्ण के हरिनाम संकीर्तन में संभी लोग नाचने गाने लगा। यहां नर नारी और बच्चे भक्ति में इस कदर डूब गए कि उन्हें अपना होश ही नहीं रहा। बिना घुंघरू के सभी नाचने लगे। इन लोगों में सात समंदर दूर अमरीेका, रूस और यूक्रेन के साथ अन्य देश की बिदेशी महिलाएं भी शामिल थी। जो भगवान कृष्णकी इस कदर दीवानी हो गई कि उन्होंने अपना घरवार छोड़ कर अपने आपको भगवान कृष्ण के हवाले कर दिया। दृष्य था प्राकृतिक चिकित्सकडा. हरिओम गोयल के निवास पर संकीर्तन का । यहां पर समाजसेवी जय नारायण गोयल के साथ इस्कान के श्री मदभगवत के कथावाचक विष्णु कृष्ण दास तथा उनकी टीम मौजूद थी। उन्होंने जिस तरह से संकीर्तन में समा बांधा उससे लोग झूम उठे। कथावाचक विष्णु कृष्ण दास ने कहा कि आज हरिनाम संकीर्तन में सभी समस्याओं का हल छिपा हुआ है। तनाव और डिप्रेशन भी इससे दूर होता हैं। भगवान श्री कृष्ण की भक्ति को समर्पित इस संकीर्तन की डोर में बंध कर सात समंदर पार से युवक युवतियां अपनों को छोड़ कर कृष्ण के धाम में आ रही हैं। उन्होंने कहा कि आज बच्चों को धार्मिक संस्कारों की जरूरत हैं। बच्चों में इसका अभाव उन्हें अपनों से दूर कर रहा है। आज माता पिता को ओल्ड एज हाम में भेज रहे हैं। परिवार टूट रहे हैं। नफरत और दुश्मनी समाज को तोड़ रही हैं परिवार टूट रहे हैं। इस स्थिति में बच्चों को परिवार की तरफ लौटना होगा। उन्होंने साफ किया कि देश को आज भगवान कृष्ण के बताए मार्ग पर चलने की जरूरत ळैं। उन्होंने कहा कि आज से 550 साल पहले भगवान चेतन्य प्रभु महाराज ने संकीर्तन को जन्म दिया। 79 साल पहले प्रभुपाद जी महाराज ने इसकान की स्थापना की। आज इस्कान के माध्यम से देश ही नहीं समूचे संसार में भगवान कृष्ण को समर्पित हरिनाम संकीर्तन की गूंज उठ रहीं है। उन्होंने कहा कि भगवान श्री कृष्ण राजनीति और कूटनीति के सबसे पहले खिलाड़ी थे। उनसे बड़ा राजनेता और कूटनीति का रचियता कोई दूसरा पैदा नहीं हुआ। यहां पर यूक्रेन रूस और नेपाल से पहुंचीं विदेशी भक्त महिलाओं ने कहा कि वह तो श्यम के रंग में रंग गई है। उन्होंने अपने आपको श्री मदभागवत गीता को समर्पित कर दिया है। इस अवसर पर जय नारायण गोयल ने बताया कि राम मंदिर में श्री मदभगवत कथा चल रही है। यहां पर भी लोग भक्ति की तरफ अग्रसर हो रहे हैं।

Have something to say? Post your comment

More in Literature

जवान लड़कियां संन्यास लेती हैं तो आप उन्हें मां क्यों कहते है?

मिश्रित फल देगा नव विक्रम सम्वत-2076, होंगे राजनैतिक परिवर्तन मिथुन, तुला और कुम्भ राशि और लग्न वालों को लाभ होगा

सिद्ध श्री बाबा बालक नाथ जी प्रचार समिति फरीदाबाद भजनो भरी शाम बाबा जी के नाम का आयोजन किया

सरस्वती अन्नपूर्णा भण्डारा सेवा समिति द्वारा सरस्वती मंदिर मे भंडारे का आयोजन किया

पिहोवा-पितरों की आत्मिक शांति के लिए सरस्वती तीर्थ पर पहुंचने लगे श्रद्धालु

6 अप्रैल से परिधावी नामक नवसंवत 2076 एवं चैत्र नवरात्रि आरंभ

होली आई रे .... होलिका दहन, 20 मार्च की रात्रि 9 बजे के बाद, रंग वाली होली 21 को।

गुरू मां सम्मेलन में मिलती है अनोखी अलौकिक शक्तियां : सुरेंद्र पंवार

खाटू श्याम में बाबा का मेला शुरू, श्याममय हुआ समूचा क्षेत्र, प्रतिदिन गुजरने लगे है श्याम प्रेमियों के जत्थे

शीश के दानी का सारे जग में डंका बाजे ने देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी एक अलग पहचान बनाई - लखबीर सिंह लख्खा