Thursday, August 22, 2019
 
BREAKING NEWS
हिसार जिले के नेता राजनीति मे शिखर पर पहुंचे।भगवान श्री कृष्ण के देश में प्लास्टिक और कचरा खाने पर मजबूर गायें?पुंडरी विस से टिकट वितरण में भाजपा ने गड़बड़ी की तो भुगतना पड़ सकता है बड़ा अंजाम पुंडरी विस से टिकट वितरण में भाजपा ने गड़बड़ी की तो भुगतना पड़ सकता है बड़ा अंजाम सुरेंश सैनी प्रधान तो रामऋषि सैनी बने पेक्स रामसरन माजरा के उप प्रधानगीता स्कूलों की शिक्षा के क्षेत्र में अलग पहचान : दहियाधर्मबीर बुधवार प्रधान तो निर्मला देवी बनी पैक्स सुनारियां की उप प्रधानलाडवा हल्का जल्द बनेगा पानी बचाने के लिए नंबर वन : पवन सैनीलाडवा से इनैलो का विधायक बनने पर होंगे महिलाओं के सपने पूरे : बड़शामीजोहड़ का पानी जहरीला होता जा रहा है, 10 साल से लगातार सभी के सामने गिड़गिड़ा चुके हैं, नहीं कोई सुनवाई

Fashion/Life Style

जींद प्रशासन ने रूकवाई नाबालिग लडके की शादी

January 21, 2019 06:20 PM
सन्नी मग्गू
जींद प्रशासन ने रूकवाई नाबालिग लडके की शादी
सन्नी मग्गू
जींद, 21 जनवरी
जिले के दिरोली खेडा गांव से बारात लेकर निकले दुल्हे की उम्र कम निकली जिसके बाद शादी रदद करनी पडी। इस शादी में दुल्हे की उम्र मात्र 15 वर्ष पाई गई। विभाग द्वारा परिजनों से लिखित में लडक़े  के बालिग होने तक शादी नहीं करवाने का ब्यान लिया गया। मामला जिले के कालवन गांव से सामने आया जहां जिला महिला संरक्षण एवं बाल विवाह निषेध अधिकारी सुनीता शर्मा को गुप्त सूचना मिली थी कि दिरोली खेडा गांव से एक लडक़े  की बारात कालवन गांव में पहुंच चुकी है जिसमें दुल्हा बनकर आया लडका नाबालिग है। सूचना मिलते ही सहायक बाल विवाह निषेध अधिकारी रवि लोहान, एएसआई राजबीर सिंह, महिला कांस्टेबल रेनू, नीलम देवी, एसपीओ सुरेशकुमार टीम के साथ मौके पर पहुंचे तो पाया कि लडक़े  की बारात आई हुई थी और सगाई की तैयारी चल रही थी। इस पर टीम ने लडक़े  के जन्म से संबंधित कागजात मांगे तो दिरोली खेडा से आई बारात में हडकँप मच गया। मौके पर लडके पक्ष के पास कोई कागजात नहीं मिला 
तो तीन घंटे बाद मोबाईल पर व्हाटसप के माध्यम से लडके के घर से कागजात मंगवाए गए तो उसमें लडके की उम्र मात्र 15 वर्ष मिली। इस पर टीम ने शादी न करने के लिए दोनों पक्षों को समझाया गया कि वह लडक़े के 21 वर्ष की उम्र पूरी होने के बाद ही उसकी शादी करें अन्यथा उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कानूनी कार्रवाही की जाएगी। इस पर दोनों परिवार सहमत हो गये और शादी को स्थगित कर दिया गया। इसके बाद परिजनों ने लिखित ब्यान दर्ज करवाए कि लडक़े के पिता की मौत हो चुकी है और उसकी माँ ज्यादातर बीमार रहती है और उनको किसी तरह के कानून की जानकारी ना होने के कारण वह गलती से ऐसा कर रहे थे लेकिन अब वह अपने लडक़े के बालिग होने पर ही उसकी शादी क रेंगे। इसके बाद दिरोली खेडा गांव से आई बारात बिना दुल्हन के ही वापिस गाँव लौट गई।

Have something to say? Post your comment

More in Fashion/Life Style

उडान हौसलों की फाउंडेशन की राष्ट्रीय अध्यक्षा की अध्यक्षता में बैठक आयोजित

किसी पहचान के मोहताज नही है परगट सिंह

ट्रिपल तलक आस्था नही, अधिकारों की लड़ाई है ।

पहली बार उसे रंडी बोला गया ! समाज़ की एक घटिया सोच जो सोचने पर विवश कर दे

भारत में सेल्फी के लिए दांव पर लगती है अनमोल जिंदगियां

अनुराधा गुप्ता ने नरेंद्र मोदी के लिए अविस्मरणीय यादें समेटी

गुड़गांव के सेक्टर 29 सुशांत लोक में kraantz आर्ट गैलरी

NATIONALITIES ADD COLOR, CULTURAL TEXTURES, HOOSIER INTERNATIONAL SPIRIT TO THE 2019 IPL 500 FESTIVAL PARADE

विधवा थी पर श्रृंगार ऐसा कर के रखती थी कि पूछो मत , पूरी कॉलोनी में उनके चर्चे थे

कक्षा 5 की क्लास टीचर थी ,कक्षा मे आते ही हमेशा "LOVE YOU ALL" बोला करतीं थी