Saturday, August 24, 2019
 
BREAKING NEWS
अर्ली स्टेप प्री स्कूल में छोटे-छोटे बच्चों के साथ भाविप लाडवा ने मनाई जन्माष्टमीबाबैन में चोरों ने सैनेटरी की दुकान पर किया हाथ साफसंदीप गर्ग ने किया डायरिया ग्रस्त गांव का दौरासिवानी तहसील को हिसार जिले में शामिल करने की मांग को लेकर पाचवे दिन भी धरना जारी।"जूतम पजार" 'थप्पड़' और 'ठुमके' भाजपा के लिए खतरे की घंटी,कैथल और कुरुक्षेत्र जिलों का मिजाज दे गया चेतावनी घरौंडा में जन आशीर्वाद यात्रा का हुआ भव्य स्वागत, स्वागत के लिए उमड़े शहर व गांव के लोग, गद गद नज़र आये विधायक कल्याणभारत के धार्मिक उत्सवों से समुचा विश्व प्रभावित : डॉ. पवन सैनीकिसानों की आमदनी दोगुनी करने के दावे को हकीकत बनाना बेहद कठिन : दहियावातावरण को स्वच्छ रखने के लिये करें पौधारोपण : बड़शामीहिसार जिले के नेता राजनीति मे शिखर पर पहुंचे।

Rajasthan

हत्या के मुकदमे में मुझे साजिशन नाजायज फंसाया: अकबर खान

February 09, 2019 04:58 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

हत्या के मुकदमे में मुझे साजिशन नाजायज फंसाया: अकबर खान
सद्भावनानगर में स्थित नशामुक्ति केन्द्र में युवक की संदिग्ध मौत के मामले में आया नया मोड़
श्रीश्याम नशामुक्ति एवं पुनर्वास केन्द्र के संचालक का दावा
श्रीगंगानगर, 9 फरवरी। ग्राम पंचायत साहूवाला में स्थित अनमोल नशामुक्ति एवं पुनर्वास केन्द्र में एक मरीज की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत के मामले में बेशक पुलिस ने अदालत के इस्तागासा के आधार हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया हो, लेकिन इस मामले में अब नया मोड़ आ गया है। इस मामले में एक ऐसे व्यक्ति को भी नामजद किया गया है, जिसका उक्त प्रकरण से दूर-दूर का वास्ता नहीं है। यह खुलासा मुकदमे में नामजद और श्री श्याम नशामुक्ति एवं पुनर्वास केन्द्र के संचालक अकबर खान ने आज एक वक्तव्य जारी करते हुए किया। अकबर खान ने कहा कि उनकी श्री श्याम नशामुक्ति एवं पुनर्वास केन्द्र के नाम से अलग संस्था है, जबकि जिस युवक की मौत नशामुक्ति केन्द्र में हुई है, वह अनमोल नशामुक्ति केन्द्र अलग है। उन्होंने कहा कि ना तो वे अनमोल नशामुक्ति एवं पुनर्वास केन्द्र के प्रबंधकों में शामिल है और ना ही स्टाफ में। जिस दिन युवक की मौत हुई थी, उस दिन भी वे संस्था अथवा संस्था के पदाधिकारियों व स्टाफ के संपर्क में नहीं थे। श्री खान ने कहा कि युवक की मौत नशा नहीं मिलने के कारण हुई अथवा उसको यातनाएं दी गई, इससे उनका व श्री श्याम नशामुक्ति केन्द्र का कोई लेना-देना ही नहीं है। खान के मुताबिक मुकदमे में बेवजह नामजद करके उनकी संस्था को बदनाम करने की साजिश रची गई हो सकती है। यह भी हो सकता है कि गलतफहमी या फिर गलती से उन्हें इस मामले में घसीटा गया है। अकबर खान ने पुलिस से भी आग्रह किया है कि वे इस मामले की निष्पक्ष रूप से जांच करे और दोषियों के खिलाफ कार्यवाही करे और उनका नाम इस मुकदमे से हटाया जाए। साथ ही पुलिस पर विश्वास जताते हुए श्री खान ने विश्वास दिलाया कि पुलिस की जांच-पड़ताल में वे निर्दोष साबित होंगे। उन्होंने कहा कि श्रीश्याम नशामुक्ति एवं पुनर्वास केन्द्र एक खुली किताब है, जिसमें चिकित्सीय व अध्यात्मिक पद्धति व योग से लोगों को नशे से छुटकारा दिलाकर उन्हें जीवन की मुख्य धारा से जोड़ा जाता है।

Have something to say? Post your comment

More in Rajasthan

#राजस्थान विधानसभा में पत्रकारों पर लगी पाबंदी, नाराज #पत्रकार धरने पर बैठे

‘मैं गधा हूं, मूर्ख हूं’

लोकसभा आम चुनाव 2019 प्रति उम्मीदवार अधिकतम 70 लाख की राशि खर्च कर सकेंगे

राजस्थान -पीएम किसान सम्मान निधि योजना की हुई शुरूआत

केन्द्रीय मंत्री निहालचंद, पूर्व मंत्री जोगेश्वर गर्ग सहित 17 को हाईकोर्ट का नोटिस

युवक को पेड़ से बांधकर जमकर पिटाई की

निर्माण विकास कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देवेंः- शिक्षा राज्यमंत्री

जिला न्यायाधीश ने किया जेल का निरीक्षण

सरजूदास महाराज बने अखिल भारतीय संत समिति के प्रदेशाध्यक्ष

शादी समारोह से लौटते वक्त कार और वैन में भिड़ंत, 12 लोगों की मौत