Friday, May 24, 2019
BREAKING NEWS
बड़े बड़े राजनीतिक धुरंधर हुए धराशाही , राहुल और प्रियंका भी कांग्रेस का काँटा निकालने से नहीं बचा पाए 23 मई को जन्मे बच्चे का नाम रखा मोदीअशोक अरोड़ा ने अपने पद से दिया त्यागपत्रसिवानी मण्डी के किसानों ने फसलों के भुगतान की मांग की।पुतिन से लेकर ट्रंप तक, हर देश ने दी PM मोदी को बधाईभाजपा प्रत्याशी संजय भाटिया करीब 6 लाख 56 हजार 142 मतों से हुए विजयी* मतगणना शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न: जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त विनय प्रताप सिंहभाजपा के नवनिर्वाचित सांसद नायब सैनी ने कैथल में कार्यकर्ताओं के साथ मनाया जश्नजनता ने की भाजपा की नीतियों मे कि आस्था व्यक्त : सुर्या सैनीजनता ने प्रदेश सरकार व केन्द्र सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों पर लगाई अपनी मोहर : सुरेश कश्यपपरिवारवाद हारा,जनता जीती -मनोहर लाल

Political

कुलदीप प्रकरण के बाद अब सोशल मीडिया ने करवाया भाजपा-इनेलो का चुनावी गठबंधन!

March 15, 2019 09:01 PM
ईश्वर धामू

कुलदीप प्रकरण के बाद अब सोशल मीडिया ने करवाया भाजपा-इनेलो का चुनावी गठबंधन!
पार्टी के अधिकृत प्रतिनिधियों का नहीं आया कोई स्पष्टीकरण
ईश्वर धामु
चंडीगढ़। वर्तमान में समाजिक जीवन को सीधे रूप से प्रभावित करने वाला सोशल मीडिया अब चुनावी समय में अपनी तरह की भूमिका निभा रहा है। सोशल मीडिया पर राजनीति से जुड़ी जानकारी सुबह वायरल होती है और पूरा दिन एक से दूसरे ग्रुप में चलती रहती है। शाम होते होते इस खबर का स्वरूप भी बदल जाता है। पर एक बात सही है कि सोशल मीडिया पर चलने वाली खबर चाहे सच्ची न हो पर वो एक विचार अवश्य छोड़ती है। दो दिन पूर्व सोशल मीडिया पर कुलदीप बिश्रोई के बारे चला कि वें कांग्रेस छोड़ कर भाजपा में जा रहे हैं तो अब सोशल मीडिया ने भाजपा का लोकसभा चुनाव के लिए इनेलो से गठबंधन करवा दिया। सोशल मीडिया पर चल रही खबर के अनुसार भाजपा ने इनेलो को कुरूक्षेत्र और सोनीपत की दो सीटें दी है। इतना ही नहीं इस खबर के अनुसार कुरूक्षेत्र से अशोक अरोड़ा तो सोनीपत से अभय चौटाला के बेटे अर्जुन चौटाला प्रत्याशी होंगे। इस जानकारीै में सच का पूट डालने के लिए यह भी कहा गया है कि मेदांता अस्पताल में ओम प्रकाश चौटाला और अशोक अरोड़ा की राजनाथ सिंह से मुलाकात भी हुई।

 

 

 

 

जबकि इस जानकारी की किसी भी स्तर पर कोई पुष्टी नहीं हो पाई है। वैसे भी सोशल मीडिया की इस जानकारी से एक सवाल यह भी उठता है कि इनेलो का अगर किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन होता है तो वो अपनी सिरसा की परम्परागत सीट कैसे छोड़ देगी? सोशल मीडिया पर तेजी से फैल रही इस जानकारी को लेकर राजनैतिक गलियारों में चर्चाएं अवश्य उठने लगी है। अखबारों के ऑफिसों में जानकारी की पुष्टी के लिए भाजपा और इनेलो नेताओं के फोन आने लगे हैं। चर्चाकारों का कहा है कि अगर यह गठबंधन हो जाता है तो निसंदेह भाजपा-इनेलो को हरियाणा की सभी दसों सीटेें मिल सकती है। इतना ही नहीं यह भी कहा जाने लगा है कि भाजपा और इनेलो अगर मिल जाते हैं तो राजनीति में जातीय सैमीकरण टूट जायेंगे। दूसरी ओर चर्चाकारों का कहना है कि दोनों दलों का एक बड़ा गुट भी यह चाहता हैं कि दोनों पार्टियां मिल कर चुनाव लड़े।

 

 

 

 

परन्तु भाजपा के ऐसे नेता, जिनकी इनेलो सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला से व्यक्तिगत खुनश है, नहीं चाहते कि यह गठबंधन हो? चर्चाकार कह रहे हैं कि भाजपा के ऐसे नेता यह भी दबी जुबान से कह रहे हैं कि ओम प्रकाश चौटाला ने 2014 के चुनाव के बाद एक कद्दावर भाजपा नेता को मुख्यमंत्री नहीं बनने दिया। इन्ही चर्चाओं के बीच भाजपा के एक प्रदेश स्तरीय नेता ने कहा है कि भाजपा किसी के साथ भी चुनावी गठबंधन नहीं करेगी। क्योकि अब भाजपा को हरियाणा की दसों सीटें जीतने के लिए किसी बैशाखी की जरूरत नहीं है। भाजपा नेता का यह भी कहना है कि इनेलो में चुनावी समय में भगदड़ मचने वाली है। इनेलो के कई प्रभावी बड़े नेता अपने लिए सुरक्षित राजनैतिक आशियाना तलाश रहे हैं। इनेलो ने इस सम्भावित भगदड़ को रोकने के लिए सोशल मीडिया पर यह खबर वायरल करवाई है। उन्होने इसे एक राजनैतिक साजीश करार दिया। जबकि एक इनेलो पदाधिकारी का कहना है कि लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा से समझौता अगर होता है तो इससे आने वाले विधानसभा चुनाव की तस्वीर साफ हो जायेगी। हालात चाहे जो भी हों, पर भाजपा या इनेलो की ओर से इस बारे में कोई अधिकारिक स्पष्टीकरण नहीं आया है।

Have something to say? Post your comment

More in Political

भाई किन्ने ही पूछ लियो, बणेगा तो यू मोदी यै : मनोहर लाल

नरेंद्र मोदी का हाथ मजबूत करने का काम प्रदेश की जनता करेगी : रामबिलास शर्मा

सोनीपत बनी सबसे हॉट सीट, राजनीति के दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर

श्रुति चौधरी के नामांकन पर उमड़ी भीड़ ने बदले राजनैतिक समीकरण

कृष्णपाल गुर्जर ने चुनावी सभा में मनमोहन गर्ग को दिया विधानसभा के लिये आशीर्वाद।

उचाना हल्का से अनुराग खटकड़ इनेलो के सबसे मजबूत उमीदवार

चुनावी समय में नेता पहुंचने लगे हैं पंडितों की शरण में जीत के लिए अपना रहे हैं ज्योतिष के टोटकें

चप्पल व झाडू मिलकर करेंगे विपक्षी पार्टियों का सफाया: दुष्यंत चौटाला

हिसार में भाजपा ने अपने पैरों पर मारी कुल्हाड़ी,बृजेंद्र सिंह को टिकट देकर हाथ आई जीत गंवाई

भाजपा की सोच दलित विरोधी: रणदीप सुरजेवाला