Thursday, June 20, 2019
 
BREAKING NEWS
मिशन 2024 पर निकले रणदीप सुरजेवाला,किसान कांग्रेस के जरिए पूरे प्रदेश में समर्थकों को किया एडजैस्टहिमाचल में बस 500 फीट गहरी खाई में गिरी, 28 की मौत; 32 घायलफरीदाबाद की एक और बेटी तनीषा दत्ता ने किया देश का नाम रौशनयोग करता है मन की वृतियों को नियंत्रण में, होती है मानसिक, शारीरिक, अध्यात्मिक स्वास्थ्य की प्राप्ति : आरके सिंहभाजपा आईटी सेल के बनाए ग्रुपों में राजकुमार सैनी के खिलाफ अफवाह चलाने की चर्चाएं !करवाएंगे केस दर्ज : सैनीकैथल खाद्य एवं आपूर्ति विभाग को कैशलेस करने की योजना !कैथल की सरकार पर भ्रष्टाचार मामले में एफआईआर दर्ज होने के बाद भी कोई कार्रवाई न होना बना रहा हास्यास्पद स्थिति !नही चले अयुष्मान कार्ड, बेटे के ईलाज के लिए दर-दर भटक रहे परिजनमर रही थी गाये, न खाने के लिए प्रर्याप्त चारा न की जाती थी देखभाल डीसीआरयूएसटी में एम.एससी. कैमिस्ट्री बना हुआ है टॉप च्वाइस. कैमिस्ट्री में 261 व पीएच.डी में कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग में 85 ने किया आवेदन

Crime

नाबालिग दोषी को कोर्ट ने सुनाई 14 साल की कैद, कहा- बन सकता है अच्छा इंसान

March 16, 2019 05:55 PM
राजकुमार अग्रवाल
 
 
 
नाबालिग दोषी को कोर्ट ने सुनाई 14 साल की कैद, कहा- बन सकता है अच्छा इंसान
कैथल(राजकुमार अग्रवाल )  कैथल में कोर्ट ने हत्या के एक मामले में नाबालिग दोषी को 14 साल की कैद की सजा सुनाई है। 4 अन्य बालिग आरोपी बरी कर दिए गए। कोर्ट ने यह फैसला चार्ज लगने के 45 दिन में सुनाया है। फैसले में कोर्ट ने कहा-दोषी करीब 17 साल का है। उसके पास जीने के लिए लंबी जिंदगी है और वह अच्छा इंसान बन सकता है, इसलिए उसे सुरक्षा दायरे में रखा जाएगा।21 अक्टूबर 2018 को दोस्तों के साथ डेरा बाबा राजपुरी मेले में जा रहे मंदीप के सिर में पाइप और चाकू मारकर हत्या कर दी थी। मंदीप के हमनाम दोस्त (मंदीप पुत्र सुरेश कुमार) की शिकायत पर एक नाबालिग के अलावा पवन, रमन, संदीप व विकास पर हत्या का केस दर्ज हुआ था।
 
 
 
उस वक्त नाबालिग की उम्र 16 साल से ज्यादा थी। दो अलग-अलग ट्रायल चले। बालिग आरोपियों पर इसी साल 18 जनवरी और नाबालिग के ट्रायल में 29 जनवरी को चार्ज लगा था। पवन, रमन, संदीप व विकास के खिलाफ कोई ठोस सबूत नहीं मिले।पीडि़त पक्ष के वकील अशोक कुमार गुप्ता ने बताया कि कोर्ट ने दोषी को 14 साल की सजा सुनाई है। नाबालिग की सोशल बैकग्राउंड पता कराने के लिए बाल कल्याण अधिकारी/सोशल वर्कर की रिपोर्ट मांगी गई थी, जिसमें आरोपी को शरारती तत्वों में लिप्त बताया गया। इसके अलावा उसकी अपराध करने की मंशा पूर्व नियोजित थी। यह रिपोर्ट भी सजा का आधार बनी। नाबालिग की मां गांव में सफाई कर्मी थी। मंदीप ने घर के सामने सफाई करने को कहा था। इसको झगड़ा हुआ था। इसी रंजिश में नाबालिग ने बाबा लदाना में मेले के दिन वारदात को अंजाम दिया।चार्ज लगने के 45 दिन में ही अब एडिशनल सेशन जज हुकम सिंह की कोर्ट ने यह फैसला सुनाया है। अपने फैसले में कोर्ट ने कहा-दोषी करीब 17 साल का है। उसके पास जीने के लिए लंबी जिंदगी है और वह अच्छा इंसान बन सकता है, इसलिए उसे सुरक्षा दायरे में रखा जाएगा और समय-समय पर व्यवहार सुधार की काउंसिलिंग की जाएगी। 21 वर्ष का होने के बाद उसे जेल में शिफ्ट करना होगा। दोषी अपने परिवार पर निर्भर है, इसलिए उसे आर्थिक दंड नहीं दिया गया।
 

Have something to say? Post your comment

More in Crime

शव नग्नावस्था में मिला,बेरहमी से सिर में ईंट माकर हत्या

नैन ट्रैवलस एजेंसी कैथल पर छापामारी क्रिकेट मैच पर सट्टा बुकिंग कर रहे 9 आरोपी काबु

पिस्तौल की नोक पर अपरहण करने के मामले में पुलिस द्वारा 3 आरोपी गिरफ्तार

व्यापारी के नाबालिग बेटे ने कार से नाना-नाती कुचले

पत्नी पर जानलेवा हमला करने वाले राजन अदलक्खा पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज

चोर गिरोह के 4 सदस्यों ने पुलिस रिमांड दौरान चोरी करना कबूला

नौकर की हत्या, ढाबा मालिक गिरफ्तार

दो रुपये के सिक्के से लूट ली एक्सप्रेस, जींद रेलवे लाइन लुटेरों का खौफनाक सच

तरावड़ी शहर में सटोरियों का बाजार, पुलिस बेखबर,पुलिस से लगाई सटोरियों पर शिंकजा कसने की गुहार

हरियाणा के किस पूर्व विधायक को मिली जान से मारने की धमकी