Tuesday, June 18, 2019
 
BREAKING NEWS
श्री अमरनाथ सेवा समिति घरौंडा ने अमरनाथ में प्रतिवर्ष लगने वाले भंडारे के लिए खाद्य सामग्री से भरा ट्रक रवाना किया। दिल्ली में भीड़ ने ACP KG त्यागी को पीटा, ACP ने भागकर बचाई जानदिल्ली पुलिस का हैवानियत भरा चेहरा उजागर,सिख बुजुर्ग को सड़क पर गिरा कर आधा दर्जन पुलिस वालों में गुंडों की तरह पीटारणदीप सुरजेवाला राहुल के सम्पर्क में , हुड्डा के खिलाफ कुलदीप बिश्नोई,और अशोक तंवर की निगाह भी हाईकमान पर टिकीहरियाणा सरकार के प्रोजेक्ट निदेशक रॉकी मित्तल ने कहाएससी वर्ग को बांटने के लिए खट्टर सरकार तैयार,एससी वर्ग को ए और बी वर्गों में बांटना सही है ?शर्तिया लड़का होने की दवाई देने के मामले में सुनाई गई दो दोषियों को सजा व जुर्मानासहायता समूह हेतू ऋण वितरण समारोह का आयोजन किया - आरके सिंहगर्भवती महिला प्रसव पीड़ा से तडपती रही, चिकित्सक हड़ताल से ताकत दिखाते रहेपत्रकार से मारपीट , डीएसपी की मौजूदगी में पुलिस जवानों ने अपनी गलती स्वीकार की

Uttar Pradesh

जिला अस्पताल में पड़पते आदमी की आवाज बनी कमला यादव, लेकिन उसके बाद क्या ?

March 23, 2019 09:12 PM
सुरजीत यादव अमेठी

जिला अस्पताल में पड़पते आदमी की आवाज बनी कमला यादव, लेकिन उसके बाद क्या ?
आधे घण्टे बाद पहुॅची डॉक्टरों की टीम

जिला अस्पताल की कहानी सुनकर हर किसी का दिल मानवीय अनुकम्पा से द्रवित हो उठेगा। और डॉक्टरों की उदासीन रवैया उसे झकझोर देने के लिए काफी होगी। ऐसी ही घटना जिला अस्पताल सुल्तानपुर में घटित हुई जहॉ आग से पूरी तरह जले हुए बेवश आदमी की आवाज कोई नहीं सुनने आया। आखिर कार मानवीय अनुकम्पा की मिशाल कायम करती हुई प्रगतिशील समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी कमला यादव उस वेवश तड़पते हुए आदमी की आवाज बन ही गई। जिसकी आवाज को जिला अस्पताल के डॉक्टर अनुकम्पा नहीं कर सके। आवाज थी एक महिला की साहस भरे समाजसेवी इरादे की आवाज थी। जिसे भला डॉक्टर ने अनुकम्पा क्यों नही किया । डॉक्टरों की उदासीनता को कमला यादव की आवाज ने झकझोर दिया। और आधे घण्टे बाद सोशल मीडिया के माध्यम से उच्चाधिकारियों तक पहुॅचा आवाज ने डॉक्टरों को तड़पते आदमी के इलाज के लिए वेवश कर ही दिया । डॉक्टरों की टीम ने पहुॅच कर उस वेवश आदमी का उपचार करना शुरू कर दिया। यह समाज सेविका कमला याद की बुलन्द आवाज में वेवश पीड़ित की भारी आवाज थी। जिसने डॉक्टरों की मनमानी रवैया को कर्तव्य में बदल कर रख दिया।

आपको बता दें कि जिला अस्पताल सुल्तानपुर के वार्ड नं. 8 में मंझवारा का मूलचन्द्र रैदास पुत्र स्व. बाबूलाल रैदास जो आग से वेहद जल गया था जिसे उसकी मॉ ने भर्ती कराया । लेकिन इस तड़पते युवक की डॉक्टरों ने अपने असंवेदनशील का परिचय देते हुये इलाज नहीं किया। इसकी जानकारी जब प्रगतिशील समाजवादी की पार्टी की लोकसभा प्रत्याशी कमला को हुआ तो वह अपने दल बल के साथ जिला अस्पताल पहुॅच गयी। अस्पताल के उस वार्ड से ही फेसबुक पर लाइव वीडियो बनाया । जिलाधिकारी, मुख्यचिकित्साध्किरी से बात किया उसे बाद तड़पते पीड़ित की डॉक्टरों ने इलाज करना शुरू हुआ। 

अस्पताल प्रशासन की लापरवाही से हुआ युवक की मौत
सुल्तानपुर जिला अस्पताल प्रशासन की लापरवाही रवैया से आखिरकार ये युवक जिन्दगी से जंग लड़ते-लड़ते मर गया। समाज सेवा कमला यादव उच्चाधिकारियों तक पीड़ित युवक की आवाज तो पहुॅचायी लेकिन जिला अस्पताल की लापरवाही रवैया से युवक की मौत हो गयी। अगर सुल्तानपुर जिला अस्पताल के डॉक्टर समय रहते युवक का इलाज करना शुरू कर दिये होते तो उसी जान बच सकती थी। लेकिन डॉक्टरों ने उस तड़पते अनुसूचित जाति के युवक को जिन्दा की मार डाला उस उसकी मॉ जो विधवा है उसके लिए सहारा कौन होगा।

Have something to say? Post your comment

More in Uttar Pradesh

ननकऊ साहू बने ब्लॉक अध्यक्ष, रमेश तिवारी जिला उपाध्यक्ष

साहब : भूमाफिया जबरन कर रहे जमीन पर अवैध कब्जा

संत महंत ने उठाया राम मंदिर निर्माण का मुद्दा, कल बैठक में होंगे कई बड़े फैसले..!!

हादसे में बाल-बाल बचे कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य.

मुंह मे मिट्टी ठूंसकर ग्यारह वर्षीय बालक की हत्या

गुप्तांग पर ईंट बांधकर उसको पूरे गांव और खेतों मे घुमाया मंदबुद्धि बालक को

पूर्व सांसद घर में मृत मिले, जहर से मौत का अंदेशा*

स्मृति ईरानी ने कहा, हत्यारों को मौत की सजा दिलाकर ही दम लेंगे

कई अधिकारियों के निलंबन का फरमान,हाईकोर्ट का यूपी में चल रहे सभी रेड लाइट एरिया बंद करने का आदेश

छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया बरसण्डा गॉव में चुनावी जनसभा को सम्बोधित