Saturday, August 17, 2019
 
BREAKING NEWS
इनैलो को मिल रहा है छत्तीस बिरादरी के लोगों का भरपूर समर्थन : सपना बडशामीशहीद की पत्नी संग जोड़ा भाई-बहन का नाता 18 अगस्त को होने वाली परिवर्तन रैली में लाडवा हल्के से जांएगें हजारों कार्यकत्र्ता : मेवा ङ्क्षसह बाबैन में ऐतिहासिक होगा जन आर्शीवाद यात्रा का स्वागत : रीना देवीखिलाडिय़ों के लिए स्टेडियम व बेटियों के लिए कॉलेज बनवाना होगा प्राथमिकता : गर्गफंस गए भूपेंद्र हुड्डा,कांग्रेस छोड़ने के अलावा नहीं बचा कोई विकल्परॉकी मित्तल ने ग्योंग गांव में शिक्षा एवं खेल क्षेत्रों के विद्यार्थियों को सम्मानित कियाट्रक डाइवर व क्लीनर को बंधक बना ट्रक लेकर फरार, केस दर्जपंजाबी वर्ग की जनसँख्या के अनुसार राजनैतिक पार्टी दे टिकटें: अशोक मेहता। वीर सम्मान मंच कैथल के द्वारा अटारी बॉर्डर पर मनाया गया रक्षाबंधन उत्सव:-

Literature

पिहोवा-पितरों की आत्मिक शांति के लिए सरस्वती तीर्थ पर पहुंचने लगे श्रद्धालु

April 03, 2019 05:24 PM
पृृथ्वी सिंह पेहवा

पिहोवा-पितरों की आत्मिक शांति के लिए सरस्वती तीर्थ पर पहुंचने लगे श्रद्धालु
चैत्र चौदस मेले में पहले दिन पंहुचे हजारों श्रद्धालु, झूले बने आकर्षण का केंद्र, प्रशासन की है चप्पे चप्पे पर नजर
पिहोवा 3 अप्रैल विश्व प्रसिद्ध चैत्र चौदस मेले पर सरस्वती तीर्थ पृथुदक तीर्थ पर पूर्वजों की आत्मिक शंाति के लिए देश के कोने कोने से श्रद्धालु पहुंचने शुरू हो गए हैं। चैत्र चौदस के पहले दिन ही हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं ने सरस्वती तीर्थ पर पहुंचकर पूजा पाठ करना शुरू कर दिया है। श्रद्धालुओंं को हर प्रकार की सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों ने अपनी कमर कस ली है।
मेला प्रशासक एवं एसडीएम निर्मल नागर ने कहा कि विश्व प्रसिद्ध चैत्र चौदस मेला विधिवत रूप शुरू हो गया है। देश के कोने कोने से श्रद्धालु पहुंचने लगे हैं। प्रशासन ने श्रद्धालुओं को हर प्रकार की सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए पुख्ता इंतजाम किए हैं। पंजाब, हिमाचल और अन्य प्रदेशों से श्रद्धालुओं को लाने ओर ले जाने के लिए विभाग की तरफ से बसें चलाई गई हैं। सरस्वती तीर्थ के आस पास के क्षेत्र पर पैनी निगाहें रखी जा रही है, इसके लिए 50 सीसी कैमरे लगाए गए हैं। कंट्रोल रूम में बैठकर असामाजिक तत्वों पर कड़ी नजर रखी जाएगी। उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं के मनोरंजन को ध्यान में रखते हुए हुड्डा ग्राऊंड मेंं विशेष प्रबंध किए हैं। उन्होंने कहा कि 3 से 5 अप्रैल तक चैत्र चौदस मेला रहेगा, इसलिए सभी डयूटी मजिस्टे्रट ओर सैक्टर अधिकारियों को चौकस रहने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।
बाक्स
झूले बने मनोरंजन के साधन
हुड्डा ग्राऊंड में झूलों का मजा लेने के लिए बच्चे व अन्य लोग पहुंचने शुरू हो गए हैं। इस ग्राऊंड में करीब कई प्रकार के झूले लगाए गए हैं ओर श्रद्धालुओं के लिए मनोरंजन के अन्य प्रबंध भी किए गए हैं।
बाक्स
बिछड़ों को मिलाने का काम करेगा सूचना केंद्र
चैत्र चौदस मेले में लाखों की तादाद में पंहुचने वाले श्रद्धालुओं के भीड़ में खोए जाने व फिर छोटे बच्चों के बिछुड़ों से मिलाने के लिए सूचना एवं जनसंपर्क विभाग की तरफ से बाल भवन में सूचना प्रसारण केंद्र स्थापित किया गया है।
बाक्स
सुरक्षा की संभाली कमान
मेले में सुरक्षा एवं व्यवस्था को दुरस्त रखने के लिए शहर के बाहरी ओर आतंरिक जगहों पर नाकाबंदी ओर बेरिकेटस लगाकर सुरक्षा अधिकारियों ओर पुलिस कर्मचारियों ने सुरक्षा की कमान संभाल ली है। मेला क्षेत्र के आस पास 5 पुलिस चैक पोस्ट बनाई गई है और आस-पास के जिलों से आए 250 पुलिस कर्मचारियों को तैनात किया गया है।
बाक्स
समाज सेवी संस्थाओं ने लगाए भंडारे
प्रदेश के कई क्षेत्रों से समाज सेवी व धार्मिक संस्थाओं के सदस्यों ने श्रद्धालुओं की सेवा करने के लिए भंडारे लगा दिए हैं।
बाक्स
समूह मेें एकत्रित होकर पहुंचने लगे तीर्थ स्थल पर
पंजाब, हिमाचल ओर अन्य राज्यों से श्रद्धालु समूह में एकत्रित होकर पहुंचने लगे है। पंजाब से आए श्रद्धालु बलबीर सिंह व विक्रम ने कहा कि वे पिछले कई सालों से चैत्र चौदस मेले पर सरस्वती तीर्थ के पवित्र जल मेंं स्नान करने के साथ साथ पितरों का तर्पण करने के लिए आ रहे हंै।
बाक्स
तीर्थ स्थल पर पंहुचे सरसों का तेल, सूत का धागा ओर दीपक बेचने वाले
सरस्वती तीर्थ पर विशेष रूप से सूत का धागा, दीपक ओर सरसों का तेल बेचने वाले भारी संख्या में पहुंच चुके हैं। अहम पहलु यह है कि सूत का प्रयोग प्रेत पीपल पर बांधने में किया जाता है तो सरसोंं के तेल से जहां श्रद्धालु तट पर दीपदान करते हैं वहीं स्वामी कार्तिकेय मंदिर में भी श्रद्धालुओं द्वारा तेल चढ़ाया जाता है।
बाक्स
सजने लगी है मिठाईयों की दुकाने
चैत्र चौदस मेले में श्रद्धालुओं को ध्यान में रखते हुए आस पास के क्षेत्रों ओर स्थानीय दुकानदारों ने मिठाईयों की दुकाने सजानी शुरू कर दी है। दुकानदारों ने श्रद्धालुओं के स्वाद को देखते हुए विशेष प्रकार की मिठाईयों को परोसने का मन बनाया है।

Have something to say? Post your comment

More in Literature

हरियाणवी काव्य संग्रह "मन का के ठिकाणा" का हुआ लोकार्पण

जवान लड़कियां संन्यास लेती हैं तो आप उन्हें मां क्यों कहते है?

मिश्रित फल देगा नव विक्रम सम्वत-2076, होंगे राजनैतिक परिवर्तन मिथुन, तुला और कुम्भ राशि और लग्न वालों को लाभ होगा

सिद्ध श्री बाबा बालक नाथ जी प्रचार समिति फरीदाबाद भजनो भरी शाम बाबा जी के नाम का आयोजन किया

6 अप्रैल से परिधावी नामक नवसंवत 2076 एवं चैत्र नवरात्रि आरंभ

होली आई रे .... होलिका दहन, 20 मार्च की रात्रि 9 बजे के बाद, रंग वाली होली 21 को।

गुरू मां सम्मेलन में मिलती है अनोखी अलौकिक शक्तियां : सुरेंद्र पंवार

खाटू श्याम में बाबा का मेला शुरू, श्याममय हुआ समूचा क्षेत्र, प्रतिदिन गुजरने लगे है श्याम प्रेमियों के जत्थे

शीश के दानी का सारे जग में डंका बाजे ने देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी एक अलग पहचान बनाई - लखबीर सिंह लख्खा

श्रीमद् भागवत कथा का प्रारंभ आज