Tuesday, June 25, 2019
 
BREAKING NEWS
नगर परिषद कैथल के सफाई कर्मचारियों ने सर्वसम्मति से अंगूरी देवी को चुना प्रधान पत्रकार संघ के प्रदेशाध्यक्ष बने तरावड़ी के संजीव चौहानलाड़वा हल्के मे मल्टीपल खेल स्टेडिरूम बनवाना होगा प्राथमिकता : संदीप गर्गमुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व मे लाड़वा हल्के ने छुए विकास के नए आयाम : पवन सैनी भाजपा विधायक ने मंत्री के सामने लगाए एसपी मुर्दाबाद के नारेये मर्द बेचारा फिल्म की फरीदाबाद में हो रही शूटिंगअमेठी में पंचायत उपचुनाव को लेकर बजा बिगुल, डॉ योगेश कुमार बनाये गये बाजार शुक्ल चुनाव अधिकारीशाहाबाद- निजी अस्पताल में चल रहा था सेक्स रैकेट, कई पकडे गए नए-नए कानून योजना तुरंत बणा दिए तैयार तनै,हरियाणा में ठाठ ला दिए बीजेपी सरकार तनै-डीपीआरओ युवा चेहरों को मौका मिला तो बदल जाऐंगे राजनीति के मायने

Business

लाइसेंस रिन्यू नही हुये तो शनिवार 13 अप्रैल से सरकार के खिलाफ कमेटी प्रांगण में अनिश्चितकालीन धरना

April 11, 2019 04:59 PM
राजकुमार अग्रवाल
लाइसेंस रिन्यू नही हुये तो शनिवार 13 अप्रैल से सरकार के खिलाफ कमेटी प्रांगण में अनिश्चितकालीन धरना
कैथल( अटल हिन्द ब्यूरो  )  
बृहस्पतिवार को नई अनाज मंडी स्थित मंदिर में आढ़तियों की अलग- अलग दो बैठकें सम्पन्न हुई। दोनों बैठक मंडी के आढ़तियों के लाइसेंस रिन्यू न होने और मंडी के आन लाइन होने के विरोध स्वरूप में हुई। पहली बैठक में फैसला लिया गया कि यदि मुख्यमंत्री कार्यालय से मिले दो दिन के तय समय के दौरान आढ़तियों के लाइसेंस रिन्यू नही हुये तो शनिवार 13 अप्रैल से सरकार के खिलाफ कमेटी प्रांगण में अनिश्चितकालीन धरना दिया जायेगा। दूसरी बैठक में आन लाइन की चर्चा कर बाद में मंडी में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर मार्केट कमेटी का घेराव किया गया। जहां कमेटी चेयरमैन ने लाइसेंस रिन्यू करवाने और आन लाइन न करने की मांग मुख्यमंत्री तक पहुंचाने की कह कर प्रदर्शन बंद करवाया।
सबसे पहले हुई आढ़तियों की बैठक की अध्यक्षता फूड ग्रेन डीलर एसोसिएशन के प्रधान कृष्ण मितल पाई ने की। सबसे पहले मंडी के एक मुनीम राजेश की दुर्घटना में मौत होने पर दो मिनट का मौन रखा गया। उसके बाद उन्होंने बैठक को सम्बोधित करते हुये बताया कि उनकी की अध्यक्षता में 23 सदस्यों का प्रतिनिधि मंडल लाइसेंसों के मामले में चंडीगढ़ गया था। वे सबसे पहले मार्केटिंग बोर्ड के सी ए जी गणेशन से मिले। उन्होंने मिट्टि गोली देते हुये कहा कि वे इस पर विचार कर रहे है। प्लेट फार्म का किराया दे दो। तीन महीने के लिये लाइसेंस रिन्यू करवा लो। इस पर वे बाद में मुख्यमंत्री को मिलने उनके कार्यालय में गये तो मुख्यमंत्री की अनुपस्थिति में उनके पी ए से मिले। उनके पी ए ने बताया कि यह मामला मुख्यमंत्री के संज्ञान में है और मार्केटिंग बोर्ड के सी ए को जल्दी ही लाइसेंस रिन्यू के लिये बोला हुआ है। वे दुबारा से इस बारे में अवगत करवा देंगे। दो दिनों के अंतराल के बाद उनके लाइसेंस रिन्यू हो जायेंगे। उन्होंने मंडी के आढ़तियों से राय ली कि आगे क्या करना है। मंत्री नायाब सैनी भी तीन बार सी ए को बोल चुके है। इस पर आढ़तियों ने कहा कि दो दिन बांट देख लेते है। उसके बाद कमेटी के प्रांगण में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे। मंडी के अलावा खरीद केंद्रों में भी किसानों की गेहूं की फसल सरकार को नही बेचेंगे। मंडी के सभी आढ़तियों के लाइसेंस तीन- तीन साल के लिये रिन्यू करवाये जायेंगे। सभी आढ़ती अपने किसानों, मंडी में आने वाले कई हजारों मुनीमों, जमादारों, नौकरों आदि को भी कहेंगे कि वे भाजपा को वोट न दे और अपने रिश्तेदारों व जान पहचान वालों को वोट देने से रोके और बताया कि भाजपा ने उनका रोजगार छीना है। इसके बाद वे कमेटी कार्यालय गये और सचिव से उनके कहने से पहले किसी भी आढ़ती की रिन्यू की रसीद ने काटने की कही। इस अवसर पर राइस मिल एसोसिएशन के उप प्रधान मांगे राम, श्याम लाल नोच, महावीर मितल, पवन बंसल, ईश्वर जैन, हरिदास, राम नारायण, पवन कोटड़ा, जसमेर ढांडा आदि मौजूद थे।
दूसरी बैठक बाद में जिला अनाज मंडी अश्वनी शोरेवाला की अध्यक्षता में हुई। बैठक में दी कैथल फूड ग्रेन डीलर के प्रधान शमशेर मितल, पुरानी मंडी के प्रधान तरसेम, पूर्व मंडी प्रधान चंद्र भान किठानियां, श्याम बहादूर, सुभाष चंद, सुरेश चौधरी, देसराज, राजपाल चहल दो नई व पुरानी मंडियों के सैकड़ों आढ़ती मौजूद थे। इस दौरान सबसे पहले मोबाइल पर प्रदेश अनाज मंडी प्रधान अशोक गुप्ता का भाषण सुनाया। अशोक गुप्ता ने मोबाइल पर बैठक को सम्बोधित करते हुये बताया कि सरकार झूट बोल रही है कि पुरानी परम्परा पर किसानों की फसल बेची जायेंगे। आन लाइन प्रणाली यू टर्न ले ली है। सरकार जिला प्रशासनिक अधिकारी आढ़तियों को सरकार के इन झूटे वायदों को प्रदेश की मंडियों में जाकर बहका रहे है और हड़ताल खोलने के लिये दबाव बना रहे है। आप किसी की भी बात नही माना जब तक प्रदेश स्तर कमेटी की वार्ता नही होती। उसके बाद अश्वनी शोरेवाला ने कहा कि तीन साल से कम मंडी के आढ़तियों का लाइसेंस रिन्यू नही करवाया जायेगा। सरकार तीन साल से आढ़तियों को परेशान कर रही है। आढ़ती कभी भी आन लाइन कार्य नही करेंगे। उसके बाद बैठक में मंडी के अंदर प्रदर्शन करके कमेटी का घेराव करने का फैसला लिया गया। इसके बाद आढ़तियों ने सरकार विरोधी नारे लगाते हुये सारी अनाज मंडी में प्रदर्शन किया और में मार्केट कमेटी का घेराव किया और मार्केटिंग बोर्ड व सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। इस पर कमेटी के चेयरमैन राजपाल तंवर उठ कर आये और आढ़तियों को सम्बोधित करते हुये कहा कि आन लाइन के बारे में वे मुख्यमंत्री से बात करेंगे। लाइसेंस उनके रिन्यू हर हाल में होगे। यदि उनके लाइसेंस रिन्यू नही हुये तो वे अपने पद से त्यागपत्र दे देंगे। इस आढ़ती शांत हो कर वापस चले गये। आज भी प्रदेश मंडी एसोसिएशन के आदेश पर मंडी का कार्य बंद रहा।

Have something to say? Post your comment

More in Business

72 घंटे में पैमेंट के दावे, लेकिन 40 दिन बाद भी आढ़तियों के 7 करोड़ रुपए बकाया

फॉम फैक्ट्ररी में लगी आग

विपुल गोयल को फोन पर दी जीएसटी फर्जीवाड़े की जानकारी,मामले में हरियाणा चैंबर ऑफ कॉमर्स आगे आया

कुंडली में जूते बनाने वाली फैक्ट्री में लगी भीषण आग

19 फर्जी कंपनियां बनाकर जीएसटी में फर्जीवाड़ा दो हजार करोड़ तक पहुंचा

प्रदेशों के उद्योग मत्रियों की दिल्ली में बैठक। , विपुल गोयल ने हरियाणा का प्रिनिधित्व किया

कैथल के आढ़ती लाइसेंस रिन्यू भी करवायेंगे और आगे के लिये अभी कोर्ट में भी जायेंगे-प्रधान

व्यापारियों के लिए बड़ी खबर... सरकार कराएगी सामूहिक बीमा, कल्याण कोष भी बनेगा

आप व्यापार संगठन लोक सभा फरीदाबाद, लोकसभा क्षेत्र की सभी नौ विधानसभाओं में व्यापारियों की बैठक आयोजित करेगा

राईस मिलर्स पर लगाया नाजायज होल्डिंग चार्ज वापिस ले विभाग : नरेश बंसल