Thursday, May 23, 2019
BREAKING NEWS
भाजपा के नवनिर्वाचित सांसद नायब सैनी ने कैथल में कार्यकर्ताओं के साथ मनाया जश्नजनता ने की भाजपा की नीतियों मे कि आस्था व्यक्त : सुर्या सैनीजनता ने प्रदेश सरकार व केन्द्र सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों पर लगाई अपनी मोहर : सुरेश कश्यपपरिवारवाद हारा,जनता जीती -मनोहर लाल मां ने जींद जिले में तो अब बेटे ने हिसार में खिलाया कमलतंवर की प्रधानगी में हर चुनाव हारी कांग्रेस, हुड्डा की दावेदारी भी खतरे मेंचार्जशीट पर बोले कुछ पार्षद, पार्षद प्रतिनिधि व नेता करते हैं निजी कार्यों के लिए ब्लैकमेल ,इसलिए करते हैं ऐसी बेतुकी बातें : सिंहकैथल पुलिस चौकना ,महिला पुलिस व अर्धसैनिक बल के करीब 850 कर्मचारी व अधिकारी तैनात रहेगेकेंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह के गोद लिए मांडी गांव के राजकीय हाई स्कूल को जड़ा ग्रामीणों ने ताला 134ए के तहत गरीब बच्चों को पढ़ाने की एवज में स्कूलों को मिले 36 करोड़

National

बेशर्म राजनेता -मौतों पर दुःख प्रकट करने की बजाए सेंक रहे है राजीनितिक रोटियां

April 17, 2019 08:12 PM
राजकुमार अग्रवाल
बेशर्म राजनेता -मौतों पर दुःख प्रकट करने की बजाए सेंक रहे है राजीनितिक रोटियां 
राजस्थान, मध्यप्रदेश, गुजरात में बेमौसम बरसात के कारण 35 लोगों की मौत
चंडीगढ़ (राजकुमार अग्रवाल  )राजस्थान, मध्य प्रदेश और गुजरात के कई हिस्सों में रात भर बेमौसम बरसात होने, धूल भरी आंधी चलने और आकाशीय बिजली गिरने की घटना में 35 लोगों की मौत हो गयी तथा कई अन्य घायल हो गये। । मध्यप्रदेश में वर्षा जनित घटनाओं में 15 लोगों के मरने की खबर है। गुजरात और राजस्थान में रात भर हुई बारिश में 10-10 लोगों की मौत हो गयी।लेकिन नेता है की मानते ही नहीं वे इन मौतों पर भी अपनी रोटियां सेंकने में लग गए है , नेताओं को इस बात का दुःख नहीं है की अप्राकतिक आपदा जैसे बेमौसमी बारिश और आकाशीय बिजली गिरने से देश के कई राज्यों में दर्जनों लोग मौत के मुँह में समा गए लेकिन  नेताओ को तो सिर्फ अपनी राजनीति चमकाने से मतलब है। कौन मरा किसका मरा कैसे मरा इससे कोई दरकार नहीं है। भारत की राजनीति का स्तर इतना गिर गया है की खुद को जन प्रतिनिधि कहने वाले नेता बेशर्मो की तरह निर्दोष मौतों पर भी राजनीति करने से बाज नहीं आ रहे। बुधवार को जिस तरह देश के कई राज्यों में बरसात और आंधी तूफ़ान व आसमानी बिजली गिरने से दर्जनों लोगों की जान चली गई इन मौतों पर दुःख प्रकट करना तो दूर की बात नेता बिरादरी मौतों पर भी अपना वोट बैंक बढ़ा रही है। लेकिन इन सत्ता के भूखे नेताओं को उन सुहागनों से कोई मतलब नहीं जिनके सुहाग उझड़ गए , उन बहनो की फ़िक्र नहीं जिनके भाई चले गए , उन बच्चों की चिंता नहीं जिनके सिर से उनके बाप का साया छीन गया इस अप्राकृतिक आपदा के चलते। ऐसी घटिया राजनीति 21 वीं शद्दी के भारत के लिए बड़ी भयानक साबित होगी ?उधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात में बारिश जनित घटनाओं में लोगों की मौत को लेकर सुबह ट्विटर पर दुख जताया और राहत की घोषणा की। इसके तुरंत बाद मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें सिर्फ अपने गृह राज्य गुजरात की चिंता है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने लोगों की मौत पर दुख जताते हुए मोदी पर आरोप लगाया कि उन्हें सिर्फ अपने गृह राज्य गुजरात की चिंता है।कमलनाथ ने ट्वीट किया, ‘मोदी जी, आप देश के प्रधानमंत्री हैं, न कि गुजरात के। मध्यप्रदेश में भी बेमौसम बारिश, तूफान और तड़का गिरने से 10 से अधिक लोगों की मौत हुई है। लेकिन आपकी संवेदनाएं सिर्फ गुजरात तक ही क्यों सीमित है? भले यहां आपकी पार्टी की सरकार नहीं है लेकिन लोग यहां भी बसते हैं।’ भाजपा ने इस पर कमलनाथ पर बारिश एवं आंधी से लोगों की मौत को लेकर राजनीति करने का आरोप लगाया।मध्यप्रदेश में भाजपा के मीडिया प्रमुख अनिल बलूनी ने दिल्ली में कहा कि कमलनाथ प्रक्रिया से अच्छी तरह वाकिफ हैं कि राज्य सरकार को राहत पाने के लिये पहले ऐसी प्राकृतिक आपदा में हुई क्षति के बारे में केंद्र को सूचित करना होता है, लेकिन ऐसा करने के बजाय वह ट्वीट कर रहे हैं और इसका राजनीतिकरण कर रहे हैं। बलूनी ने आरोप लगाया, ‘‘केंद्र को सूचित करने के बजाय उन्होंने इस त्रासदी पर राजनीति करना चुना।’’

Have something to say? Post your comment

More in National

जनता ने की भाजपा की नीतियों मे कि आस्था व्यक्त : सुर्या सैनी

जनता ने प्रदेश सरकार व केन्द्र सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों पर लगाई अपनी मोहर : सुरेश कश्यप

किसान मोर्चा ने भाजपा की जीत के लिए किया हवन यज्ञ।

मतगणना की जानकारी मोबाइल एप वोटर्स हेल्पलाइन व पोर्टल results.eci.gov.in पर उपलब्ध होगी

युवा शक्ति ही होती है देश की ताकत : संतोष दहिया

नरेंद्र मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री बनने से भारत आर्थिक, सुरक्षा व विकास की दृष्टि से विश्व की नई ताकत बन कर उभरेगा : गुलाब सैनी

खेलों में भाग लेने से व्यक्ति के जीवन से अनेक बुराईया दुर होती है और वह शारीरिक व मानसिक तौर पर स्वस्थ भी रहता है :सोहन लाल

अग्रवाल स्कूल की छात्रा संजना चौहान 96 प्रतिशत अंक लाकर स्कूल में प्रथम स्थान पर रही।

कपिल मिश्रा ,गोडसे के कारण महात्मा गांधी पर आपत्तिजनक ट्वीट करने से सवालों के घेरे में ।

बिना सर्जरी के अब बदल सकता है हार्ट बाल्व -ड़ॉ प्रताप सी रेड्डी