Thursday, May 23, 2019
BREAKING NEWS
भाजपा प्रत्याशी संजय भाटिया करीब 6 लाख 56 हजार 142 मतों से हुए विजयी* मतगणना शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न: जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त विनय प्रताप सिंहभाजपा के नवनिर्वाचित सांसद नायब सैनी ने कैथल में कार्यकर्ताओं के साथ मनाया जश्नजनता ने की भाजपा की नीतियों मे कि आस्था व्यक्त : सुर्या सैनीजनता ने प्रदेश सरकार व केन्द्र सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों पर लगाई अपनी मोहर : सुरेश कश्यपपरिवारवाद हारा,जनता जीती -मनोहर लाल मां ने जींद जिले में तो अब बेटे ने हिसार में खिलाया कमलतंवर की प्रधानगी में हर चुनाव हारी कांग्रेस, हुड्डा की दावेदारी भी खतरे मेंचार्जशीट पर बोले कुछ पार्षद, पार्षद प्रतिनिधि व नेता करते हैं निजी कार्यों के लिए ब्लैकमेल ,इसलिए करते हैं ऐसी बेतुकी बातें : सिंहकैथल पुलिस चौकना ,महिला पुलिस व अर्धसैनिक बल के करीब 850 कर्मचारी व अधिकारी तैनात रहेगेकेंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह के गोद लिए मांडी गांव के राजकीय हाई स्कूल को जड़ा ग्रामीणों ने ताला

Haryana

कलायत-सरकारी स्कूलों में पढ़ेंगे शिमला गांव के बच्चे पंचायत ने शुरू किया अभियान

April 20, 2019 07:21 PM
कलायत से तरसेम की रिपोर्ट

कलायत-सरकारी स्कूलों में पढ़ेंगे शिमला गांव के बच्चे  पंचायत ने शुरू किया अभियान
राजकीय स्कूलों में विद्यार्थियों को प्रवेश दिलाने के लिए  पंचायत ने शुरू किया अभियान
प्राइवेट स्कूलों की मनमानी व भारीभरकम खर्च के बावजूद भी नहीं मिल रहे अच्छे परिणाम
कलायत
उपमंडल के गांव शिमला की ग्राम पंचायत व ग्रामीणों ने नई मिसाल कायम करते हुए घर-घर जाकर अभिभावकों से अपने बच्चों को सरकारी विद्यालय में प्रवेश दिलवाने के लिए अभियान शुरू किया है। सरपंच प्रतिनिधि सियाराम ने बताया कि शिमला गांव से काफी विद्यार्थी नरवाना, कलायत, हथो और दूसरे दूर-दराज के प्राइवेट संस्थानों में शिक्षा ग्रहण करने के लिए जाते थे। अभिभावकों द्वारा भारी भरकम खर्च वहन करने पर भी वो परिणाम नहीं मिल पा रहे थे जिनकी उन्हें आस रही है। बल्कि शिमला के सरकारी स्कूल में उन्हें प्राइवेट स्कूलों से ज्यादा बेहतर परिणाम देखने को मिले हैं। उन्होंने बताया कि सरकारी स्कूल को सौंदर्यकरण में प्रथम स्थान मिल चुका है। शिक्षकों द्वारा भी पूरे समॢपत भाव से बच्चों को शिक्षित किया जाता है उस पर पंचायत व ग्रामीणों को फख्र है। इस बार पंचायत और ग्रामीणों ने शिक्षकों के सहयोग से गांव के प्रत्येक बच्चे को राजकीय स्कूल में शिक्षा ग्रहण करने के लिए बीड़ा उठाया है। ताकि शिक्षा विभाग द्वारा विद्यार्थियों को जो सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही है वह उनका पूरा लाभ उठा सके।


ग्राम पंचायत व शिक्षकों की मेहनत लाई रंग:
सरपंच प्रतिनिधि सिया राम, शिक्षकों के साथ ग्रामीणों की मेहनत रंग लाने लगी है। जिसका ही परिणाम है कि सरकारी स्कूलों में धीरे-धीरे विद्यार्थियों की संख्या बढऩे लगी है। हालांकि दर्जनों छात्रों का अब स्कूलों में प्रवेश तो नहीं हुआ मगर वे शिक्षा ग्रहण करने राजकीय स्कूलों में आ रहे हैं। स्कूल प्रधानाचार्य विजय कुमार ने बताया कि जिन छात्रों ने फिलहाल अपना नाम स्कूल में दर्ज नहीं करवाया उसका मुख्य कारण अभी बच्चों को स्कूल छोडऩे का प्रमाण पत्र नहीं मिला है।


समन्वय स्थापित करने के लिए बनाई कमेटी:
ग्राम पंचायत द्वारा शिक्षकों व अभिभावकों के बीच समन्वय स्थापित करने के लिए कमेटी का गठन किया गया है। सरपंच प्रतिनिधि सिया राम के नेतृत्व में गठित कमेटी में डा.सुरेश कुमार, मास्टर कृष्ण कुमार, चंद्रभान निम्बरैन, रामफल, राजकपूर, रामचंद्र, कृष्ण, फूलचंद, जोरा ङ्क्षसह, अनिल, मास्टर जोगेंद्र ङ्क्षसह, सुरदेव, राजेंद्र, रणदीप, जगदीश फौजी, नसीब ङ्क्षसह, जेठू राम, मास्टर मांगे राम, मास्टर सतीश कुमार, सुभाष, दिलदार व प्राध्यपाक सुनील कुमार को शामिल किया गया है। कमेटी सदस्यों द्वारा विद्यालय में विद्यार्थियों को प्रदान की जाने वाली शिक्षा पर ध्यान रखा जाएगा वहीं अभिभावकों को भी इसकी जानकारी दी जाएगी।
कलायत से पहले माध्यमिक स्तर का दर्जा मिल था स्कूल को:
पूर्व चेयरमैन फूलचंद ने बताया कि में 1951 में स्कूल बन गया था। उन्होंने बताया कि गांव शिमला के बच्चों का शिक्षा के प्रति पहले से ही रूझान रहा है मगर अब अभिभावक व जागरूक शिक्षा के प्रति इस कद्र जागरूक हो गए है कि प्रत्येक अभिभावक अपने बच्चे को उच्च शिक्षा दिलवाना चाहता है। स्कूल में कम्प्यूटर लैब, पुस्तकालय व एजुसैट जैसी सुविधाएं उपलब्ध है जिनका बच्चों द्वारा पूरा प्रयोग किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि स्कूल में शिक्षाप्रद सामग्री को लेकर समय-समय पर प्रदर्शनी का आयोजन भी किया जाता है जिसमें बच्चों को बहुत कुछ नया सिखने को मिलता है।
सुविधाओं के साथ कमियां भी विद्यार्थी व अभिभावकों को कर रही परेशान:
शिमला स्कूल जहां क्षेत्र का नाम रोशन करने में लगातार कदम बढ़ा रहा है वहीं इसमें सुविधाओं के साथ कमियां भी छात्रों व शिक्षकों को परेशान कर रही है। सबसे बड़ी समस्या निकासी व्यवस्था दुरुस्त न होने के चलते स्कूल के मुख्य द्वार पर हर समय पानी का ठहराव रहना तथा बरसात में पानी स्कूल परिसर में घुसना, बिजली पानी की समुचित व्यवस्था न होना, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों का अभाव व बायो जैसे विषय का प्राध्यापक न होना शामिल है। इसके लिए भी ग्राम पंचायत व ग्रामीणों द्वारा प्रयास किया जा रहा है कि इन समस्याओं को भी दूर कर दिया जाए।
अगले माह एसीएस करेंगे गांव शिमला का दौरा: जोंगेंद्र हुड्डा
डीईओ जोगींद्र हुड्डा ने बताया कि ग्राम पंचायत शिमला व ग्रामीणों द्वारा राजकीय स्कूलों के पक्ष में जो निर्णय लिया गया है वो काबिल-ए-तारिफ है। इसके चलते ही शिक्षा विभाग एसीएस पीके दास ने जिला शिक्षा अधिकारी को संदेश प्रेषित कर इच्छा जताई की वे अगले माह शिमला गांव की पंचायत व स्कूल स्टाफ से मिलना चाहते हैं। हुड्डा ने स्कूल प्राचार्य विजय कुमार और ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि स्कूल में कोई भी अगर समस्या आती है तो उसका प्राथमिकता के आधार पर निदान किया जाएगा।
सोलर से चलाई जाएगी बिजली, पेयजल की होगी समुचित व्यवस्था: नरेश देवी
ग्राम सरपंच नरेश देवी ने कहा कि ग्रामीणों व अभिभावकों के सहयोग से राजकीय स्कूलों में बच्चों को प्रवेश दिलाने के लिए उठाए गए कदम में सफलता मिल रही है। उन्होंने कहा कि स्कूल में बिजली व पानी की समुचित व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए स्कूल में सोलर लाईट सिस्टम जल्दी ही लगवा दिया जाएगा। पेयजल व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए गांव में बिछाई दोनों ही पाइप लाइन का कनैक्शन करवाया जाएगा ताकि स्कूल में पेयजल की किसी भी प्रकार से समस्या न रहे।

Have something to say? Post your comment

More in Haryana

भाजपा प्रत्याशी संजय भाटिया करीब 6 लाख 56 हजार 142 मतों से हुए विजयी* मतगणना शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न: जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त विनय प्रताप सिंह

भाजपा के नवनिर्वाचित सांसद नायब सैनी ने कैथल में कार्यकर्ताओं के साथ मनाया जश्न

मां ने जींद जिले में तो अब बेटे ने हिसार में खिलाया कमल

चार्जशीट पर बोले कुछ पार्षद, पार्षद प्रतिनिधि व नेता करते हैं निजी कार्यों के लिए ब्लैकमेल ,इसलिए करते हैं ऐसी बेतुकी बातें : सिंह

कैथल पुलिस चौकना ,महिला पुलिस व अर्धसैनिक बल के करीब 850 कर्मचारी व अधिकारी तैनात रहेगे

केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह के गोद लिए मांडी गांव के राजकीय हाई स्कूल को जड़ा ग्रामीणों ने ताला

45 पेटी ठेका शराब देशी बरामद

रादौर में अस्पताल के गेट पर ही हो गई महिला की डिलीवरी, बच्चे की मौत

कैथल के चारों विधानसभा क्षेत्रों में कड़ी सुरक्षा में सुबह 8 बजे शुरू हो जाएगा मतगणना का कार्य : प्रियंका

एग्जिट पोल से बिल्कुल अलग होंगे चुनाव के नतीजे : रमेश गुप्ता