Thursday, May 23, 2019
BREAKING NEWS
भाजपा के नवनिर्वाचित सांसद नायब सैनी ने कैथल में कार्यकर्ताओं के साथ मनाया जश्नजनता ने की भाजपा की नीतियों मे कि आस्था व्यक्त : सुर्या सैनीजनता ने प्रदेश सरकार व केन्द्र सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों पर लगाई अपनी मोहर : सुरेश कश्यपपरिवारवाद हारा,जनता जीती -मनोहर लाल मां ने जींद जिले में तो अब बेटे ने हिसार में खिलाया कमलतंवर की प्रधानगी में हर चुनाव हारी कांग्रेस, हुड्डा की दावेदारी भी खतरे मेंचार्जशीट पर बोले कुछ पार्षद, पार्षद प्रतिनिधि व नेता करते हैं निजी कार्यों के लिए ब्लैकमेल ,इसलिए करते हैं ऐसी बेतुकी बातें : सिंहकैथल पुलिस चौकना ,महिला पुलिस व अर्धसैनिक बल के करीब 850 कर्मचारी व अधिकारी तैनात रहेगेकेंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह के गोद लिए मांडी गांव के राजकीय हाई स्कूल को जड़ा ग्रामीणों ने ताला 134ए के तहत गरीब बच्चों को पढ़ाने की एवज में स्कूलों को मिले 36 करोड़

Haryana

नहर में कूदे देश के तीसरे बड़े चावल एक्सपोर्टर रोहित गर्ग का शव मिला ,रोहित और साक्षी के बीच हुआ था झगड़ा?

April 20, 2019 09:46 PM
अटल हिन्द ब्यूरो

नहर में कूदे चावल एक्सपोर्टर का शव मिला
पानीपत। देश के तीसरे नंबर के चावल निर्यातक रोहित गर्ग का शव मिल गया है। दिल्ली पैरलल नहर में सोनीपत के खुबड़ूझाल के पास ककरोई से रोहित का शव मिला। पुलिस महिला साक्षी का अब तक पता नहीं लगा सकी है। बता दें कि बुधवार रात करीब एक बजे दिल्ली पैरलल नहर से महिला साक्षी ने छलांग लगा दी थी। उसे बचाने के लिए रोहित गर्ग भी नहर में कूद गए थे। पुलिस ने बताया कि साढ़े दस बजे शव मिला। शव को सोनीपत सिविल अस्पताल ले जाया गया। वहीं शव का पोस्टमार्टम कराया गया। सूचना पर पानीपत के कई उद्योगपति भी मौके पर पहुंचे। पोस्टमार्टम के बाद शव को पानीपत के मॉडल टाउन स्थित आवास में ले जाया गया। हाई प्रोफाइल मामला होने की वजह से पुलिस और प्रशासन के बड़े अधिकारी भी मौके पर पहुंचे।
यह है मामला
मॉडल टाउन निवासी चावल निर्यातक रोहित गर्ग बुधवार रात को पानीपत क्लब से अपने दोस्तों के साथ घर के लिए निकले थे। रोहित गर्ग ने मॉडल टाउन निवासी महिला साक्षी को देर रात को बुला लिया था। उन दोनों का गाड़ी में ही झगड़ा हो गया था। महिला ने गाड़ी में बैठे-बैठे हाथ की नस काट ली थी। उन्होंने अपने स्तर पर उसका प्राथमिक उपचार भी करना चाहा, लेकिन खून का बहाव नहीं थमा।
वह अपने दोस्त हरदीप सिंह के साथ साक्षी को एक प्राइवेट अस्पताल में गए, लेकिन यहां पर डॉक्टर ने उन्हें अटेंड नहीं किया। वे इसके बाद असंध रोड स्थित नारायण सिंह पार्क स्थित एक निजी अस्पताल में ले गए। जहां पर उसका उपचार कराया गया। वे रात 1-15 बजे दिल्ली पैरलल नहर पर श्मशान घाट से कुछ आगे पहुंचे। जहां पर साक्षी गाड़ी से उतरकर नहर में कूद गई।
संबंधों के जाल में घिरे थे रोहित गर्ग
चावल निर्यातक रोहित गर्ग (45) सफलता और संबंधों के जाल में फंस गए। वे अपनी मेहनत और काबिलियत के दम पर राइस इंडस्ट्री के शिखर पर पहुंचे, लेकिन एक छोटी सी भूल ने सबकुछ बर्बाद कर दिया। रोहित अपनी महिला दोस्त साक्षी के साथ संबंधों में इस कदर गुम हुए कि अपनी जान से हाथ धो बैठे। बुधवार रात करीब एक बजे दिल्ली पैरलल नहर से मॉडल टाउन निवासी चावल निर्यातक रोहित और महिला दोस्त साक्षी ने छलांग लगा दी थी। तब से पुलिस उनकी तलाश कर रही थी। शनिवार सुबह साढ़े दस बजे दिल्ली पैरलल नहर में सोनीपत के खुबड़ूझाल के पास ककरोई से रोहित का शव मिला। हालांकि पुलिस अभी तक साक्षी का नहीं लगा सकी है। शहर में चर्चा है कि महिला दोस्त चार महीने पहले भी रोहित गर्ग की चलती गाड़ी से कूद गई थी। उधर, साक्षी के परिजन भी अब सामने आ गए हैं। उन्होंने साक्षी के अपहरण की आशंका जताते हुए पुलिस में शिकायत दी है। हालांकि, पुलिस अधिकारियों ने शिकायत मिलने की बात से इन्कार किया है।
रोहित और साक्षी के बीच हुआ था झगड़ा
शहर में चर्चा है कि रोहित और साक्षी के बीच हादसे से पहले झगड़ा हुआ था। यही विवाद उनके नहर में कूदने का कारण बना। फिलहाल, झगड़े की वजह का पता नहीं चल पाया है। बताया जा रहा है कि साक्षी ने पहले अपने हाथ की नस काटकर आत्महत्या करने की कोशिश की, लेकिन रोहित ने एक अस्पताल में ले जाकर उनका उपचार कराया। इसके बाद भी दोनों के बीच विवाद शांत नहीं हुआ और अंत में साक्षी ने दिल्ली पैरलल नहर में छलांग लगा दी। उन्हें बचाने के लिए नहर में कूदे रोहित भी तेज बहाव के चलते पानी में बह गए और उनकी मौत हो गई। शहर में चर्चा है कि महिला दोस्त चार महीने पहले भी रोहित गर्ग की चलती गाड़ी से कूद गई थी। बताया जा रहा है कि रोहित गर्ग की मॉडल टाउन के एक उद्यमी की पुत्रवधु के साथ भी मित्रता थी। उक्त उद्यमी पिछले दिनों शहर के उद्यमियों को करोड़ों की चपत लगाकर परिवार समेत विदेश चला गया। पुलिस में भी उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज है।
साक्षी के परिजन सामने आए, अपहरण की आशंका
परिजनों ने साक्षी के अपहरण की आशंका जताई है। इसकी शिकायत पुलिस को भी दी है। साक्षी के पति विवेक से बात की तो उन्होंने फिलहाल कुछ भी बताने से इन्कार कर दिया। विवेक ने बताया कि वह पूरे मामले के चलते काफी डिस्टर्ब हैं। डीएसपी बिजेंद्र सिह ने बताया कि इस मामले में फिलहाल कोई शिकायत नहीं मिली है। इस तरह की कोई शिकायत मिलती है तो कार्रवाई की जाएगी।

Have something to say? Post your comment

More in Haryana

भाजपा के नवनिर्वाचित सांसद नायब सैनी ने कैथल में कार्यकर्ताओं के साथ मनाया जश्न

मां ने जींद जिले में तो अब बेटे ने हिसार में खिलाया कमल

चार्जशीट पर बोले कुछ पार्षद, पार्षद प्रतिनिधि व नेता करते हैं निजी कार्यों के लिए ब्लैकमेल ,इसलिए करते हैं ऐसी बेतुकी बातें : सिंह

कैथल पुलिस चौकना ,महिला पुलिस व अर्धसैनिक बल के करीब 850 कर्मचारी व अधिकारी तैनात रहेगे

केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह के गोद लिए मांडी गांव के राजकीय हाई स्कूल को जड़ा ग्रामीणों ने ताला

45 पेटी ठेका शराब देशी बरामद

रादौर में अस्पताल के गेट पर ही हो गई महिला की डिलीवरी, बच्चे की मौत

कैथल के चारों विधानसभा क्षेत्रों में कड़ी सुरक्षा में सुबह 8 बजे शुरू हो जाएगा मतगणना का कार्य : प्रियंका

एग्जिट पोल से बिल्कुल अलग होंगे चुनाव के नतीजे : रमेश गुप्ता

गुढा माइनर में पानी छोड़ने के लिए ग्रामीणों ने एस.डी.ओ को सौंपा ज्ञापन