Saturday, August 17, 2019
 
BREAKING NEWS
इनैलो को मिल रहा है छत्तीस बिरादरी के लोगों का भरपूर समर्थन : सपना बडशामीशहीद की पत्नी संग जोड़ा भाई-बहन का नाता 18 अगस्त को होने वाली परिवर्तन रैली में लाडवा हल्के से जांएगें हजारों कार्यकत्र्ता : मेवा ङ्क्षसह बाबैन में ऐतिहासिक होगा जन आर्शीवाद यात्रा का स्वागत : रीना देवीखिलाडिय़ों के लिए स्टेडियम व बेटियों के लिए कॉलेज बनवाना होगा प्राथमिकता : गर्गफंस गए भूपेंद्र हुड्डा,कांग्रेस छोड़ने के अलावा नहीं बचा कोई विकल्परॉकी मित्तल ने ग्योंग गांव में शिक्षा एवं खेल क्षेत्रों के विद्यार्थियों को सम्मानित कियाट्रक डाइवर व क्लीनर को बंधक बना ट्रक लेकर फरार, केस दर्जपंजाबी वर्ग की जनसँख्या के अनुसार राजनैतिक पार्टी दे टिकटें: अशोक मेहता। वीर सम्मान मंच कैथल के द्वारा अटारी बॉर्डर पर मनाया गया रक्षाबंधन उत्सव:-

Political

भजनलाल की तरह खट्टर बने गैर जाट सियासत के सरदार,पंजाबी वोटरों के अलावा दूसरे वर्गों को भी भाजपा के साथ जोड़ने में हुए सफल

July 24, 2019 04:46 PM
राजकुमार अग्रवाल
#भजनलाल की तरह खट्टर बने #गैर जाट #सियासत के सरदार, #पंजाबी वोटरों के अलावा दूसरे वर्गों को भी #भाजपा के साथ जोड़ने में हुए सफल

-राजकुमार अग्रवाल-
कैथल (#हरियाणा )। #हरियाणा के #मुख्यमंत्री #मनोहर लाल खट्टर पूर्व #मुख्यमंत्री स्वर्गीय #भजनलाल की तरह अब प्रदेश की #गैर जाट #सियासत के सरदार बन गए हैं। #पंजाबी वोटरों को #भाजपा के साथ एकमुश्त जोड़ने के अलावा वे दूसरे #गैर जाट वर्गों को भी #भाजपा के साथ खड़ा करने में पूरी तरह से सफल हुए हैं।
इस समय प्रदेश की #सियासत में #भाजपा ने #गैर जाट पॉलिटिक्स में कांग्रेस को पछाड़ दिया है। #गैर जाट पॉलिटिक्स में इस समय कांग्रेश की बजाय #भाजपा की तूती बोल रही है। इसी वजह से #भाजपा पिछले तीन चुनावों - मेयर चुनाव, जींद उपचुनाव और लोकसभा चुनाव में जोरदार जीत हासिल करने में सफल हुई है।
2014 में जिस मकसद के साथ #भाजपा ने #मुख्यमंत्री #मनोहर लाल खट्टर को प्रदेश सरकार की कमान सौंपी थी, वह उस कसौटी पर खरा उतरते हुए #भाजपा के जनाधार को पक्का करने का काम अंजाम दे गए हैं।
#मुख्यमंत्री #मनोहर लाल खट्टर ने पूरी रणनीति के साथ काम करते हुए #गैर जाट वर्गों को एक-एक करके कांग्रेस से तोड़ने का काम किया। कांग्रेस में छिड़े हुए गृह युद्ध का फायदा उठाते हुए #मनोहर लाल खट्टर ने #गैर जाट वोटरों को पूरी तरह से अपने साथ लामबंद करने की रणनीति पर काम किया। प्रदेश के इतिहास में #पंजाबी वोटबैंक हमेशा कांग्रेस का परंपरागत वोटबैंक रहा है और उसी के बलबूते पर शहरों में कांग्रेस का डंका बजता रहा है लेकिन #मनोहर लाल खट्टर ने सीएम बनने के बाद इस निर्णायक वोटबैंक को कांग्रेस से तोड़कर #भाजपा के साथ खड़ा कर दिया। इसी वजह से शहरों में #भाजपा #पंजाबी और बनिया वोटों का गठबंधन करते हुए अजेय बन गई है।
मेयर चुनाव में यह साबित हो गया कि शहरों में अब खांग्रेस की बजाय #भाजपा का ही बोलबाला है और इसका पूरा श्रेय #मुख्यमंत्री #मनोहर लाल खट्टर को जाता है। #मुख्यमंत्री #मनोहर लाल खट्टर ने जहां विरोधी दलों को हाशिए पर डाल दिया है वहीं #भाजपा के अंदर भी अपने तमाम प्रतिबंधों को किनारे लगा दिया है।
सिर्फ केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत ही प्रदेश के इकलौते ऐसे नेता हैं जिनके प्रभाव क्षेत्र अहीरवाल में अभी तक #मुख्यमंत्री #मनोहर लाल खट्टर अपनी प्रभावशाली पैठ नहीं बना पाए हैं। अहीरवाल की 8 सीटों पर #भाजपा अभी भी केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह के बलबूते पर ही जीत हासिल कर सकती है।
पिछले 5 साल के दौरान #मुख्यमंत्री #मनोहर लाल खट्टर ने इंद्रजीत सिंह के पर कतरने का पूरा प्रयास किया लेकिन वे इसमें सफल नहीं हो पाए।
आगामी विधानसभा चुनाव में #मनोहर लाल खट्टर राव इंद्रजीत के प्रभाव को कम करते हुए उनके समर्थकों की टिकटें कम भी कर सकते हैं।
वर्तमान समय में लोकसभा चुनाव मिली थी ऐतिहासिक जीत के बलबूते पर #भाजपा हाईकमान में भी #मनोहर लाल खट्टर के फूल बटा फूल हो गए हैं जिसके कारण उन्हें #हरियाणा में मनचाहे फैसले करने की छूट मिल गई है। इसलिए आगामी विधानसभा चुनाव में उनकी मर्जी से ही टिकट बढ़ते हुए नजर आएंगे। #गैर जाट वोटरों पर एकतरफा पकड़ के चलते ही #मनोहर लाल खट्टर का परदेस में एकछत्र राज फिलहाल चल रहा है।

बात यह है कि #मनोहर लाल खट्टर ने प्रदेश की पहली #भाजपा सरकार का मुखिया बनने के बाद पूरी चतुराई के साथ राज किया है। #मुख्यमंत्री के रूप में कई बार उनके कमजोर पहलुओं के भी दर्शन हुए लेकिन उन्होंने तमाम बाधाओं को पार करते हुए पौने 5 साल के दौरान अब खुद को #भाजपा का सबसे ताकतवर नेता साबित कर दिया है।
मेयर चुनाव, जींद उपचुनाव और लोकसभा चुनाव में #भाजपा को बंपर सफलता दिलाए जाने के चलते #भाजपा हाईकमान भी उनका मुरीद हो गया है। इसके चलते उन्हें खुली छूट देते हुए सरकार चलाने की हरी झंडी मिली हुई है।
कमजोर विपक्ष ने #मनोहर लाल खट्टर को पैर जमाने में भरपूर मदद की है। पिछले 3 साल के दौरान कांग्रेस और इनेलो ने कभी भी जिम्मेदार विपक्ष के रूप में काम करते हुए #भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों और फैसलों का पर्दाफाश जनता में नहीं किया जिसके चलते सरकार की कई नाकामियों के बावजूद जनता का भरोसा #भाजपा पर कायम रहा और उसे चुनावों में उसका भरपूर फायदा भी मिला।
#मनोहर लाल खट्टर इस समय #गैर जाट वोटरों के सबसे बड़े नेता बन चुके हैं। वे आज के जमाने के भजन लाल कहे जा सकते हैं। वर्तमान हालात में न तो #भाजपा के पास उनका विकल्प है और न ही विरोधी दलों के पास उनकी काट करने वाला कोई नेता। #मनोहर लाल खट्टर ने सीएम बनने के गोल्डन चांस को पूरी तरह भुनाते हुए खुद को प्रदेश की #सियासत में दबंग नेता के रूप में स्थापित कर लिया है।
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

 

Thanks
Mr. Rajkumar  Aggarwal(Jouranlist & writer)
28 E Block  Vishnu Market Kaithal 136027 Haryana 
M0-  9416111503

Have something to say? Post your comment

More in Political

फंस गए भूपेंद्र हुड्डा,कांग्रेस छोड़ने के अलावा नहीं बचा कोई विकल्प

पार्टी के हर मापदण्डों को करके पूरा कार्यकर्ताओं की मेहनत से खिलाएंगे कमल : नौच

क्या होगा 18 अगस्त को?? हुड्डा को मजबूरी में करना पड़ा महारैली का ऐलान

विधायक टेक चंद शर्मा की बल्ले बल्ले ,मंत्री धनखड़ पहुंचे उनके कार्यलय

फंसे भूपेंद्र हुड्डा,निर्णायक फैसला नहीं लेने पर सियासी खात्मे का खतरा

कलायत,गुहला सीट सहित भाजपा में डेढ़ दर्जन सीटों पर बगावत के आसार, मचेगा चुनाव में घमासान

दलबदल राजनीति को बढाया पड सकता है भाजपा पर भारी

हरियाणा विधानसभा के लिए भाजपा के टिकट आवंटन में क्या नजर आएगा वंशवाद

विधानसभा चुनाव से पहले जेजेपी की युवा फौज तैयार 102 युवा नेताओं को सौंपी अहम जिम्मेदारी

भूपेंद्र हुड्डा नई पार्टी बनाने का ऐलान 0 जुलाई को हो सकता है , टूट रहा भूपेंद्र हुड्डा के सब्र का बांध