Saturday, August 17, 2019
 
BREAKING NEWS
इनैलो को मिल रहा है छत्तीस बिरादरी के लोगों का भरपूर समर्थन : सपना बडशामीशहीद की पत्नी संग जोड़ा भाई-बहन का नाता 18 अगस्त को होने वाली परिवर्तन रैली में लाडवा हल्के से जांएगें हजारों कार्यकत्र्ता : मेवा ङ्क्षसह बाबैन में ऐतिहासिक होगा जन आर्शीवाद यात्रा का स्वागत : रीना देवीखिलाडिय़ों के लिए स्टेडियम व बेटियों के लिए कॉलेज बनवाना होगा प्राथमिकता : गर्गफंस गए भूपेंद्र हुड्डा,कांग्रेस छोड़ने के अलावा नहीं बचा कोई विकल्परॉकी मित्तल ने ग्योंग गांव में शिक्षा एवं खेल क्षेत्रों के विद्यार्थियों को सम्मानित कियाट्रक डाइवर व क्लीनर को बंधक बना ट्रक लेकर फरार, केस दर्जपंजाबी वर्ग की जनसँख्या के अनुसार राजनैतिक पार्टी दे टिकटें: अशोक मेहता। वीर सम्मान मंच कैथल के द्वारा अटारी बॉर्डर पर मनाया गया रक्षाबंधन उत्सव:-

Haryana

बंद आँखों के बीच जेजेपी और बीएसपी में हुआ गठबंधन

August 12, 2019 09:04 AM
राजकुमार अग्रवाल
हरियाणा  में #हाथी की सवारी करने वाला नहीं पहुँचा अपनी मंजिल पर , इस बार #जजपा की बारी 
#हरियाणा की सियासत में बड़ा #धमाका , जेजेपी और बीएसपी में हुआ गठबंधन
#हरियाणा की सियासत में बड़ा #धमाका , बंद आँखों के बीच जेजेपी और बीएसपी में हुआ गठबंधन
-राजकुमार अग्रवाल--
कैथल (हरियाणा )। लोकसभा चुनाव के खराब परिणाम के बाद तमाम लोग दुष्यंत और जेजेपी को लेकर नाकारात्मक आकलन करते चले गए लेकिन दुष्यंत अपनी ही धुन में सारे आकलनों को गलत साबित करने के लिए लगे रहे।
अपने प्रेरणा कुंज जननायक स्वर्गीय #देवीलाल के दिखाए मार्ग पर चलते हुए जनता के बीच जाकर उन्होंने जहां एक तरफ अपनी पार्टी जेजेपी की नीतियों का ब्यौरा देते हुए उसके जनाधार को मजबूती देने के मिशन को अमलीजामा पहनाने का काम किया वहीं इसके साथ-साथ उन्होंने आगामी विधानसभा चुनाव में जेजेपी के बेहतर प्रदर्शन के लिए असरदार रणनीति पर काम करते हुए बीएसपी को गठबंधन करने के लिए रजामंद कर लिया।बीएसपी से गठबंधन करके दुष्यंत चौटाला ने अपने दादा ओम प्रकाश चौटाला व चाचा अभय चौटाला को सियासी तौर पर मात देते हुए यह बता दिया कि वह #देवीलाल की सियासी विरासत को उनकी तरह दूसरे दलों के साथ मिलजुल कर आगे बढ़ाने का काम सफलता से अंजाम देंगे। बसपा के साथ गठबंधन करना दुष्यंत चौटाला के सियासी भविष्य को मजबूती देने का काम करेगा।कल तक तमाम राजनीतिक पंडित यह आकलन कर रहे थे कि दुष्यंत चौटाला के लिए 2019 के विधानसभा चुनाव में कुछ भी नहीं बचा है लेकिन वे यह नहीं जानते थे कि दुष्यंत उनके आकलनों को गलत साबित करने के अभियान में जुटे हुए हैं।बसपा के साथ गठबंधन करके दुष्यंत चौटाला ने एक तीर से तीन शिकार करने का काम किया।लेकिन यहाँ यह बात भी महत्वपूर्ण है की जिसने भी हरियाणा में #हाथी की सवारी की वो कभी मंजिल पर नहीं पहुँच पाया। 
शिकार नंबर 1
दादा व चाचा को गलत साबित किया

इनेलो के विभाजन के लिए दुष्यंत चौटाला पर निशाना साधने वाले लोगों को आज उन्होंने करारा जवाब देने का काम किया। दुष्यंत ने आज बता दिया कि उनके दादा #ओम प्रकाश चौटाला और चाचा अभय चौटाला ने अपने स्वार्थ में अंधे होकर उनके परिवार को पार्टी से बेदखल करके आत्मघाती गलती करने का काम किया। ओम प्रकाश चौटाला और अभय चौटाला जहां बसपा के साथ बने बनाए गठबंधन को कायम करने में नाकाम रहे वही दुष्यंत चौटाला ने जेजेपी के गठन के चंद महीनों के अंदर 2-2 चुनाव लड़ते हुए इनेलो से कई गुना ज्यादा वोट लेकर लंबी लकीर खींचने का काम किया। 
उन्होंने यह बता दिया कि उनके दादा व चाचा उन्हें मिटाने की साजिशों में लगे रहे लेकिन वे #देवीलाल की विचारधारा को आगे बढ़ाने के मिशन में जुटे रहे। ओम प्रकाश चौटाला के गलत फैसले के कारण जहां आज इनेलो बर्बादी के कगार पर खड़ी है, वही दुष्यंत चौटाला की मेहनत और समझदारी के चलते जेजेपी बेहतर भविष्य की रोशनी में खड़ी है।

शिकार नंबर 2

हुड्डा के अरमानों को किया तार-तार

अपनी ही पार्टी में आर-पार की जंग लड़ रहे पूर्व सीएम #भूपेंद्र हुड्डा के अरमानों को दुष्यंत चौटाला ने बसपा के साथ गठबंधन करके तार-तार कर दिया। #भूपेंद्र हुड्डा 18 अगस्त को नई पार्टी का गठन करके बसपा के साथ गठबंधन करते हुए आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने की प्लानिंग रखते थे लेकिन उन्हें नहीं पता था कि दुष्यंत चौटाला उनके रास्ते में दीवार बनकर खड़े हो जाएंगे और बसपा के साथ गठबंधन करके उन्हें जोर का झटका देंगे।
बसपा से गठबंधन होने के कारण जहां जेजेपी को भरपूर फायदा होगा वही #भूपेंद्र हुड्डा के लिए अकेले चुनाव लड़ने पर बड़ी परेशानियां खड़ी होंगी। हुड्डा के साथ नई पार्टी में जाने की सोच रहे कई नेता भी अब बसपा के फैसले के बाद अपने सियासी भविष्य को लेकर पुनर्विचार करने को मजबूर होंगे। दुष्यंत चौटाला ने बसपा के साथ गठबंधन करके #भूपेंद्र हुड्डा की नई पार्टी की लांचिंग से पहले बड़ी सियासी बढ़त हासिल करने का काम किया है।

शिकार नंबर 3

#भाजपा के पहले विकल्प के दावेदार बने

बसपा के साथ गठबंधन करते ही जननायक जनता पार्टी आगामी विधानसभा चुनाव के लिए #भाजपा के पहले विकल्प के रूप में मजबूत दावेदारी पेश कर गई है। जेजेपी और बीएसपी दोनों मिलकर #इनेलो और कांग्रेस को पछाड़ते हुए #भाजपा के लिए "मिशन 75" की राह में रोड़ा साबित होंगे। अभी तक अकेले व कमजोर नजर आने वाली जेजेपी और बसपा गठबंधन की जुगलबंदी में एक और एक ग्यारह की पोजीशन में आ गए हैं। अब कांग्रेस और #भाजपा से बगावत करने वाले टिकटार्थियों के लिए जेजेपी और बसपा का गठबंधन पहला विकल्प नजर आएगा जो इस गठबंधन की ताकत को बढ़ाने का काम करेगा।

 बात यह है कि दुष्यंत चौटाला ने बसपा के साथ गठबंधन करके बड़ा सियासी #धमाका करने का काम किया है। सियासत में रुचि रखने वाले लोग #भूपेंद्र हुड्डा की पार्टी का बसपा के साथ गठबंधन होने का अनुमान लगा रहे थे लेकिन दुष्यंत चौटाला ने उनके आकलनों पर ब्रेक लगाते हुए प्रदेश की राजनीति में नया ट्विस्ट पेश कर दिया है। अभी तक अलग-अलग खड़ी जेजेपी और बीएसपी दोनों ही कमजोर पार्टियां नजर आ रही थी लेकिन गठबंधन के बाद अब दोनों ही पार्टियां मजबूती की नई मिसाल पेश करेंगी। दुष्यंत चौटाला ने बीएसपी के साथ गठबंधन करके समझदारी भरा फैसला किया है। इस फैसले से न केवल जेजेपी के वर्करों और वोटरों के हौसले बुलंद होंगे बल्कि बसपा और जेजेपी का गठबंधन #भाजपा को कड़ी टक्कर देने का काम भी कर सकता है। 
#हाथी पर सवार होते ही दुष्यंत चौटाला ने इनेलो, कांग्रेस और #भूपेंद्र हुड्डा तीनों को ही एक वार में पछाड़ने का काम किया है। दुष्यंत चौटाला ने यह साबित कर दिया कि वह छोटी उम्र में भी बड़ी सियासत करने का दमखम रखते हैं और अपने परदादा जननायक देवी लाल की राह पर चलते हुए प्रदेश की सियासत को अपने बलबूते पर बदलने की काबिलियत रखते हैं।
अब देखना यह है कि यह नया गठबंधन दोनों दलों के समर्थकों और प्रदेश की जनता की कसौटी पर कितना खरा उतरता है आगामी विधानसभा चुनाव में क्या कमाल कर दिखाता है?
 
 
 
 

 

Thanks
Mr. Rajkumar  Aggarwal(Jouranlist & writer)
28 E Block  Vishnu Market Kaithal 136027 Haryana 
M0-  9416111503

Have something to say? Post your comment

More in Haryana

शहीद की पत्नी संग जोड़ा भाई-बहन का नाता

रॉकी मित्तल ने ग्योंग गांव में शिक्षा एवं खेल क्षेत्रों के विद्यार्थियों को सम्मानित किया

पंजाबी वर्ग की जनसँख्या के अनुसार राजनैतिक पार्टी दे टिकटें: अशोक मेहता।

वीर सम्मान मंच कैथल के द्वारा अटारी बॉर्डर पर मनाया गया रक्षाबंधन उत्सव:-

मनोहर लाल ने स्वर्गीय स्नेहलता के निधन पर जताया शोक

अमित शाह ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल की जमकर तारीफ की, दिये 10 में से 10 नंबर

स्व. अटल बिहारी की प्रथम पुण्यतिथि पर दी श्रद्धांजली

लाडवा के अनेक स्कूलों में धूमधाम से मनाया गया 73वां स्वतंत्रता दिवस

लाडवा की श्री अग्रवाल सभा ने शहर के महाराजा अग्रसेन चौंक पर धूमधाम से मनाया 73वां स्वतंत्रता दिवस

एसडीएम घरौंडा गौरव कुमार ने किया ध्वजारोहण, परेड की ली सलामी