Tuesday, June 25, 2019
 
BREAKING NEWS
लुप्त हुए "तरावड़ी गेट' और 'बाजारी गेट' कुछ हिस्सा बचने पर ऐतिहासिक करनाली गेट का होगा पुन: निर्माणइंडिया टीम में तेज गेंदबाजी कर परचम लहराऐगा तरावड़ी का नवदीप सैणीनशा मुक्ति दिवस पर 26 जून को सैमिनार, बुद्धिजिवी वर्ग तथा सामाजिक संस्थाए करेंगी प्रतिभागी प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना लागू ,गरीब व्यक्ति को भी आर्थिक लाभ मिलेगा -डीसी दीपेंद्र को हरियाणा कांग्रेस प्रधान बनवाने के लिए बड़ी ताकतें हुई लामबंद,कांग्रेस के आधा दर्जन बड़े नेता कर रहे सामूहिक प्रयासनगर परिषद कैथल के सफाई कर्मचारियों ने सर्वसम्मति से अंगूरी देवी को चुना प्रधान पत्रकार संघ के प्रदेशाध्यक्ष बने तरावड़ी के संजीव चौहानलाड़वा हल्के मे मल्टीपल खेल स्टेडिरूम बनवाना होगा प्राथमिकता : संदीप गर्गमुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व मे लाड़वा हल्के ने छुए विकास के नए आयाम : पवन सैनी भाजपा विधायक ने मंत्री के सामने लगाए एसपी मुर्दाबाद के नारे

Literature

मां का दर्जा पिता से दस गुणा अधिक होता है: सुदीक्षा

April 27, 2017 04:58 PM
संजय गर्ग
मां का दर्जा पिता से दस गुणा अधिक होता है: सुदीक्षा 
कथा के तीसरे दिन भारी संख्या में उमड़े श्रद्धालु 
लाडवा, 27 अप्रैल (संजय गर्ग): श्री सुश्री सुदीक्षा सरस्वती जी महाराज ने कहा कि प्रभु राम ने शबरी को नौ प्रकार की नवधा भक्ति बताई, प्रभ ने कहा कि आप भक्ति की मूर्ति हैं, तभी आपकी भक्ति से प्रसन्न होकर आपसे मिलने आया हुं। यह भक्ति संसार के लिए है। इसमें से जिस मनुष्य में एक भी गुण होगा, वह मेरा भक्त होगा। 
बृहस्पतिवार को ब्राह्मण धर्मशाला में चल रही श्री राम कथा के तीसरे दिन अपने प्रवचनों में श्री सुश्री सुदीक्षा सरस्वती महाराज जी बोल रही थी। उन्होंने कहा कि सबरी तरे अंदर तो नौ प्रकार के गुण हैं। लक्ष्मण जी ने प्रभु से एकांत देखकर भक्ति ओर ज्ञान के बारे में जानना चाहा। व्याख्या लंबी है, काफी समय लगेगा, थोडे समय में कहुं चित लगाकर सुनों, भक्ति व शबरी को दिए नवभक्ति के सूत्र समझाए। उन्होंने कहा कि शुभकर्म का समय नहीं होता। शुभकर्म अपना समय साथ लेकर आता है। शुभकर्म को कल पर न टालें, उन्होंने कहा कि मां का दर्जा पिता से दस गुणा बड़ा होता है। उन्होंने कहा कि सौतेली मां का रिश्ता मां से दस गुणा अधिक है। राम यदि केकयी की भी सहमति हो तो वन में जरुर जाओं, राम के वन जाने से आयौध्या का दुर्भाग्य जाग जाएगा औन वन में जाने से वन का भाग्य जाग जाएगा। कौशल्या माता ने मन मार कर राम को वन में जाने की आज्ञा दी। उन्होंने कहा कि  गुरु के आदेश को भी कभी न टाले, उसमें हेर-फेर न करें। महापुरुषों की वाणी सहज स्वभाव की होती है। जो संत ने कहा तुरंत कर डालों उसी में कल्याण है। इस अवसर पर ब्राह्मण सभा के प्रधान सोम प्रकाश शर्मा, प्रदीप गर्ग, जितेंद्र शर्मा, सतपाल धीमान, राजेश गर्ग, विनोद गर्ग, सुनील गर्ग, बृजेश शर्मा, पवन बंसल, अश्वनी शर्मा, सुनील चोपड़ा, शीशपाल, धर्मपाल, फेकीर चंद, राजेन्द्र धवन, सुभाष शर्मा, बलदेव अरोड़ा, सुरेश धवन, रोकी शर्मा, महेश गोसांई, अश्वनी गोसांई, जितेंद्र अत्री, मदन लाल सोनी, नरेंद्र सैन, नीरज गर्ग, कोशल सिंगला, शशि गोयल सहित भारी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित थे।

Have something to say? Post your comment

More in Literature

जवान लड़कियां संन्यास लेती हैं तो आप उन्हें मां क्यों कहते है?

मिश्रित फल देगा नव विक्रम सम्वत-2076, होंगे राजनैतिक परिवर्तन मिथुन, तुला और कुम्भ राशि और लग्न वालों को लाभ होगा

सिद्ध श्री बाबा बालक नाथ जी प्रचार समिति फरीदाबाद भजनो भरी शाम बाबा जी के नाम का आयोजन किया

सरस्वती अन्नपूर्णा भण्डारा सेवा समिति द्वारा सरस्वती मंदिर मे भंडारे का आयोजन किया

पिहोवा-पितरों की आत्मिक शांति के लिए सरस्वती तीर्थ पर पहुंचने लगे श्रद्धालु

6 अप्रैल से परिधावी नामक नवसंवत 2076 एवं चैत्र नवरात्रि आरंभ

होली आई रे .... होलिका दहन, 20 मार्च की रात्रि 9 बजे के बाद, रंग वाली होली 21 को।

गुरू मां सम्मेलन में मिलती है अनोखी अलौकिक शक्तियां : सुरेंद्र पंवार

खाटू श्याम में बाबा का मेला शुरू, श्याममय हुआ समूचा क्षेत्र, प्रतिदिन गुजरने लगे है श्याम प्रेमियों के जत्थे

शीश के दानी का सारे जग में डंका बाजे ने देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी एक अलग पहचान बनाई - लखबीर सिंह लख्खा