Tuesday, June 25, 2019
 
BREAKING NEWS
नगर परिषद कैथल के सफाई कर्मचारियों ने सर्वसम्मति से अंगूरी देवी को चुना प्रधान पत्रकार संघ के प्रदेशाध्यक्ष बने तरावड़ी के संजीव चौहानलाड़वा हल्के मे मल्टीपल खेल स्टेडिरूम बनवाना होगा प्राथमिकता : संदीप गर्गमुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व मे लाड़वा हल्के ने छुए विकास के नए आयाम : पवन सैनी भाजपा विधायक ने मंत्री के सामने लगाए एसपी मुर्दाबाद के नारेये मर्द बेचारा फिल्म की फरीदाबाद में हो रही शूटिंगअमेठी में पंचायत उपचुनाव को लेकर बजा बिगुल, डॉ योगेश कुमार बनाये गये बाजार शुक्ल चुनाव अधिकारीशाहाबाद- निजी अस्पताल में चल रहा था सेक्स रैकेट, कई पकडे गए नए-नए कानून योजना तुरंत बणा दिए तैयार तनै,हरियाणा में ठाठ ला दिए बीजेपी सरकार तनै-डीपीआरओ युवा चेहरों को मौका मिला तो बदल जाऐंगे राजनीति के मायने

Literature

श्री मद्भगवती महामाया आदि शक्ति स्वमंभू महाकाली मन्दिर का स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया

May 10, 2017 05:17 PM
एएच ब्यूरो

कुरुक्षेत्र, 10 मई : गांव शांति नगर कुरड़ी में जय ओंकार आश्रम आदि शांति पीठ कुरड़ी में जय ओंकार अन्तर्राष्ट्रीय सेवाश्रम संघ संस्थापक श्री श्री 1008 सदगुरूदेव स्वामी श्री शक्ति देव जी महाराज कुरड़ी वाले एवं श्री श्री 1008 सदगुरूदेव स्वामी श्री संतोष ओंकार जी महाराज वालों के सानिध्य में श्री मद्भगवती महामाया आदि शक्ति स्वमंभू महाकाली मन्दिर का स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया। मां आदि शक्ति का भव्य भवन 108 फुट ऊंचा सुन्दर लडिय़ों से सजाया गया और मां को भोग लगाकर मां के स्वरूप कन्याओं का पूजन कर भंडारे का श्री गणेश कुरड़ी वाले महाराज श्री जी द्वारा किया गया। मां के नाम से ओंकार महायज्ञ किया, जिसमें समस्त श्रद्धालुओं द्वारा आहुतियां डाली गई। पूर्णाहुति सद्गुरूदेव स्वामी श्री शक्ति देव जी महाराज एवं सद्गुरू मां संतोष ओंकार जी महाराज कुरड़ी वालों द्वारा डाली गई। कुरड़ी वाले महाराज जी ने प्रेरणा दी कि मां आदि शक्ति का भव्य एवं सुन्दर अन्य नहीं है। 108 फुट ऊंचे मन्दिर में  मां का सवा 7 फुट ऊंचा विशाल स्वरूप है। जो बर्बस ही अपनी ओर आकर्षित करता है अर्थात मां का मन्दिर व मूर्ति अति सुन्दर व भव्य है। आदि शक्ति मां ागवान श्री ब्रह्मा, विष्णु महेश जी कि अधिष्ठात् मां है। मां को प्रलयकारी देव भी माना गया है। मां के चरणों में आने से सभी मनोकामनाएं स्वत: ही पूर्ण हो जाती हैं। मां के दर पर हाजरी लगाने वालों को गुरू कृपा से कभी भी अकाल कष्ट नहीं आता है। संघ संचालक पं. शिवनारायण दीक्षित ने बताया कि मां के मन्दिर में प्रति नवरात्रे, अष्टमी व शनिवार के दिन श्रद्धालुजन अपनी हाजरी लगाते हैं और कन्या पूजन किया जाता है। इस अवसर पर अधिवक्ता जयनारायण दीक्षित , राजेश दहिया, प्रशांत शर्मा, रणधीर मेहरा, गुलशन शर्मा, रणवीर जागलन, राधेश्याम शर्मा, संजय मिड्डा, मान सिंह व समस्त ग्राम वासी मौजूद रहे।

Have something to say? Post your comment

More in Literature

जवान लड़कियां संन्यास लेती हैं तो आप उन्हें मां क्यों कहते है?

मिश्रित फल देगा नव विक्रम सम्वत-2076, होंगे राजनैतिक परिवर्तन मिथुन, तुला और कुम्भ राशि और लग्न वालों को लाभ होगा

सिद्ध श्री बाबा बालक नाथ जी प्रचार समिति फरीदाबाद भजनो भरी शाम बाबा जी के नाम का आयोजन किया

सरस्वती अन्नपूर्णा भण्डारा सेवा समिति द्वारा सरस्वती मंदिर मे भंडारे का आयोजन किया

पिहोवा-पितरों की आत्मिक शांति के लिए सरस्वती तीर्थ पर पहुंचने लगे श्रद्धालु

6 अप्रैल से परिधावी नामक नवसंवत 2076 एवं चैत्र नवरात्रि आरंभ

होली आई रे .... होलिका दहन, 20 मार्च की रात्रि 9 बजे के बाद, रंग वाली होली 21 को।

गुरू मां सम्मेलन में मिलती है अनोखी अलौकिक शक्तियां : सुरेंद्र पंवार

खाटू श्याम में बाबा का मेला शुरू, श्याममय हुआ समूचा क्षेत्र, प्रतिदिन गुजरने लगे है श्याम प्रेमियों के जत्थे

शीश के दानी का सारे जग में डंका बाजे ने देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी एक अलग पहचान बनाई - लखबीर सिंह लख्खा