Wednesday, June 26, 2019
 
BREAKING NEWS
1500 रूपये लेकर MLA के फर्जी लैटर पैड पर आधार कार्ड बनाने वाले 6 गिरफ्तारतरावड़ी प्रशासन नही गंभीर, समाजसेवियों के भरोसे गौ-रक्षाजरूरत के हिसाब से पानी का करें प्रयोग : सूर्या सैनीजनता ने भाजपा को फिर से प्रदेश मे सत्ता सौंपने का बनाया मन : पवन सैनीलुप्त हुए "तरावड़ी गेट' और 'बाजारी गेट' कुछ हिस्सा बचने पर ऐतिहासिक करनाली गेट का होगा पुन: निर्माणइंडिया टीम में तेज गेंदबाजी कर परचम लहराऐगा तरावड़ी का नवदीप सैणीनशा मुक्ति दिवस पर 26 जून को सैमिनार, बुद्धिजिवी वर्ग तथा सामाजिक संस्थाए करेंगी प्रतिभागी प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना लागू ,गरीब व्यक्ति को भी आर्थिक लाभ मिलेगा -डीसी दीपेंद्र को हरियाणा कांग्रेस प्रधान बनवाने के लिए बड़ी ताकतें हुई लामबंद,कांग्रेस के आधा दर्जन बड़े नेता कर रहे सामूहिक प्रयासनगर परिषद कैथल के सफाई कर्मचारियों ने सर्वसम्मति से अंगूरी देवी को चुना प्रधान

Entertainment

चार माह तक नही गूंजेेंगी शहनाइयां

July 03, 2017 09:13 PM
एएच ब्यूरो

चार माह तक नही गूंजेेंगी शहनाइयां
( पोहड़का)

ऐलनाबाद
इस वर्ष मांगलिक कार्यों की खूब धूम रही। जून माह मेेंं सबसे अधिक विवाह हुए है। जुलाई में विवाह के कार्यक्रम देवशयनी से पूर्व तक रहेंगे। ऐसे मेंं विवाह के कार्य तीन दिन शेष है। इस के बाद देवउठनी ग्यारस तक मांगलिक कार्यो मेंं विराम लग जाएगा। पंडित रामरतन सारस्वा एवं पंडित महावीर शर्मा ने बताया कि देवशयनी एकादशी चार जुलाई को है। इसके साथ ही मांगलिक कार्यक्रमों पर विराम लग जाएगा। इस दिन विशाखा नक्षत्र, सिद्ध योग मेंं तुला, वृृश्चिक के मध्य से वृश्चिक राशि मेंं गमन चन्द्र मेेंं विष्णु शयनोत्सव होगा। क्षीर सागर मेंं चार मास तक विष्णु भगवान विश्राम के लिए जाएंगे। इसके साथ ही सभी देवी देवता भी विश्राम करेंगे। उन्होंने बताया कि ऐसी मान्यता है कि देवशयन के दौरान प्रभु विश्राम करते है। किसी भी शुभ व मांगलिक कार्यक्रम मेंं देवी-देवताओं की उपस्थिति से कार्य की सम्पन्नता मानी जाती है। इस लिए देवशयन में कार्यक्रम नहीं किए जाते। 31 अक्टूबर को देवउठनी एकादशी के दिन भगवान जागेगें। इस चार माह में मांगलिक व शुभ कार्य वर्जित होगें। इस दौरान पूजन भजन कीर्तन एवं कथाश्रवण का विशेष महत्व माना जाता है। इस समय भगवान की कथा के कार्यक्रम होगें। उन्होंने बताया कि इन चार माह में श्रावण मास मेंं शिव पूजन इसके बाद जन्माष्टमी, गणेश चतुर्थी, नवरात्रि जैसे महत्वपूर्ण पर्व व त्योहार मनाए जाएंगे।
बॉक्स:-
नवंबर व दिसंबर में है ये सावे :-
देवउठनी एकादशी के बाद वैवाहिक कार्यक्रम पुन: शुरू हो जाएंगे। इस वर्ष के अंतिम दो माह मेें भी खूब शहनाइयां बजेंगी। नवंबर में छह 19, 20, 23, 28 एवं 29 तथा दिसंबर मेंं सात 3, 4, 8, 9, 10, 11 एवं 12 विवाह के मुहुर्त है। इन तिथियों मेंं विवाह के कार्यक्रम होगें।

Have something to say? Post your comment

More in Entertainment

ये मर्द बेचारा फिल्म की फरीदाबाद में हो रही शूटिंग

शाहाबाद- निजी अस्पताल में चल रहा था सेक्स रैकेट, कई पकडे गए

68 साल के बुजुर्ग के साथ 19 साल की लड़की पकड़ी

म्यूजिक जगत में खास पहचान बनाने के लिए उसकी बारीकियों को जानना जरूरी : वर्मा

मौसी ने अपनी ही भांजी के साथ करवाया दुष्कर्म

छोड़ा खुला कैमरा, आकर देखा तो दोस्त के साथ पत्नी का दिखा अतरंग वीडियो

महिला आयोग ने देह व्यापार के रैकेट का किया भंडाफोड़, चार नाबालिग लड़कियां मुक्त कराईं

सोनू सिंह के सौजन्य हुआ होली मिलन समारोह, पहुंचे कई दलों के राजनीतिक दिग्गज

राजौंद -पुलिस कर्मी महिला से साथ मिले आपत्तिजनक अवस्था में , ग्रामीणों ने जमकर की धुनाई

बिना दहेज केवल 1 रुपया लेकर भाजपा नेत्री के बेटे ने कर ली शादी