Friday, June 21, 2019
 
BREAKING NEWS
मिशन 2024 पर निकले रणदीप सुरजेवाला,किसान कांग्रेस के जरिए पूरे प्रदेश में समर्थकों को किया एडजैस्टहिमाचल में बस 500 फीट गहरी खाई में गिरी, 28 की मौत; 32 घायलफरीदाबाद की एक और बेटी तनीषा दत्ता ने किया देश का नाम रौशनयोग करता है मन की वृतियों को नियंत्रण में, होती है मानसिक, शारीरिक, अध्यात्मिक स्वास्थ्य की प्राप्ति : आरके सिंहभाजपा आईटी सेल के बनाए ग्रुपों में राजकुमार सैनी के खिलाफ अफवाह चलाने की चर्चाएं !करवाएंगे केस दर्ज : सैनीकैथल खाद्य एवं आपूर्ति विभाग को कैशलेस करने की योजना !कैथल की सरकार पर भ्रष्टाचार मामले में एफआईआर दर्ज होने के बाद भी कोई कार्रवाई न होना बना रहा हास्यास्पद स्थिति !नही चले अयुष्मान कार्ड, बेटे के ईलाज के लिए दर-दर भटक रहे परिजनमर रही थी गाये, न खाने के लिए प्रर्याप्त चारा न की जाती थी देखभाल डीसीआरयूएसटी में एम.एससी. कैमिस्ट्री बना हुआ है टॉप च्वाइस. कैमिस्ट्री में 261 व पीएच.डी में कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग में 85 ने किया आवेदन

World

ऑस्ट्रेलिया तथा यूके में भी धूम मचा रही है गीता जयंती

December 05, 2016 07:07 PM
General

ऑस्ट्रेलिया तथा यूके में भी धूम मचा रही है गीता जयंती
 हरियाणवी संस्कृति के लिए वरदान साबित हो रहा है गीता जयंती महोत्सव, ब्रहमसरोवर का पावन तट बना हरियाणवी संस्कृति का साक्षी
 कुरुक्षेत्र 5 दिसम्बर (AHN)अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती समारोह में क्राफ्ट मेले के अंतर्गत हरियाणा की संस्कृति की झलक देखने को मिल रही है। इसके साथ ही हरियाणवी कलाकारों के लिए यह मेला वरदान साबित हो रहा है। यह उद्गार धरोहर हरियाणा संग्रहालय के प्रभारी डॉ. महासिंह पूनिया ने गीता जयंती समारोह में हरियाणवी कलाकारों से बातचीत करते समय कहे। 

(MOREPIC1) 


 उन्होंने कहा कि ब्रह्मसरोवर के तट पर अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती समारोह में हरियाणवी जंगम जोगी जहां एक ओर शिव एवं पार्वती की कथा प्रस्तुत कर हरियाणवी लोक गायकी को बढ़ावा दे रहे हैं। वहीं पर दूसरी ओर जोगियों की मंडली सारंगी के साथ जोगी गीत तथा लोक गाथाओं का प्रस्तुतीकरण कर पर्यटकों का मन मोह रहे हैं। इसके साथ ही बीन एवं तुम्बे के साथ सपेरा पार्टी भी सपेरा नृत्य प्रस्तुत कर हरियाणवी संस्कृति की महक पर्यटकों तक पहुंचाने के लिए सार्थक प्रयास कर रहे हैं। डॉ. पूनिया ने कहा कि समारोह में बंचारी कलाकार बंचारी नृत्य के माध्यम से बृज की सांस्कृतिक झलक ब्रह्मसरोवर के तट पर प्रस्तुत कर रहे हैं। इससे हरियाणवी संस्कृति के विविध आयामी स्वरूप ब्रह्मसरोवर के तट पर देखने को मिल रहे हैं। 

 

(MOREPIC2) 
 डॉ. पूनिया ने कहा कि हरियाणवी कलाकार हरियाणा की संस्कृति के जो स्वरूप ब्रह्मसरोवर के तट पर बिखेर रहे हैं वास्तव में यह हरियाणवी संस्कृति एवं कलाकारों के लिए वरदान का कार्य है। जोगियों द्वारा गाया जाने वाला शाका एवं पावडा अतीत का हिस्सा बन चुका है। जोगियों की मंडली जिस तरीके से लोक गाथाओं को प्रस्तुत कर रही है उससे नई पीढ़ी को हरियाणवी संस्कृति से जुडऩे का मौका मिल रहा है। इसके अतिरिक्त बांसली, बीन तथा ढ़ोलक के साथ हरियाणवी कलाकार लोक धुनों को प्रस्तुत कर पर्यटकों को नाचने के लिए मजबूर कर रहे हैं। इतना ही नहीं हरियाणवी कलाकारों को अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती मंच के माध्यम से हरियाणवी संस्कृति को विदेशों तक पहुंचने का मौका मिल रहा है

(MOREPIC3) 

। डॉ. पूनिया ने यह भी बताया कि इंग्लैंड तथा ऑस्ट्रेलिया में हरियाणा निवासी वहां पर स्थापित रेडिय़ो के माध्यम से भी गीता जयंती तथा हरियाणवी संस्कृति का प्रचार-प्रसार कर रहे हैं। डॉ. पूनिया ने बताया कि आने वाले दिनों में हरियाणा की यह सांस्कृतिक धरोहर कलाकारों एवं संस्कृति के लिए मील का पत्थर साबित होगी।

Have something to say? Post your comment

More in World

अनमोल शर्मा करेगा वर्ल्ड पीस कमेटी ( इंडोनेशिया) की तरफ से भारत को रिप्रेजेंटेटिव।

इमरान खान ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखा खत, कहा- मुद्दे सुलझाने के लिए बातचीत जरूरी

पैंतरेबाज' चीन का मसूद अजहर मामले में कैसे हुआ हृदय परिवर्तन, जानिए अब क्या होगा

श्रीलंका धमाकों में 290 की मौत, 24 गिरफ़्तार

पाकिस्तान में एक और हिंदू किशोरी का अपहरण, जबरन धर्म परिवर्तन

सऊदी अरामको की नजर आरआईएल के रिफाइनिंग और पेट्रोकेमिकल की 25 फीसदी हिस्सेदारी पर, बातचीत जारी

एफिल टावर को टक्कर देने वाली इमारत में लगी भीषण आग, अपने ट्वीट से घिरे डोनाल्ड ट्रंप

बीआरआई फोरम बैठक का फिर बहिष्कार कर सकता है भूटान, भारत का देगा साथ

फिर ठुकराया भारत ने चीन का न्योता , बीआरआई में नहीं होगा शामिल

अमेरिका से आई 15 साल की छात्रा रेहा जैन,बदल गया मन अब करेगी ये काम