Friday, May 24, 2019
BREAKING NEWS
बड़े बड़े राजनीतिक धुरंधर हुए धराशाही , राहुल और प्रियंका भी कांग्रेस का काँटा निकालने से नहीं बचा पाए 23 मई को जन्मे बच्चे का नाम रखा मोदीअशोक अरोड़ा ने अपने पद से दिया त्यागपत्रसिवानी मण्डी के किसानों ने फसलों के भुगतान की मांग की।पुतिन से लेकर ट्रंप तक, हर देश ने दी PM मोदी को बधाईभाजपा प्रत्याशी संजय भाटिया करीब 6 लाख 56 हजार 142 मतों से हुए विजयी* मतगणना शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न: जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त विनय प्रताप सिंहभाजपा के नवनिर्वाचित सांसद नायब सैनी ने कैथल में कार्यकर्ताओं के साथ मनाया जश्नजनता ने की भाजपा की नीतियों मे कि आस्था व्यक्त : सुर्या सैनीजनता ने प्रदेश सरकार व केन्द्र सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों पर लगाई अपनी मोहर : सुरेश कश्यपपरिवारवाद हारा,जनता जीती -मनोहर लाल

Business

बिटकॉइन को लेकर इनकम टैक्स विभाग के छापे, वेबसाइट बंद ! निवेशकों के करोड़ों रुपये फंसे

December 16, 2017 06:19 PM
अटल हिन्द ब्यूरो
बिटकॉइन को लेकर इनकम टैक्स विभाग के छापे, वेबसाइट बंद ! निवेशकों के करोड़ों रुपये फंसे
(अटल हिन्द )
देश में बिटकॉइन की खरीद-फरोख्त करवाने वाली कंपनियों पर इनकम टैक्स विभाग के छापों के बाद कंपनी की वेबसाइट बंद होने के बाद इससे जुड़े गाजियाबाद समेत दिल्ली-एनसीआर और पूरे यूपी के हजारों अकाउंट ब्लॉक हो गए हैं। ऐसे में बिटकॉइन खरीद चुके लोगों का डिजिटल वॉलिट भी ब्लॉक हो गया है। बताया जा रहा है कि ऐसे लोगों के करोड़ों रुपये इसमें फंसे हैं। दिल्ली स्थित आर्थिक अपराध शाखा में दिल्ली के 15 लोगों ने इस संबंध में शिकायत भी दर्ज करवाई है। आरोप है कि हैदराबाद (आंध्र प्रदेश) की वेबसाइट 15 दिन से ब्लॉक है। कंपनी संचालक ने 24 घंटे में सब ठीक होने की बात कही है।
बिटकॉइन वेबसाइट बंद होने के बाद लोग परेशान
बिटकॉइन खरीदने वाले वेंकटेश ने बताया कि इससे पहले कंपनी की वेबसाइट बंद नहीं हुई। अभी कारण मेंटिनेंस बताया जा रहा है, लेकिन आयकर विभाग के शिकंजे के बाद से इसके शुरू नहीं होने से लोग परेशान हैं।
 
दो साल में 7 हजार से 14 लाख पहुंची कीमत
दो साल पहले एक बिटकॉइन महज 7 हजार रुपये का था। नोटबंदी के बाद इसकी कीमत अचानक 36-45 हजार रुपये हो गई। इस साल सितंबर में इसकी कीमत 5 लाख, अक्टूबर में साढ़े नौ लाख और नवंबर में 14 लाख रुपये हो गई।
 
नोटबंदी के बाद आयकर विभाग के रडार पर आए
आयकर विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि बिटकॉइन इंडिया में लीगल नहीं है। नोटबंदी के बाद से बिटकॉइन की कीमत बढ़ने से इसमें ब्लैकमनी लगने का शक हुआ।
 
शिकायत: दिल्ली के 15 लोगों ने आर्थिक अपराध शाखा में की शिकायत, गाजियाबाद के 100 पीड़ितों ने बनाया वॉट्सऐप ग्रुप
 
बिटकॉइन: वो सब जो आप जानना चाहते हैं
 
एक्सपर्ट बताते हैं कि बिटकॉइन वर्चुअल करंसी है। हालांकि भारत में इसे करंसी नहीं, कमोडिटी की तरह मानकर निवेश किया जाता रहा है।
भारत में 10 कंपनियां खरीद-फरोख्त करवाती हैं। अकाउंट खोलकर एक ई-वॉलिट जारी किया जाता है।
विश्व में 2 करोड़ 10 लाख बिटकॉइन की सेल ही हो सकती है। इसमें डिमांड के बढ़ने के साथ ही इसके रेट भी बढ़ जाते हैं।
बिटकॉइन की शुरुआत जापानी मूल के इंजिनियर सातोषी नाकामोतो ने की थी। बिटकॉइन में 500 रुपये से करोड़ों रुपये का निवेश किया जा सकता है।
एक बिटकॉइन में 10 लाख सातोषी होते हैं। जो लोग महंगे बिटकॉइन नहीं ले सकते, वह सातोषी में पैसा लगा सकते हैं।
चीन और रूस में इसकी माइन होने के कारण दोनों की जगहों को बिटकॉइन का गढ़ माना गया है।

Have something to say? Post your comment

More in Business

आप व्यापार संगठन लोक सभा फरीदाबाद, लोकसभा क्षेत्र की सभी नौ विधानसभाओं में व्यापारियों की बैठक आयोजित करेगा

राईस मिलर्स पर लगाया नाजायज होल्डिंग चार्ज वापिस ले विभाग : नरेश बंसल

10 लाख 35 हजार का चेक बाउंस होने पर 6 महीने की सजा

कैथल आढ़तियों की हड़ताल तुड़वाने के लिए एस डी एम ईशा कम्बोज हुई सक्रिय

लाइसेंस रिन्यू नही हुये तो शनिवार 13 अप्रैल से सरकार के खिलाफ कमेटी प्रांगण में अनिश्चितकालीन धरना

टूटे प्रधानगिरी के दो धड़े, उद्योगपत्तियों ने नाथीराम को घोषित किया मंडी प्रधान

लोकसभा चुनाव 2019: वोट डालकर आने पर पेट्रोल पंप पर मिलेगी छूट, जानें पूरा ऑफर

1 रुपये में रेडमी नोट 7 प्रो खरीदने का शानदार मौका

कर्मचारियों की ड्यूटी चुनाव में ,क्या गेहूं की खरीद सीधे हो पाएगी

ओटीटी क्षेत्र में क्षेत्रीय सामग्री की कमी ,दर्शक अब टीवी की तुलना में मीडिया स्ट्रीमिंग पर अधिक समय दे रहे हैं