AtalHind
कैथलटॉप न्यूज़

भ्रष्टाचारियों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, भ्रष्टाचारियों की जगह जेल में–,अवैध कॉलोनियों में नहीं दी जा सकती सरकारी सुविधाएं :- मूलचंद शर्मा

भ्रष्टाचारियों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, भ्रष्टाचारियों की जगह जेल में–,अवैध कॉलोनियों में नहीं दी जा सकती सरकारी सुविधाएं :- मूलचंद शर्मा
जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने निपटाए 13 मामले–बैठक में एजेंडा अनुरूप रखे गए थे 16 मामले–गांव दुब्बल में जमीनी मामले को लेकर जनप्रतिनिधियों के बारे में सही भाषा प्रयोग न करने पर मंत्री ने पटवारी को सस्पेंड करने के दिए आदेश।

कैथल,  31 मार्च ( Atal Hind ) हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि  प्रदेश में भ्रष्टाचार को कतई सहन नहीं किया जाएगा। भ्रष्टाचारियों की जगह तो जेल में है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के मार्गदर्शन में प्रदेश में भ्रष्टाचार पर शिकंजा कसा जा रहा है। किसी भी भ्रष्टाचारी  का बख्शा नहीं जाएगा, चाहे व सरकारी अधिकारी, राजनीतिक या फिर ठेकेदार हो।
पिछली सरकारें भ्रष्टाचार को संरक्षण देती थी, लेकिन मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सरकार भ्रष्टाचार को जड़ से उखाड़ फेंकने का काम करती है। परिवहन मंत्री स्थानीय लघु सचिवालय के सभागार में जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक के उपरांत मीडिया से बात कर रहे थे। मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि हमारा मुख्य उद्देश्य लोगों के घर द्वार पर सेवाएं और सुविधाएं उपलब्ध करवाना है। हमारी सरकार इस दिशा में बेहतर कार्य कर रही है।
मंत्री ने एजेंडा अनुरूप पुरानी शिकायतों को सुनते हुए शिकायत नम्बर एक में शिकायतकर्ता भतेरी देवी की शिकायत पर कि उनका बेटा काफी समय से लापता है और पुलिस सहयोग नहीं कर रही है। इस पर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि जांच के उपरांत प्रार्थी को लेकर पूरी जानकारी दे दी जाएगी। शिकायत नम्बर 2 में ईश्वर दयाल निवासी निसंग ने शिकायत की कि गांव सजूमा में उनकी जद्दी जायदाद थी, जिसको उनके भाइयों ने उनके पिता को बहका फुसलाकर गलत तरीके से अपने नाम करवा लिया।
मंत्री ने की गई शिकायत का संज्ञान लेते हुए एसपी को निर्देश दिए कि वे मामले की छानबीन करें और इसकी रिपोर्ट दें। शिकायत नम्बर 3 में सुभाष चंद निवासी पाई को शिकायत को सुनते हुए मंत्री ने फाइल करने के निर्देश दिए।
इसी तरह शिकायत नम्बर 4 में मांगे राम शर्मा निवासी दुब्बल ने शिकायत की कि गांव में वर्ष 1960 में किलेबंदी हुई और भूमिहीन समुदाय को 60-60 वर्ग गज रूड़ी की जमीन दी गई थी। गांव के कुछ लोग रूड़ी की जमीन पर कब्जा करना चाहते हैं।
इस पर एसडीएम कलायत को निर्देश देते हुए कहा कि वे विषयगत जांच करके रिपोर्ट प्रस्तुत करें। इस मामले को लेकर पटवारी द्वारा जन प्रतिनिधियों के लिए सम्मानित भाषा प्रयोग न करने पर मंत्री ने संबंधित पटवारी को सस्पेंड करने के निर्देश दिए। मंत्री ने अनवरत शिकायतों का निपटान करते हुए शिकायत नम्बर 5 में कहा कि सरकारी जमीन सरकार के पास रहनी चाहिए और मालिक की जमीन मालिक के पास रहनी चाहिए।
इस विषय को लेकर उन्होंने कहा कि यदि हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण ने अगली मीटिंग तक कब्जा नहीं लिया तो संबंधित कार्रवाई अमल में लाई जाएगी और मामले को अगली मीटिंग तक लंबित रखा गया।

इसी प्रकार पुरानी शिकायतों के तहत मंत्री ने शिकायत नम्बर 6 में शिकायतकर्ता अजैब सिंह और शिकायत नंबर 7 में शिकायतकर्ता प्रेमचंद की शिकायतों को सुना और संदर्भित विषय को लकर अधिकारियों का पक्ष भी जाना और इसके बाद दोनों शिकायतों को फाईल कर दिया गया, जबकि शिकायत नम्बर 8 के तहत मंत्री ने शिकायतकर्ता और सरकारी अधिकारियों की दलीलें सुनने उपरांत शिकायतकर्ता कुलभूषण को कहा कि वे संबंधित विभाग के मुख्यालय में अपील कर सकते हैं।
मंत्री ने एजेंडा अनुरूप सभी 8 शिकायतों को बहुत ही सहानुभूति पूर्वक सुना, शिकायतकर्ताओं की शिकायतों को सुनने उपरांत संबङ्क्षधत विभागों के अधिकारियों के पक्ष को भी जाना।
नई शिकायतों में शिकायत नम्बर एक में प्रेम सिंह निवासी सरकपुर ने कहा कि पीडब्ल्यूडी ने बाड़े की जमीन पर सड़क बनाकर नाजायज कब्जा किया हुआ है। इस विषय को लेकर कार्यकारी अभियंता ने कहा कि मामला मुख्यालय भेजा गया है। मुख्यालय के निर्देशानुसार कार्रवाई की जाएगी और मामले को फाईल कर दिया गया है।
शिकायत नम्बर 2 में शिकायतकर्ता जयभगवान निवासी भगत सिंह कॉलोनी ने कहा कि कॉलोनी की अधिकतर गलियों में सीवरेज लाइन बिछा दी गई और एक-दो गलियों को छोड़ दिया गया है।
इस विषय को लेकर मंत्री ने जन स्वास्थ्य विभाग के अधीक्षक अभियंता का पक्ष जाना तो उन्होंने कहा कि अवैध कॉलोनियों में सरकारी सुविधा उपलब्ध नहीं करवा सकते है।
इस पर मंत्री ने मामले को फाईल कर दिया। इसी प्रकार रविदत्त ने कहा कि उनकी जमीन सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट कलायत के  साथ लगती है, जिसमें उसने मुख्यमंत्री बागवानी योजना के तहत नींबू, अमरूद की बागवानी की हुई है। जनस्वास्थ्य विभाग की लापरवाही और गंदे पानी की वजह से उनकी फसल खराब हो जाती है। इस पर विभाग के अधिकारियों ने कहा कि प्रार्थी की समस्या का समाधान किया जा चुका है और मंत्री ने मामले को फाईल कर दिया।

नई शिकायतों के तहत शिकायत नम्बर 4 में सुरेश कुमार निवासी डिफेंस कॉलोनी में सफाई व्यवस्था की बात कही। इस पर मंत्री ने विभाग के अधिकारियों को सफाई करने के निर्देश दिए।
इसी प्रकार शिकायत नम्बर 5 में नफे सिंह ने कहा कि साकरा में 11 एकड़ का तालाब है। उसके किनारे एक कोठरी थी, जिसमें डेरा में बाबा कभी-कभी आकर ठहरते थे, लेकिन संबंधित बाबा ने चंदा इकट्ठा करके आश्रम बना लिया है।
इससे तालाब की सुंदरता प्रभावित हो रही है। अधिकारियों का पक्ष जानने उपरांत मंत्री ने मामले को फाईल कर दिया। शिकायत नम्बर 6 में नरेश कुमार और शिकायत नम्बर 7 में राजेंद्र कुमार और शिकायत नम्बर 8 में शिकायतकर्ता बलबीर सिंह की शिकायतों को सुना और सभी मामलों को निपटा दिया गया है।
बैठक में गुहला के विधायक ईश्वर सिंह ने विषय रखते हुए कहा कि मीटिंग के बाद एट्रोसिटी की शिकायतें भी सुननी चाहिए ताकि सभी संबंधित की परेशानी दूर हो सके।
बैठक में डीसी प्रदीप दहिया ने मंत्री को आश्वासन दिलाया कि जिला प्रशासन लोगों की शिकायतों और समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर निपटाने का काम कर रहा है और आगे भी लोगों की समस्याओं का समाधान प्राथमिकता का आधार पर किया जाता रहेगा।
इस मौके पर गुहला के विधायक ईश्वर सिंह, स्थानीय विधायक लीला राम, बीजेपी के जिलाध्यक्ष अशोक गुर्जर, जेजेपी के जिला अध्यक्ष धूप सिंह माजरा, जिला प्रशासन की और से उपायुक्त प्रदीप दहिया, एसपी मकसूद अहमद, एडीसी संवर्तक सिंह सहित संबंधित विभागों के उच्च अधिकारी उपस्थित रहे।

बॉक्स : प्रेस द्वारा पूछे गए सवाल के जवाब में परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि रोडवेज के बेड़े में 2 हजार बसे शामिल की जाएंगी, जिनमें मिनी बसें, लग्जरी तथा वॉल्वो बसें शामिल हैं। सरकार का मुख्य उद्देश्य है हर गांव तक यातायात की बेहतर सुविधाएं होनी चाहिए। प्रदेश के हर स्कूल, कॉलेज तक पहुंचेगी। इस व्यवस्था के तहत सरकार मुस्तैदी के साथ काम कर रही है। उन्होंने यह भी कहा कि जिला के गुहला-चीका में बनने वाला बस स्टेंड आधुनिक सुविधा से लेस होगा।
Advertisement

Related posts

तीन घंटे पहले जन्मे बच्चे को रात के अंधरे में आश्रम के पालने में छोड़ा

admin

हरियाणा में 2 छोटी बच्चियां कहाँ जिन्दा जली ,कहाँ आग ने करीब 100 से ज्यादा झोंपड़ियों को राख में बदला,नरवाना और जाखल में भी आग का रौद्र रूप देखने को मिला 

atalhind

सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के कार्यरत जज को उसके पद से हटाना आसान नहीं है

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL