AtalHind
उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh)

सिर्फ टीवी विज्ञापनों पर ख़र्चे 160 करोड़ रुपये योगी सरकार ने

सिर्फ टीवी विज्ञापनों पर ख़र्चे 160 करोड़ रुपये योगी सरकार ने


नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश सरकार ने अप्रैल 2020 और मार्च 2021 के बीच टीवी समाचार चैनलों को विज्ञापनों के लिए 160.31 करोड़ रुपये का भुगतान किया है.न्यूजलॉन्ड्री की रिपोर्ट के मुताबिक, सूचना के अधिकार (आरटीआई) के जरिये प्राप्त आंकड़ों से पता चला है कि इस समयावधि के दौरान विज्ञापनों के लिए राष्ट्रीय समाचार चैनलों को 88.68 करोड़ रुपये, क्षेत्रीय समाचार चैनलों को 71.63 करोड़ रुपये मिले.आरटीआई आवेदन दायर करने वाले उमाशंकर दुबे का कहना है कि कोविड-19 महामारी के समय इस समयावधि के दौरान इतना अधिक खर्च चिंताजनक है.2019-2020 के दौरान नरेंद्र मोदी सरकार ने आरटीआई आवेदन के जवाब में बताया कि सरकार ने इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में विज्ञापन के लिए 317 करोड़ रुपये खर्च किए हैं.रिपोर्ट में कहा गया है, ‘सरकार के इस विज्ञापन खर्च से सबसे अधिक फायदा नेटवर्क18 समूह को हुआ. इस अवधि के दौरान नेटवर्क18 को विज्ञापन के लिए 28.82 करोड़ रुपये मिले. यह समूह सीएनए न्यूज18, न्यूज18 इंडिया, न्यूज18 यूपी-उत्तराखंड चैनल हैं. जी मीडिया समूह को विज्ञापन के लिए 23.48 करोड़ रुपये मिले जबकि एबीपी समूह को 18.19 करोड़ रुपये मिले. इंडिया टुडे समूह को उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से विज्ञापन के लिए 10.64 करोड़ रुपये मिले.’लखनऊ के स्थानीय निवासी और दूरदर्शन न्यूज के पत्रकार उमाशंकर दुबे ने आरटीआई आवेदन दायर किया था. उन्होंने न्यूजलॉन्ड्री को बताया कि वह उत्तर प्रदेश सरकार के विज्ञापन पर इतनी भारी राशि के खर्च होने पर चकित हैं.

Advertisement

Related posts

सच मत लिखना ,,,यहाँ  सच को दबाने  वाली सरकार है ,जी हाँ  ये यूपी है जनाब , बीजेपी की योगी सरकार आपको जेल भेजेगी 

atalhind

आधी रात को ट्विटर, विपक्षी नेताओं, पत्रकारों के ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज

admin

क्या आज़मगढ़ के पलिया गांव में दलितों को सबक सीखने के लिए उनके साथ बर्बरता की गई?

admin

Leave a Comment

URL