AtalHind
अंबालाटॉप न्यूज़हरियाणा

अनिल विज के होते किसी से डरने की जरूरत नहीं, मामले में होगी पूरी कार्रवाई”

There is no need to be afraid of anyone in the presence of Anil Vij, complete action will be taken in the matter.
There is no need to be afraid of anyone in the presence of Anil Vij, complete action will be taken in the matter.
पलवल में दर्ज बलात्कार मामले में कार्रवाई नहीं करने वाली महिला थाने की सब इंस्पेक्टर को गृह मंत्री अनिल विज ने लाईन हाजिर करने के जारी किए निर्देश
फरियादियों की शिकायत पर गृह मंत्री अनिल विज ने कई मामलों में पुलिस अधिकारियों को लगाई फटकार और वरिष्ठ अधिकारियों से एक्शन टेकन रिपोर्ट मांगी
फरियादी से गृह मंत्री बोले “अनिल विज के होते किसी से डरने की जरूरत नहीं, मामले में होगी पूरी कार्रवाई”
शनिवार गृह मंत्री अनिल विज के जनता दरबार में पांच हजार से ज्यादा फरियादी उमड़े, रात्रि तक मंत्री अनिल विज से सुनी शिकायतें
मेरे द्वारा भेजी गई दरखास्त पर भी कोई अधिकारी ढिलाई करेगा तो मैं बख्शूंगा नहीं
अम्बाला, (अटल हिन्द ब्यूरो )
हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री अनिल विज ने फरियादी की शिकायत पर सुनवाई करते हुए पलवल जिले में दर्ज बलात्कार के मामले में कार्रवाई नहीं करने वाली महिला सब इंस्पेक्टर को लाइन हाजिर करने के निर्देश पलवल जिले की एसपी को दिए। कुछ ही घंटों में एसपी पलवल एसपी ने महिला एसआई को लाइन हाजिर करते हुए इसकी जानकारी गृह मंत्री अनिल विज को दी।There is no need to fear anyone in the presence of Anil Vij, complete action will be taken in the matter.

 

शनिवार अम्बाला छावनी के पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में गृह मंत्री अनिल विज द्वारा प्रदेशवासियों की समस्याएं सुनने के लिए जनता दरबार का आयोजन किया गया था जिसमें पांच हजार से भी ज्यादा फरियादी पहुंचे। सुबह से आरंभ हुआ जनता दरबार रात्रि तक चलता रहा। इसी बीच पलवल जिले से आई महिला ने गृह मंत्री अनिल विज को बताया कि थाना चान्दहट में दर्ज बलात्कार के मामले में महिला थाना पुलिस की एसआई रेखा द्वारा कार्रवाई नहीं की जा रही और इस मामले में आरोपियों को पकड़ा नहीं जा रहा है। गृह मंत्री अनिल विज ने इस मामले में पलवल एसपी को फटकार लगाते हुए मामले सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने इस मामले में महिला थाने में तैनात सब इंस्पेक्टर के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए जिस पर कुछ ही घंटों में एसपी पलवल ने महिला एसआई को लाईन हाजिर करते हुए इसकी जानकारी गृह मंत्री अनिल विज को लिखित तौर पर व्हाट्सऐप पर दी।

 

जनता दरबार में गृह मंत्री अनिल विज सख्त अंदाज में दिखे और उन्होंने फरियादियों की शिकायत पर कार्रवाई नहीं होने पर पुलिस अधिकारियों को फटकार लगाई। मंत्री ने कई मामलों में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से पूर्व में भेजी गई एक्शन टेकन रिपोर्ट तलब की। इतना ही नहीं कई मामलों में मंत्री विज द्वारा एसआईटी का भी गठन किया गया।

 

Advertisement
“मेरे द्वारा भेजी गई दरखास्त पर भी कोई अधिकारी ढिलाई करेगा तो मैं बख्शूंगा नहीं”
गृह मंत्री अनिल विज ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि ‘‘कोई व्यक्ति अगर सिपाही से दुखी होता है तो वह हैड कांस्टेबल के पास जाता हैं, हैड कांस्टेबल से दुखी होता है तो वह इंस्पेक्टर के पास जाता हैं, इंस्पेक्टर से दुखी होता है तो वह डीएसपी के पास जाता हैं, डीएसपी से दुखी होता है तो वह एएसपी के पास जाता हैं, एएसपी से दुखी होता है तो वह एसपी के पास जाता हैं, आईजी के पास जाता है और फिर वह मेरे पास आता है। मेरे द्वारा भेजी गई दरखास्त पर भी कोई अधिकारी ढिलाई करेगा तो मैं बख्शूंगा नहीं। क्योंकि इसके बाद वह व्यक्ति कहां जाएं, इसलिए मैंने आदेष भी जारी कर रखें है जो दरखास्त मैं भेजूं उसको डीएसपी से कम का अधिकारी जांच नहीं करेगा। जहां से दरखास्त आई हैं, उस रेंज (जांच क्षेत्र में अर्थात थाना क्षेत्र) में नहीं जाएगी। अगर यह दरखास्त उसी को जाती है तो मैं सख्त कार्यवाही करूंगा।There is no need to fear anyone in the presence of Anil Vij, complete action will be taken in the matter.
जनता कैंप आयोजित करने के संबंध में पूछे गए सवाल के जवाब में गृह मंत्री ने कहा कि जितने भी लोग आएंगे, हम उनको सुनेंगें। अब हमने समय सीमा तय कर दी है, जो दोपहर एक बजे तक अंदर आ जाएंगें, उनको सुनेंगे, फिर चाहे सारी रात लगे।
इन मामलों में मंत्री विज ने दिए कार्रवाई के निर्देश
रेवाड़ी से दिव्यांग द्वारा गृह मंत्री अनिल विज को मारपीट मामले में कार्रवाई नहीं करने की शिकायत दी गई जिस पर मंत्री विज ने मामले को अन्य जिला पुलिस द्वारा पुन: जांच करने के निर्देश दिए। इसी तरह, पलवल में युवक से मारपीट मामले में गृह मंत्री अनिल विज ने पुलिस से केस दर्ज नहीं करने के कारण और केस न दर्ज करने में कोताही बरतने वालों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए। कुरुक्षेत्र में महिला के पति से मारपीट के मामले में कार्रवाई नहीं होने पर गृह मंत्री अनिल विज ने मामले में एक्शन टेकन रिपोर्ट और जांच के लापरवाही बरतने वालों पर कार्रवाई के निर्देश दिए। वहीं, झज्जर से आई महिला ने पति के आत्महत्या मामले में कार्रवाई नहीं होने की शिकायत दी जिस पर गृह मंत्री विज ने एसपी झज्जर को फोन कर आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी करने के सख्त लहजे में निर्देश दिए।
मकान बेचने के नाम पर 57 लाख की ठगी, मंत्री विज ने एएसपी के नेतृत्व में कमेटी बनाकर जांच के निर्देश दिए
गृह मंत्री अनिल विज के जनता दरबार में पंचकूला से आए फरियादी ने शिकायत देते हुए कहा कि मकान को बेचने के नाम पर आरोपियों ने उससे 57 लाख रुपए की ठगी की है और पुलिस द्वारा इस मामले में अब तक केस ही दर्ज नहीं किया गया है। गृह मंत्री विज ने मामले में पंचकूला पुलिस कमिश्नर को एएसपी रैंक के अधिकारी के अधीन जांच कमेटी बनाने और इस मामले को दर्ज करने में किसकी लापरवाही रही, इस पर जवाब तलब किया है। मंत्री विज ने यह रिपोर्ट आगामी 15 दिनों के भीतर ही तलब की है।
जिलों के पुलिस अधीक्षकों से फरियादियों की शिकायत पर कार्रवाई नहीं होने पर मंत्री विज ने किया जवाब तलब
जनता दरबार में कई मामलों में मंत्री अनिल विज ने जिलों के पुलिस अधीक्षकों से कार्रवाई नहीं होने पर जवाब तलब भी किया है। हिसार जिले से फरियादी ने बताया कि मारपीट मामले में आरोपियों को अब तक पकड़ा नहीं जा सका जिसपर मंत्री विज ने मामले की जांच एसआईटी से कराने और एसपी से केस डिले होने पर जवाब तलब किया।
इसी तरह, कैथल में पांच लाख रुपए छीना-झपटी के मामले में कार्रवाई नहीं होने पर मंत्री विज ने एसपी को फोन कर मामले की जांच रिपोर्ट तलब की साथ ही जांच में ढिलाई बरतने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
इसी तरह, डबवाली में फरियादी के बेटे की हत्या मामले में गठित एसआईटी से जांच रिपोर्ट गृह मंत्री अनिल विज द्वारा तलब की गई। हिसार में विवाहिता के आत्महत्या के मामले में मंत्री विज ने डीएसपी रैंक के अधिकारी से मामले की जांच करवाने और दर्ज मामले में कार्रवाई नहीं होने पर एसपी से जवाब-तलब किया।
पूंडरी में जमीनी विवाद मामले में कार्रवाई नहीं होने की शिकायत फरियादी द्वारा की गई जिस पर मंत्री विज ने इस मामले की जांच एडीजीपी रैंक अधिकारी से कराने और अब तक कार्रवाई नहीं होने पर जवाब तलब किया है। यह रिपोर्ट गृह मंत्री विज ने 15 दिनों के भीतर तलब की है।
गुरुग्राम में बेटे की हत्या मामले में माता-पिता की फरियाद, मंत्री विज ने स्टेट क्राइम को सौंपी जांच
जनता दरबार में गुरुग्राम से माता-पिता ने बेटे की हत्या मामले में कार्रवाई नहीं होने की फरियाद दी, परिवार ने बताया कि उनके बेटे की मौत को पुलिस आत्महत्या बता रही है जबकि यह मामला हत्या का है। इस मामले में गृह मंत्री अनिल विज ने स्टेट क्राइम ब्यूरो के अधीन एसआईटी बनाकर जांच के निर्देश दिए।
पलवल जिले से मारपीट के मामले में कार्रवाई नहीं होने पर भी मंत्री विज ने एसपी से कार्रवाई की रिपोर्ट तलब की।
जींद जिले में जमीनी विवाद मामले में मंत्री विज ने आईजी हिसार को मामले की जांच के लिए कमेटी गठित करने और इस मामले में कार्रवाई नहीं करने वाले दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए, साथ ही इस मामले की 10 दिनों के भीतर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए।
कबूतरबाजी के मामलों में एसआईटी को केस ट्रांसफर
जनता दरबार के दौरान कई जिलों से कबूतरबाजी के मामले सामने आए। गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि इन मामलों से निपटने के लिए प्रदेश में एसआईटी गठित की गई है। दरबार में आए ऐसे केसों को भी एसआईटी को भेजा गया। करनाल से आए फरियादी ने बताया कि उससे 57 लाख की ठगी विदेश भेजने के नाम पर हुई, जबकि कैथल से आए फरियादी ने साढ़े तीन लाख की ठगी की शिकायत दी। इसी प्रकार, कबूतर बाजी के अन्य मामले भी आए जिनको एसआईटी को जांच हेतु भेजने के निर्देश दिए गए। इसके अलावा, कई अन्य मामलों में भी गृह मंत्री अनिल विज ने सुनवाई करते हुए अधिकारियों को कार्रवाई करने के दिशा-निर्देश दिए।
Advertisement

Related posts

डायल 112 एक युग का परिवर्तन : मनोहर लाल

admin

तरावड़ी-खौफनाक कदम! युवती ने लगाया छेड़छाड़ का आरोप तो दो युवकों ने जहर खाकर की आत्महत्या

admin

गुरूग्राम में रेमेडिजिविर इन्जेक्शन ब्लैक करते महिला सहित तीन को दबोचा

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL