Atal hind
चण्डीगढ़  हरियाणा

माता-पिता , दादा और नाना- नानी के नाम पर प्रोजेक्टों के नाम रखने का युग,अब हरियाणा में समाप्त हुआ :- मनोहर लाल।।

माता-पिता , दादा और नाना- नानी के नाम पर प्रोजेक्टों के नाम रखने का युग,अब हरियाणा में समाप्त हुआ :- मनोहर लाल।।
चंडीगढ़।। अग्र-कुल के आदि पुरुष और भारतीय समाजवाद के मूल प्रवर्तक महाराजा अग्रसेन के नाम पर हिसार अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट का नाम रखे जाने से हरियाणा सहित देश-विदेश में रहने वाले अग्रवाल समाज के लोग भी अभिभूत हैं और अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।
इसी कड़ी में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल का अभिनंदन करने प्रदेशभर से अग्रवाल समाज के लोग, चुने हुए जनप्रतिनिधि और सम्मानित सामाजिक संस्थाओं के लोग बड़ी संख्या में चंडीगढ़ मुख्यमंत्री आवास पर एकत्रित हुए। मुख्यमंत्री का सम्मान करने में राजनीतिक दलों के बंधन भी टूट गए और दिल्ली की रिठाला सीट से आम आदमी पार्टी के विधायक महेंद्र गोयल, जो मूलतः हरियाणा के कैथल के रहने वाले हैं, वो भी सभी बंधनों को तोड़कर मुख्यमंत्री का सम्मान करने समारोह में पहुंचे।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अग्रवाल समाज के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि, हमने तो सिर्फ अपना कर्तव्य निभाया है लेकिन आपने इस कार्यक्रम को अविस्मरणीय बना दिया।
अपने उदगार व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज के अग्रणी लोगों के संस्कार और संस्कृति का आदर करने से ही कोई भी समाज आगे बढ़ता है। हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद सभी समाजों के अग्रणी महापुरुषों जैसे महर्षि वाल्मीकि, गुरु रविदास, संत कबीर, बाबा साहब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर, गुरु नानक देव जी, गुरु गोविंद सिंह जी और गुरु अर्जुन देव जी जैसे इन तमाम महापुरुषों की जयंती और कार्यक्रमों को राजकीय लेवल पर मनाने की परंपरा शुरू हुई है।
करनाल में जब हॉर्टिकल्चर यूनिवर्सिटी बनाई गई तो उसका नाम महाराणा प्रताप के नाम पर रखा गया, पलवल के दुधौला में जब एक अनोखी स्किल यूनिवर्सिटी बनाई गई तो उसका नाम भगवान विश्वकर्मा के नाम पर रखा गया, वैसे ही हिसार में बने अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट का नाम महाराजा अग्रसेन के नाम पर रखा जाना नितांत स्वाभाविक है। मुख्यमंत्री ने आह्वान किया कि वह जमाने अब हरियाणा में चले गए जब बाप दादा नाना नानी यहां तक कि खुद के नाम पर ही संस्थानों के नाम रखे जाते थे।
महापुरुषों के विचारों और उनके दर्शन का सम्मान करना हमारा परम कर्तव्य है। महाराजा अग्रसेन कितने विचारवान और कितने अग्र सोची थे इसका जिक्र मुख्यमंत्री ने किया।
एक ईंट और ₹1 रुपये का सिद्धांत देकर महाराजा अग्रसेन ने समाजवाद के भारतीय मॉडल का प्रतिपादन किया था।
वो पहले ऐसे आदि पुरुष थे, जिन्होंने समाज से असमानता को दूर करने और अंत्योदय का लक्ष्य निर्धारित किया था।
हिसार के एयरपोर्ट के माध्यम से दुनिया के लगभग 200 देशों में महाराज अग्रसेन जी का नाम प्रसारित होगा।
क्योंकि हवाई जहाज और एयरपोर्ट के माध्यम से जो भी आवागमन होता है या लोग आते जाते हैं तो हर जगह एयरपोर्ट के नाम का भी जिक्र होता है और इस एयरपोर्ट के साथ सदैव महाराज अग्रसेन जी के भी नाम का प्रचार प्रसार होगा।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री का अभिनंदन करने हरियाणा विधानसभा के स्पीकर ज्ञान चंद गुप्ता, दिल्ली से आम आदमी पार्टी के विधायक महेंद्र गोयल, हिसार से विधायक कमल गुप्ता, अंबाला से विधायक असीम गोयल, भिवानी से विधायक घनश्याम दास सर्राफ, अग्रवाल सभा के राष्ट्रीय स्तर के नेता गोपाल शरण गर्ग और पंचकूला के मेयर कुलभूषण गोयल जैसे गणमान्य लोग भी मौजूद थे। हिसार के विधायक डॉक्टर कमल गुप्ता ने हिसार से दिल्ली तक ‘हाई स्पीड रेलवे’ की मंजूरी दिलाने के लिए भी मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

करें प्लाज्मा दान, व रेडक्रॉस सोसायटी की ले सहायता : सुजान सिंह

admin

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का मंदिर बना मूर्ति भी की स्थापित 

admin

एचएसएससी की पुरुष कांस्टेबल की लिखित परीक्षा में 35 केंद्रों में 10 हजार 300 परीक्षार्थी देंगे परीक्षा- संजय कुमार

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL