AtalHind
टॉप न्यूज़

हमें नहीं पता कितने किसान मरे ,मुआवजा क्यों दें -मोदी सरकार

PHOTO CREDIT BY GOOGLE

मृतकों के परिजनों को अभी तक न्याय का इंतजार है.

हमें नहीं पता कितने किसान मरे ,मुआवजा क्यों दें -मोदी सरकार 

Advertisement

नई दिल्ली: केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने बुधवार को संसद को बताया कि उनके पास किसान आंदोलन के दौरान हुई मौतों का ‘कोई रिकॉर्ड’ नहीं है, इसलिए मुआवजा देने का कोई सवाल नहीं उठता है.

मालूम हो कि देश के विभिन्न हिस्सों में एक साल लंबे चले किसान आंदोलन के चलते मोदी सरकार ने बीते सोमवार को संसद में तीन विवादित कृषि कानूनों को निरस्त करने वाला विधेयक पारित कराया था.

Advertisement

अब कृषि संगठनों की मांग है कि कि सरकार एमएसपी को कानूनी गारंटी देने वाला कानून बनाए और आंदोलन के दौरान शहीद हुए 700 से अधिक किसानों को उचित मुआवजा प्रदान करे. संगठन के पास मृतक किसानों का विस्तृत ब्यौरा उपलब्ध है.हालांकि केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने लोकसभा को बताया, ‘कृषि मंत्रालय के पास इस मामले में कोई रिकॉर्ड उपलब्ध नहीं है, इसलिए मुआवजे का सवाल नहीं उठता है.’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा के बाद संयुक्त किसान मोर्चा ने प्रधानमंत्री को एक पत्र लिखा था, जिसमें उन्होंने अपनी छह मांगों को दोहराते हुए कहा था कि इन्हें अभी पूरा नहीं किया गया है.

इसमें न्यूनतम समर्थन मूल्य यानी कि एमएसपी को कानूनी गारंटी प्रदान करने, मृतक किसानों के लिए मेमोरियल बनाने और उनके परिजनों को मुआवजा देने जैसी मांगे शामिल थीं. भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कई बार कहा है कि बिल वापसी पर्याप्त नहीं है, इन मांगों को पूरा किए बिना किसान वापस नहीं जाएंगे.

Advertisement

पूर्व में रिपोर्ट कर दर्शाया था कि किस तरह मृतकों के परिजनों को अभी तक न्याय का इंतजार है. कई लोगों ने यह भी कहा है कि यदि सरकार ने पहले ही किसानों की मांगें स्वीकार कर ली होती तो इतनी जिंदगियां बचाई जा सकती थीं.

अभी तक केवल तेलंगाना सरकार ने विरोध प्रदर्शन के दौरान अपनों को खोने वाले किसानों के परिवारों को 3 लाख रुपये के मुआवजे की घोषणा की है. समाजवादी पार्टी ने अगले साल होने वाले उत्तर प्रदेश चुनाव में जीत हासिल कर सत्ता में आने के बाद ऐसे परिवारों को 25 लाख रुपये देने का वादा किया है.

Share this story

Advertisement
Advertisement

Related posts

हरियाणा पुलिस सिपाही पेपर को सार्वजनिक करने वाला मुख्य आरोपी सहित 28 को किया जा चूका है गिरफ्तार ,कैथल पुलिस का दावा 

admin

कमलेश ढांडा का  कोरोना गुरुमंत्र डॉक्टर मरीज की जाँच करें,व संबंधित व्यक्तियों से करें संवाद बढ़ेगा मनोबल 

admin

ओपी धनखड़ ने मनोहर  खुश चुनाव के संघर्ष में मात खाने वाले नेताओं को बनाया  सिपहसालार

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL