AtalHind
गुरुग्राम (Gurugram)टॉप न्यूज़हरियाणा

सोशल स्टॉक एक्सचेंज में पंजीकृत हुआ प्योर इंडिया ट्रस्ट – प्रशांत पाल

सोशल स्टॉक एक्सचेंज में पंजीकृत हुआ प्योर इंडिया ट्रस्ट – प्रशांत पाल

10 वर्ष के प्योर इंडिया ट्रस्ट’ का समाज और राष्ट्र के सर्वांगीण विकास में योगदान

प्योर इंडिया ट्रस्ट देश की राजधानी दिल्ली से रजिस्टर्ड संस्था

प्योर इंडिया ट्रस्ट के पदाधिकारियो, सामाजिक कार्यकर्ताओं में खुशी

Prashant Pal

अटल हिन्द ब्यूरो /फतह सिंह उजाला
गुरुग्राम 3 जनवरी । भारत की प्रसिद्ध गैर सरकारी संस्था ‘प्योर इंडिया ट्रस्ट’ अब मुंबई में स्थित नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया (एनएसई) के सोशल स्टॉक एक्सचेंज (एसएसई) में पंजीकृत हो गई है। इस बड़ी उपलब्धि से प्योर इंडिया ट्रस्ट से जुड़े पदाधिकारियो, सामाजिक कार्यकर्ताओं और कर्मचारियों के चेहरों पर खुशी देखते ही मिलती है और सभी बड़ा ही गर्व महसूस कर रहे हैं। इससे उनमें काम करने का हौसला और भी ज़्यादा बढ़ गया है।

राजस्थान के जयपुर में स्थित प्योर इंडिया ट्रस्ट के संस्थापक और सीईओ प्रशांत पाल ने अपनी संस्था के सोशल स्टॉक एक्सचेंज (एसएसई) में पंजीकृत होने पर इसे बड़ी उपलब्धि बताया है। उन्होंने कहा है कि प्योर इंडिया ट्रस्ट उन सभी कड़े नियमों का पालन करने के बाद 23 नवंबर 2023 को सोशल स्टॉक एक्सचेंज का एक हिस्सा बन गई है, जो एनजीओ की पंजीकृत सूचि में 36वें नंबर पर शामिल है। प्योर इंडिया ट्रस्ट के संस्थापक और सीईओ प्रशांत पाल ने बताया कि उनकी संस्था ‘प्योर इंडिया ट्रस्ट’ को 10 साल से ज़्यादा हो गए हैं, जो जमीनी स्तर पर करके समाज और राष्ट्र के सर्वांगीण विकास में योगदान दे रही है। उन्होंने ये भी कहा कि प्योर इंडिया ट्रस्ट पूरे देश में ऐसी गैर सरकारी संस्थाओं को पार्टनर बनाकर एक बड़ा नेटवर्क तैयार करने की दिशा में धीरे-धीरे आगे बढ़ रहा है। प्रशांत पाल ने जानकारी देते हुए बताया कि प्योर इंडिया ट्रस्ट भारत सरकार और कई राज्य सरकारों की सरकारी परियोजनाओं पर काम कर रही है। इसके साथ ही 14 राज्यों में देश की कई प्रमुख कंपनियों के सीएसआर प्रोजेक्ट पर भी काम कर रही है।

प्रशांत पाल ने सोशल स्टॉक एक्सचेंज (एसएसई) में प्योर इंडिया ट्रस्ट के पंजीकृत होने पर अपनी भावी योजनाओं को लेकर कहा कि प्योर इंडिया ट्रस्ट संपूर्ण भारत में महिलाओं, दिव्यांगों एवं ट्रांसजेंडर को आत्मनिर्भर बनाने के लिए कार्य कर रहा है एवं एक नया डिजिटल प्लेटफार्म शुरू किया है, जिसके द्वारा कोई भी सदस्य अपने घर से ही प्योर इंडिया एप के माध्यम से शुरूआती सीड ग्रांट के लिए अप्लाई कर सकेगा और ट्रस्ट उनको उनके ही गांवों में आत्मनिर्भर बनाने के लिए कार्य करेगा। इसके लिए सोशल स्टॉक एक्सचेंज से 2 करोड़ रुपये की धनराशि जुटाने की योजना है। प्योर इंडिया ट्रस्ट की टीम इसके लिए कर दानदाता संस्थानों से संपर्क कर रहा है। ट्रस्ट का लक्ष्य वर्ष 2025 के अंत तक 10 हजार से ज़्यादा युवाओं को आत्मनिर्भर बनाना है।

बता दें कि प्योर इंडिया ट्रस्ट देश की राजधानी दिल्ली से रजिस्टर्ड संस्था है, जिसका मुख्यालय राजस्थान की राजधानी जयपुर में स्थित है। इस संस्था ने कई अन्य बड़ी उपलब्धि हासिल की हैं। सोशल स्टॉक एक्सचेंज (एसएसई) नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया (एनएसई) के अंतर्गत एक अलग खंड के रूप में कार्य करता है, जिसका उद्देश्य सामाजिक उद्यमों, स्वैच्छिक और कल्याणकारी संगठनों को सूचीबद्ध कर एक मंच प्रदान करना है।, जिसकी सहायता से वे जुटा सकें। सोशल स्टॉक एक्सचेंज बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति और निनियम बोर्ड (सेबी) के तहत कार्य करता है। इसका प्रस्ताव केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण ने वर्ष 2019-20 के बजट भाषण में रखा था। जानकारी के मुताबिक 28 दिसंबर 2023 तक सोशल स्टॉक एक्सचेंज की वेबसाइट पर अब तक 42 एनजीओ पंजीकृत हुई हैं, जिनमें से एसजीबीएस उन्नति फाउंडेशन ही अभी तक सूचीबद्ध होने वाली पहली इकाई बनी है।

Advertisement

Related posts

कैथल में काम ना करने वाले डॉक्टर्स को पड़ी फटकार,

admin

नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री होने का नैतिक अधिकार खो चुके हैं

admin

आदमपुर में कुलदीप बिश्नोई के चेलों में मचा घमासान

admin

Leave a Comment

URL