AtalHind
क्राइम

बहन द्वारा की गई दूसरी शादी, नाराज साले ने की जीजा की हत्या

बहन द्वारा की गई दूसरी शादी, नाराज साले ने की जीजा की हत्या
जीजा की हत्या को अंजाम देने के लिए साले ने दो और साथियों को बुलाया
आरोपियों को गुरुवार को अदालत में पेश कर लिया 2 दिन का हिरासत रिमांड

पटौदी जीआरपी पुलिस प्रभारी कृष्ण यादव ने सुलझाइ ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी

बीती 19 मार्च को बाबा हरदेवा के पास मिला था झाड़ियों में मृतक का शव

मृतक 16 मार्च से था गायब, हेलीमंडी चौकी में पत्नी द्वारा मामला दर्ज

फतह सिंह उजाला
पटौदी । बहन के द्वारा अपनी मर्जी से की गई दूसरी शादी को लेकर नाराज चल रहे युवक ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर बेरहमी के साथ जीजा की हत्या कर दी । हत्या करने के बाद मृतक की पहचान छिपाने के लिए शव को हेलीमंडी इलाके में ही बाबा हरदेवा मंदिर के पास झाड़ियों में छिपा दिया। इस ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी जीआरपी पटौदी चौकी के प्रभारी सब इंस्पेक्टर कृष्ण यादव की टीम के द्वारा समझाते हुए, हत्या में शामिल तीनों आरोपियों को बुधवार को गिरफ्तार किया गया । इसके बाद गुरुवार को गुरुग्राम कोर्ट में पेश कर 2 दिन के हिरासत रिमांड पर लिया गया है ।

गौरतलब है कि बीते 19 मार्च को हेलीमंडी इलाके में बाबा हरदेवा मंदिर के पीछे झाड़ियों में एक मृतक का शव के पड़े होने की सूचना जीआरपी पटौदी को प्राप्त हुई। मृतक का शव इस हालत में नहीं था कि उसकी पहचान की जा सके । इससे पहले ही बीती 16 मार्च को मोहित कुमार की पत्नी सीमा देवी निवासी गांव झाबुआ थाना बावल जिला रेवाड़ी द्वारा हेली मंडी पुलिस चौकी में अपने पति मोहित कुमार के घर से जाने के संबंध में रिपोर्ट दर्ज करवाई गई थी । मृतक के विषय में जानकारी मिलने पर परिजनों के द्वारा उसकी पहचान की गई और पोस्टमार्टम के बाद मृतक का शव परिजनों के हवाले कर दिया गया।

अब जीआरपी पटौदी के सामने सबसे बड़ी चुनौती मोहित कुमार की हत्या क्यों और किसके द्वारा की गई ? इस गुत्थी को सुलझाना था । जीआरपी पटौदी चौकी के प्रभारी सब इंस्पेक्टर कृष्ण यादव के मुताबिक अपने मुखबिर और विश्वसनीय सूत्रों के हवाले से जानकारी प्राप्त हुई कि मोहित की हत्या उसके साले मनजीत ने अपने दो और अन्य सहयोगियों के साथ मिलकर की है । इस घटना के बाद से हत्यारोपी फरार चल रहे थे । अंततः बुधवार 13 मार्च को मोहित की हत्या को अंजाम देने वाले तीनों आरोपियों को जीआरपी पटौदी चौकी पुलिस टीम के द्वारा योजनाबद्ध तरीके से अलग-अलग स्थानों से दबोचने में कामयाबी हासिल की गई । हत्या आरोपियों की पहचान मनजीत पुत्र श्री भगवान निवासी गांव राजपुरा थाना पटौदी जोकि रिश्ते में मृतक का साला है, ने अपने दो अन्य सहयोगियों के साथ मिलकर इस हत्याकांड को अंजाम दिया । अन्य दो आरोपियों की पहचान अनिचेत पुत्र वीरेंद्र निवासी गांव खेड़ा कुमार जिला झज्जर तथा मनीष पुत्र राम अवतार गांव रामपुर थाना पटौदी के रूप में की गई है ।

आरंभिक पूछताछ में यह बात सामने निकल कर आई है कि मनजीत पुत्र श्री भगवान इस बात को लेकर नाराज था कि सीमा देवी ने अपनी मर्जी से दूसरी शादी कर ली । इसी बात को लेकर वह सीमा देवी और उसके पति मोहित कुमार से नाराज चल रहा था । हेलीमंडी पुलिस चौकी में दर्ज शिकायत के मुताबिक सीमा देवी पत्नी मृतक मोहित कुमार के द्वारा दी गई शिकायत में बताया गया है कि 16 मार्च को मोहित अपनी ड्यूटी से घर वापस आया था और उसी दिन शाम को 5 बजे किसी का फोन आया था । फोन सुनने के बाद पति मोहित अपनी मोटरसाइकिल एच आर 76 एफ 3122 पर सवार होकर चला गया। इसके बाद से न तो घर वापस लौटा और ना ही कोई जानकारी प्राप्त हुई । इसी शिकायत के आधार पर हेली मंडी पुलिस में मामला दर्ज किया गया ।

मोहित कुमार ब्लाइंड मर्डर गुत्थी को सुलझाना जीआरपी पटौदी पुलिस के लिए समय बीतने के साथ-साथ चुनौती बनता जा रहा था । लेकिन अपनी पुलिस कार्यप्रणाली सूत्र और मुखबिर के द्वारा इस मामले में उपलब्ध तमाम जानकारी के बाद हत्या में शामिल रहे मनजीत पुत्र श्री भगवान अनिचेत पुत्र वीरेंद्र और मनीष पुत्र राम अवतार को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है । आरंभिक पूछताछ में यही बात सामने आई है कि सीमा देवी के द्वारा अपने पहले पति की मृत्यु के बाद दूसरी शादी अपनी मनमर्जी से किया जाने को लेकर मनजीत नाखुश था । इसके बाद उसने अपने दो साथियों के साथ मिलकर जीजा मोहित कुमार की जाटोली से मंदपूरा जाने वाले सड़क मार्ग पर शराब के ठेके के पास गला दबाकर, लात – घुसो से पीटते हुए हत्या कर शव की पहचान छिपाने के नियत से बाबा हरदेवा मंदिर के पीछे घनी झाड़ियों के बीच में लाकर पटक दिया और इसके बाद मौके से फरार हो गए। पुलिस हिरासत रिमांड के दौरान इस हत्याकांड को किस तरह और किन चीजों से अंजाम दिया गया, उनकी बरामदगी किया जाना है।

Advertisement

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

बगैर फेस मास्क सार्वजनिक स्थानों पर घूमने वाले 33092 व्यक्तियों के किए गये चालान

admin

कनीना गैंगरेप केस कोर्ट ने 3 दोषियों को सुनाई 20-20 वर्ष की सजा व 20-20 हजार जुर्माना

atalhind

पुलिस एनकांउटर में एक-एक लाख के दो इनामी बदमाश दबोचे

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL