AtalHind
राजनीति

भूपेंद्र यादव की “सक्रियता” का हुआ “बड़ा” इफेक्ट

भूपेंद्र यादव की “सक्रियता” का हुआ “बड़ा” इफेक्ट
notification icon
भूपेंद्र यादव की “सक्रियता” का हुआ “बड़ा” इफेक्ट हरियाणा भाजपा में भूपेंद्र यादव की “सक्रियता” का हुआ “बड़ा” इफेक्टयादव का ख्याल रखते हुए “खासम-खास” समर्थक नेता को दी गई “बड़ी” जिम्मेदारीकेंद्रीय मंत्री की विश्वासपात्र सुमित्रा चौहान को पंचायती राज चुनाव में सौंपी गई कोऑर्डिनेटर की जिम्मेदारी

 

भूपेंद्र यादव की “सक्रियता” का हुआ “बड़ा” इफेक्ट

Advertisement

चंडीगढ़। हरियाणा भाजपा में केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव की सक्रियता का बड़ा “इफेक्ट” देखना आरंभ हो गया है। 4 दिन पहले दक्षिण हरियाणा में भूपेंद्र यादव द्वारा निकाली गई जन आशीर्वाद यात्रा के बाद हरियाणा भाजपा से जुड़े हुए नेता उनकी “पसंद” का “ख्याल” रखने लग गए हैं।भूपेंद्र यादव की हरियाणा की सियासत में रुचि और केंद्रीय हाईकमान में उनके रुतबे को देखते हुए हरियाणा भाजपा में उनके समर्थकों को पहली बार खास “अहमियत” मिल गई है।भूपेंद्र यादव की हरियाणा में सबसे बड़ी विश्वासपात्र महिला मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष सुमित्रा चौहान को आज पंचायती राज चुनाव की कमेटी में कोऑर्डिनेटर के तौर पर शामिल कर लिया गया।सुमित्रा चौहान को मंत्री कंवरपाल गुर्जर, मंत्री कमलेश ढांडा, सांसद डीपी वत्स, विधायक महिपाल ढांडा के साथ इस कमेटी में रखा गया है।सुमित्रा चौहान की पंचायती राज चुनाव कमेटी में एंट्री “खास” मायने रखती है। इसी साल 16 जुलाई को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ ने जब पंचायती राज चुनाव कमेटी का गठन किया था तो उसमें सुमित्रा चौहान को जगह नहीं मिली थी। भूपेंद्र यादव की “सक्रियता” का हुआ “बड़ा” इफेक्टआज उसी कमेटी को पुनर्गठित करते हुए सभी सदस्यों को कोऑर्डिनेटर के तौर पर शामिल कर लिया गया। पुनर्गठन की सूची में सुमित्रा चौहान को भी शामिल किया गया। यह भी कह सकते हैं कि सिर्फ सुमित्रा चौहान को कमेटी में शामिल करने के लिए दोबारा कमेटी बनाई गई।सुमित्रा चौहान भाजपा में शामिल होने के 2 साल के अंदर महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष बनाने का बड़ा “मुकाम” हासिल करने में सफल रही।आम तौर पर भाजपा में बाहर से आए हुए नेताओं को संगठन में कोई अहम जिम्मेदारी नहीं दी जाती है, लेकिन सुमित्रा चौहान ने भाजपा ज्वाइन करने के बाद डेढ़ साल के दौरान भाजपा के प्रति दिखाई “निष्ठा” और “कार्यों” के बलबूते पर भाजपा ने अपने संविधान में संशोधन करते हुए उन्हें संगठन में बेहद अहम पद देने का काम किया।आज ओम प्रकाश धनखड़ द्वारा पंचायती राज चुनाव कमेटी को नए सिरे से सिर्फ सुमित्रा चौहान के लिए गठित करना हरियाणा भाजपा में नए दौर की शुरुआत कहा जा सकता है।केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव के समर्थकों का ख्याल रखना हरियाणा भाजपा में बदले माहौल की कहानी कह रहा है।महिला मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद मंत्रियों के साथ पंचायती राज चुनाव कमेटी में शामिल होने से जहां सुमित्रा चौहान का सियासी रसूख बड़ा है वही वह पहली कतार कि नेताओं में भी शामिल हो गई हैं।भाजपा हाईकमान और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ओम प्रकाश धनखड़ द्वारा सुमित्रा चौहान को बड़ी जिम्मेदारियां देना यह बताया गया है कि भविष्य की सियासत के हिसाब से भाजपा में वर्किंग शुरू हो गई है।भूपेंद्र यादव का हरियाणा की सियासत में इंट्री मारना और उसके बाद उनके समर्थकों को बड़ी जिम्मेदारी देना पार्टी के अंदर चल रही बड़ी हलचल का भी संकेत दे गया है।Share this story

Advertisement

Related posts

पिहोवा नगर पालिका चुनाव में बीजेपी प्रत्याशी को जिताने के लिए की गई अंधेरगर्दी

atalhind

भारत में नौजवान हताशा और बदहवासी में सड़क पर थे, प्रधानमंत्री पुष्प वर्षा का सुख ले रहे थे

atalhind

इनेलो अभी जिंदा है,”चौका” मारने से “चूक” गई झाड़ू उम्मीद से काफी “कम” सफलता मिली आम आदमी पार्टी को

atalhind

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL