AtalHind
कैथलक्राइमटॉप न्यूज़

कलायत के गाँव सजूमा से 21 गिरफ्तार

कलायत के गाँव सजूमा से 21 गिरफ्तार

कैथल (अटल हिन्द/राजकुमार अग्रवाल )

कलायत थाना के अंतर्गत सजूमा गांव में दो पक्षों में हुए विवाद को लेकर मौके पर पहुंची पुलिस पार्टी पर लाठी डंडों ईंट पत्थरों से हमला करके चोट पहुंचाने तथा सरकारी गाडी को नुकसान पहुंचाकर सरकारी डयूटी में बाधा डालने के मामले की जांच थाना कलायत पुलिस के एसआई गुरुदेव सिंह की टीम द्वारा करते हुए 21 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया।21 arrested from Sajuma village of Kalayat

जिनमें कमल,इंदूखान, कुलदीप, बलबीर, गुरसेव, जगदीश,नरेश,पालाराम,सुरेश,मेहरुदीन, राजू,रोशन,नीरज,जयबीर, अजय,अमन,सुरेश,अनूज ,जगदीश ,पालाराम, अनिल सभी निवासी सजूमा शामिल है। पुलिस प्रवक्ता प्रदीप नैन ने विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि थाना कलायत प्रबंधक इंस्पेक्टर बलदेव सिंह को 27 नवंबर को शाम के समय सूचना प्राप्त हुई कि सजूमा गांव में दो समुदाय के बीच काफी लडाई झगडा हो रहा है।

जिस सूचना पर इंस्पेक्टर बलदेव सिंह अपनी टीम को लेकर तुंरत मौका पर पहुंचे। प्रवक्ता ने बताया कि निरीक्षक बलदेव सिंह को सजूमा गांव पहुंचने पर पता चला कि अनिल निवासी सजूमा की घरवाली ने वर्ष 2022 का सरपंच का चुनाव जीता था तथा 27 नवबंर को रामकरण निवासी सजूमा ने ब्लाक समिति व विक्रम निवासी सजूमा ने जिला परिषद का चुनाव जीता था। 27 नवंबर को जीत के बाद ब्लॉक समिति व जिला परिषद के जीते हुए उम्मीदवार पूजा पाठ करने के लिए मंदिर में आए तो रास्ते में दो पक्षो का आपस में विवाद हो गया और दोनो पक्ष एक दूसरे को मारने पर उतारू हो गए।

दोनो पक्षो ने एक दूसरे पर ईंट पत्थरों से हमला कर दिया। प्रवक्ता ने बताया कि बढते आपसी तनाव के देखते हुए जिला मुख्यालय से और अधिक फोर्स को मौका पर भेजी गई। उसके बाद पुलिस फोर्स द्वारा दोनो पक्षो को लडाई झगडा ने करने बारे काफी समझाया गया लेकिन दोनो पक्षो ने पुलिस की न सुनकर एक दूसरे के साथ अपने अपने हाथों में लिए लाठी डंडे व गंडासों के साथ मारपीट करने लगे।

प्रवक्ता ने बताया कि जब पुलिस द्वारा दोनो पक्षो को छुड़ाने का प्रयास किया तो दोनो पक्षो ने गली से व घर की छतों पर चढ़कर पुलिस पर ईंट पत्थर फेंक कर पुलिस को मारने की नियत से हमला कर दिया तथा मौके पर मौजूद सरकारी गाड़ी ईआरवी को तोड़ कर सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया।

प्रवक्ता ने बताया कि इस हमले में इंस्पेक्टर सहित कई पुलिस कर्मचारियों को चोटे आई। जो दोनो गुटों के 50/60 व्यक्तियों ने पुलिस पार्टी पर जान से मारने की नियत से अपने घर की छतों से चढकर व गलियों में उतर कर इन्ट व पत्थरों से हमला करके चोट पहुँचाई और सरकारी कार्य में निर्वाह करते हुए बाधा डालने और सरकारी गाडी डायल 112 ई.आर.वी. को इन्ट व पत्थरों से सरकारी सम्पति को नुकसान पहुंचाया।

जिस बारे थाना कलायत में विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था। उपरोक्त गिरफ्तार शुदा 21 आरोपियों को पूछताछ उपरांत न्यायालय में पेश किया गया, जहां से सभी आरोपियों को न्यायालय के आदेशानुसार न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।21 arrested from Sajuma village of Kalayat

बाक्स- एसपी मकसूद अहमद ने बताया कि सजूमा गांव में हुए विवाद से संबंधित सभी मामलों की निष्पक्ष जांच के लिए डीएसपी गुहला सुनील कुमार की अगुवाई में एसआईटी (स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम) का गठन किया गया है। एसपी ने सजूमा गांव के दोनो पक्षो से अपील है कि दोनो पक्ष आपस में बैठ कर बातचीत के माध्यम से मामले को सुलझा कर गांव में शांति कायम करे। एसपी ने बताया कि फिलहाल गांव में शांति है। सुरक्षा के लिहाज से गांव में दिन रात की अलग अलग इंस्पेक्टर के नेतृत्व में 50/50 कर्मचारियों की रिजर्व तैनात की गई है।

Advertisement

Related posts

केजरीवाल से विपक्ष को भाजपा को उसके खेल में उसी की तरह हराना सीखना चाहिए

atalhind

मोदी सरकार को कड़ी फटकार एससी बोला न्यायाधिकरणों में अधिकारियों की नियुक्ति न करके अर्द्ध न्यायिक संस्थाओं को ‘शक्तिहीन’ कर रहा है केंद्र

admin

कैथल एसपी ने दो एएसआई सुदेश तथा एएसआई राजकुमार को किया सस्पेंड कर  केस दर्ज करवाया

atalhind

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL