AtalHind
टॉप न्यूज़दिल्ली (Delhi)राजनीतिराष्ट्रीय

अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करवा सकती है बीजेपी ! ED नहीं यह भाजपा का समन है

अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करवा सकती है बीजेपी !
ED नहीं यह भाजपा का समन है

अरविंद केजरीवाल के घर पड़ेगी ED की रेड, हो सकते हैं गिरफ्तार! AAP नेताओं ने किया ट्वीट
यह भाजपा का समन है और हम उनका जवाब देने के लिए बाध्य नहीं हैं

अरविंद केजरीवाल के घर पड़ेगी ED की रेड, हो सकते हैं गिरफ्तार! AAP नेताओं ने किया ट्वीट

नई दिल्‍ली : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आबकारी नीति मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा जारी तीसरे समन पर भी पेश नहीं होने के बाद आम आदमी पार्टी के नेताओं ने एक के बाद एक ट्वीट कर उन पर रेड और गिरफ्तारी के कयास लगा डाले. आप नेताओं ने बुधवार देर रात एक्‍स (पूर्व में ट्विटर) पर पोस्‍ट कर आशंका जता दी कि कल यानि गुरुवार को ईडी अरविंद केजरीवाल के घर रेड डालकर उन्‍हें गिरफ्तार कर सकती है.

दिल्‍ली सरकार में मंत्री और आप नेता आतिशी ने बुधवार देर रात एक्‍स पर किए पोस्‍ट में लिखा, ‘खबर आ रही है कि ईडी सुबह अरविंद केजरीवाल के आवास पर छापेमारी करने जा रही है. उनकी गिरफ्तारी की संभावना भी है.’

दरअसल, शराब घोटाला मामले की जांच के लिए अरविंद केजरीवाल को ईडी ने बुधवार को तीसरी बार समन भेजकर पूछताछ के लिए बुलाया था। हालांकि इस बार भी केजरीवाल पूछताछ के लिए ईडी के सामने उपस्थित नहीं हुए। उन्होंने पूछताछ के लिए उपस्थित होने के बजाय ईडी को चिट्ठी लिखी

वहीं, राज्यसभा सांसद एवं आप नेता संदीप पाठक ने भी पोस्‍ट कर लिखा कि ‘दिल्ली के मुख्यमंत्री ArvindKejriwal पर कल सुबह ईडी द्वारा छापा मारे जाने की संभावना है.’

दरअसल, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आबकारी नीति मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा जारी तीसरे समन पर भी बुधवार को पेश नहीं हुए और उन्होंने एक लिखित जवाब भेजकर नोटिस को अवैध बताया. आम आदमी पार्टी (आप) ने आरोप लगाया कि केजरीवाल को बार बार नोटिस भेजना लोकसभा चुनाव में चुनाव प्रचार से रोकने के लिए उन्हें गिरफ्तार करने की साजिश का हिस्सा है.
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने दावा किया कि केजरीवाल नहीं चाहते कि सच बाहर आए. आप ने कहा कि केजरीवाल जांच एजेंसी के साथ सहयोग के लिए तैयार हैं, लेकिन दावा किया कि समन उन्हें गिरफ्तार करने के इरादे से भेजा गया है.

पार्टी ने आरोप लगाते हुए कहा, ‘‘चुनाव से ठीक पहले नोटिस क्यों भेजा गया है? नोटिस केजरीवाल को चुनाव प्रचार करने से रोकने का एक प्रयास है.’’

आप नेता और दिल्ली कैबिनेट मंत्री आतिशी ने समन को ‘‘बदले की राजनीतिक’’ बताया और कहा कि ईडी ने केजरीवाल के बार-बार लिखित अनुरोधों का जवाब नहीं दिया है, जिसमें यह स्पष्ट करने की मांग की गई है कि उन्हें पूछताछ के लिए क्यों बुलाया जा रहा है.
आतिशी ने कहा, ‘‘अरविंद केजरीवाल ने ईडी से बार-बार पूछा है कि वह बताए कि उन्हें पूछताछ के लिए गवाह या आरोपी, किस हैसियत से बुलाया जा रहा है. उन्होंने ईडी से सभी संबंधित प्रश्नों को एक प्रश्नावली के रूप में भेजने के लिए भी कहा है जिसका विधिवत उत्तर दिया जाएगा.’’ उन्होंने कहा कि आप ‘‘इस तरह के समन’’ से नहीं डरती. उन्होंने कहा, ‘‘ईडी और सीबीआई (केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो) भाजपा के लिए विपक्षी नेताओं पर हमला करने के राजनीतिक उपकरण बन गए हैं.’’BJP can get Arvind Kejriwal arrested!

Delhi liquor scam आतिशी के विचारों से सहमति जताते हुए दिल्ली के मंत्री और आप नेता सौरभ भारद्वाज ने ईडी के समन के समय पर सवाल उठाया. उन्होंने कहा, ‘‘ईडी ने अब तक यह जवाब नहीं दिया है कि उन्हें (केजरीवाल को) गवाह या आरोपी के तौर पर, किस हैसियत से बुलाया जा रहा है. आबकारी नीति का पूरा मामला राजनीतिक है और यह केजरीवाल को लोकसभा चुनाव में प्रचार करने से रोकने का एक प्रयास है. भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने उन्हें गिरफ्तार कराने की साजिश रची है.’’ भारद्वाज ने कहा कि करीब एक साल से जेल में बंद दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया देर-सबेर निर्दोष साबित होंगे.
उन्होंने यह भी दावा किया कि ईडी और सीबीआई द्वारा गिरफ्तारी और पूछताछ का खतरा केवल विपक्षी नेताओं पर मंडराता है जबकि भाजपा के नेताओं के खिलाफ मामलों में उन्हें किसी कार्रवाई का सामना नहीं करना पड़ता है.

आप के दिल्ली प्रदेश संयोजक गोपाल राय ने कहा कि अगर ईडी कानूनी तौर पर उनसे जवाब चाहती है तो वे सहयोग करने के लिए तैयार हैं, लेकिन वे भाजपा के समन का जवाब देने के लिए ‘‘बाध्य नहीं’’ हैं.Delhi liquor scam

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री राय ने कहा, ‘‘ईडी भाजपा है और भाजपा ईडी है. अरविंद केजरीवाल ने (अपने लिखित जवाब में) ईडी से कुछ सवाल पूछे लेकिन उन्होंने अब तक जवाब नहीं दिया है. भाजपा नेता ईडी की ओर से जवाब दे रहे हैं. क्यों? ऐसा लगता है कि भाजपा नेता ईडी के प्रवक्ता बन गए हैं. यह भाजपा का समन है और हम उनका जवाब देने के लिए बाध्य नहीं हैं.’’

क्या है दिल्ली शराब घोटाला?
दिल्ली शराब घोटाला को ‘लिकरगेट’ भी कहा जाता है। सीबीआई और ईडी का दिल्ली सरकार पर आरोप है कि आबकारी नीति 2021-2022 को संशोधित करते वक्त अनियमितताएं की गई थी। इसके जरिए निजी फर्म के जरिए लाइसेंस धारकों को अनुचित लाभ भी दिया गया था। इससे सरकारी खजाने को करोड़ों रुपये का नुकसान भी हुआ था।

इस मामले में ईडी मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप में संजय सिंह को गिरफ्तार कर चुकी है। इससे पहले मनीष सिसोदिया भी गिरफ्तार हो चुके हैं। वे फरवरी 2023 से जेल में बंद हैं। अब केजरीवाल के समन के जवाब में पूछताछ के लिए उपस्थित न होने पर गिरफ्तारी की तलवार लटक गई है।

Advertisement

Related posts

कथित ब्लैकमेलर रेणु राणा फिर से नहीं हुई जांच में शामिल

atalhind

कैथल में गुंडागर्दी का आलम, दिनदहाड़े आढ़ती व उनकी पत्नी की चाकूओं से गोदकर हत्या।

atalhind

नरवाना में मुकेश नाइट कार्यक्रम का आयोजन

atalhind

Leave a Comment

URL