AtalHind
गुरुग्राम (Gurugram)टॉप न्यूज़हरियाणा

  आज नहीं तो कल पटौदी बनेगा डिस्ट्रिक्ट-जरावता

  आज नहीं तो कल पटौदी बनेगा डिस्ट्रिक्ट-जरावता

गुरुग्राम को ग्रेटर गुरुग्राम बनाकर पटौदी को बनाया जाए हेड क्वार्टर

जरावता बोले बहुत पहले ही पटौदी को बन जाना चाहिए था डिस्ट्रिक्ट

जब जरावता पटौदी का एडवोकेट तो डिस्ट्रिक्ट की मांग भी सिरे चढ़ेगी

अटल हिन्द ब्यूरो/फतह सिंह उजाला
पटौदी 2 जनवरी । कभी हां और कभी ना के बीच में एक बार फिर से पटौदी के एमएलए एडवोकेट सत्य प्रकाश जरावता ने ताल ठोकी है कि आज नहीं तो कल पटौदी हर हालत में डिस्ट्रिक्ट बनेगा । उन्होंने कहा जरावता का वादा है आज नहीं तो कल पटौदी हर हालत में जिला बनेगा। गौर तलब है कि विधानसभा के शीतकालीन सत्र में पटौदी को जिला बनाने की आवाज विधानसभा में एमएलए एडवोकेट जरावता के द्वारा उठाई गई। लेकिन डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने यह कहकर इस मांग को खारिज कर दिया कि सरकार के पास नए जिले बनाने का कोई प्रस्ताव विचारणीय नहीं है।If not today then tomorrow Pataudi will become district-Jaravata

अब एक बार फिर से पटौदी के एमएलए एडवोकेट जरावता ने पटौदी को जिला बनाने की ताल ठोक दी है । उन्होंने विकसित भारत यात्रा के दौरान अपने संबोधन में कहा मुद्दा यह नहीं की जनसंख्या अधिक या काम है । सबसे बड़ी समस्या यही है कि गुरुग्राम भीड़भाड़ वाला जिला हो चुका है। ऐसे में ग्रेटर गुरुग्राम बनाया जाए और इसका हेड क्वार्टर पटौदी होना चाहिए। पटौदी एनसीआर का महत्वपूर्ण क्षेत्र है। इसके साथ ही उन्होंने कहा फरुखनगर को सब डिवीजन घोषित करने के साथ-साथ सबसे बड़े गांव बोहड़ाकला को तहसील बनाया जाना चाहिए ।

If not today then tomorrow Pataudi will become district-Jaravata

इसी मौके पर एमएलए एडवोकेट सत्य प्रकाश जरावता ने भाजपा से पहले की सरकारों पर हमला बोलते हुए कहा 2014 से पहले के हरियाणा को नहीं भूलना चाहिए। जब सांसद और विधायक के इर्द-गिर घूमने वाले लोग ही सरकारी नौकरी पर लगाते थे । विधायक और विधायक के चमचे की जेब गर्म करने वाले लोग या फिर सिर्फ उन्हीं के परिवार में नौकरी मिलती थी। उन्होंने कहा या तो जमीन गिरवी रखी जाती या फिर गहने गिरवी रखने पड़ते थे, सरकारी नौकरी का सपना इसके बाद ही पूरा हो सकता था। इसके अलावा फिर भी नौकरी नहीं लगती थी तो मजबूत सिफारिश के दम पर ही नौकरी मिल पाती थी । हमारे अहिरवाल- दक्षिणी हरियाणा क्षेत्र को तो भूल ही जाओ। 2014 से पहले सिरसा, रोहतक, भिवानी क्षेत्र के लोगों को ही सरकारी नौकरी की भर्ती में प्राथमिकता मिलती थी। 2014 के बाद जब से भाजपा की सरकार सीएम मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व में बनी है, उसके बाद से मेरिट के आधार पर ही नौकरियां उपलब्ध हो रही है । आज बेटी या फिर बेटा चंडीगढ़ से इंटरव्यू देकर घर लौटता है तो घर आने से पहले ही फोन पर नौकरी लगने की सूचना मिल जाती है। उन्होंने कहा सीएम मनोहर लाल खट्टर ने हरियाणा एक हरियाणवी एक को चरितार्थ करते हुए पूरे देश में हरियाणा को नंबर एक बनाने का संकल्प लिया हुआ है।

एमएलए एडवोकेट सत्य प्रकाश जरावता ने सभी ग्राम पंचायत, पंचायत प्रतिनिधियों और सरकारी कर्मचारियों को बधाई देते हुए कहा विकसित भारत यात्रा में हरियाणा प्रदेश पूरे भारत में प्रथम स्थान पर है । यह सब आपके सामूहिक प्रयास और जनहित के कार्यों के प्रति समर्पण कहा जा सकता है । उन्होंने कहा सही मायने में विकास और लोगों की जरूरत शिक्षा और स्वास्थ्य ही हो सकता है। 1 वर्ष के रिकार्ड समय में एक दर्जन विभिन्न स्कूल पटौदी क्षेत्र में अपग्रेड करवाए गए हैं । पटौदी शहर में ही देहात की बेटी और बेटों के लिए कॉलेज भी खोला जा चुका है । आज गांव की बेटी सुबह ताजा भोजन खाकर कॉलेज जाती है और दोपहर में घर लौटकर फिर से ताजा लंच लेती है । उन्होंने कहा गांव में गली नाली फिरनी इत्यादि बनवाना एमएलए का काम नहीं । यह कार्य चुने हुए स्थानीय जनप्रतिनिधियों का होता है। एमएलए एडवोकेट जरावता ने कहा पटौदी का एमएलए मांग करें और पूरे हरियाणा का भला हो, एक एमएलए की सोच ऐसी ही दूरदर्शी होनी चाहिए । गरीब, गरीब होता है उसका कोई धर्म वर्ग संप्रदाय जाति नहीं होती । यही कारण रहा की हरियाणा के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले कक्षा दसवीं से 12वीं तक छात्रों को टैबलेट मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के द्वारा उपलब्ध करवाए गए।

Advertisement

Related posts

हरियाणा के गुरुग्राम में कहाँ से आ रहे है इतनी बड़ी मात्रा में हथियार ,क्या है मकसद ,कोण है इन सबके पीछे 

atalhind

भूपेंद्र हुड्डा ने हरियाणा कांग्रेस पर कर लिया “कब्जा”

atalhind

आपदा जोखिम की जड़ें कहीं? अंकुर कहीं।

atalhind

Leave a Comment

URL