AtalHind
कैथल (Kaithal)क्राइम (crime)टॉप न्यूज़

कैथल में गुंडागर्दी का आलम, दिनदहाड़े आढ़ती व उनकी पत्नी की चाकूओं से गोदकर हत्या।

कैथल में गुंडागर्दी का आलम, दिनदहाड़े आढ़ती व उनकी पत्नी की चाकूओं से गोदकर हत्या।
कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सिह सुरजेवाला ने बोला खट्टर सरकार पर हमला।
कहा कि इससे पहले भी कैथल में पिछले 7 साल में हुई हत्याओ की आज तक नही सुलझी गुत्थी, अपराधी घूम रहे बेखौफ
कैथल, 24 सितम्बर 2021(ATAL HIND)

शुक्रवार को कैथल के जींद रोड, माडल टाऊन में अज्ञात बदमाश डबल मर्डर कर गये। घटना लगभग दिन के एक बजे की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार कैथल की नई अनाज मंडी के आढ़ती सत्यवान अपने जींद रोड माडल टाउन स्थित अपनी कोठी में थे। उसके पास उसकी पत्नी कैलासो भी थी कि एकाएक उन्होंने सत्यवान पर चाकुओं से हमला कर दिया।
Advertisement
हमलावरों ने उसकी पत्नी कैलाशों पर भी हमला किया। हमला करने के बाद बदमाश चले गये। दो घर पर अकेले थे। हमलावरों को घर में जाते व निकलते हुए किसी ने भी नही देखा। दोनों की मौके पर मौत हो गई। घर के गेट पर पत्नी कैलासो को पड़ा देखकर इसकी सूचना पुलिस को दी।
Advertisement
सूचना पाकर पुलिस अधीक्षक लोकेंद्र सिंह, उपाधीक्षक विवेक चौधरी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली। किसी को अभी तक यह नहीं पता चला कि हमलावर किस वाहन में आये और कितने थे। पुलिस हर पहलू से जांच कर रही है। पुलिस ने शव अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। घटना से सारा शहर दहशत में है कि दिन के समय पुलिस चौकी के पास ही इतनी बड़ी घटना घट गई।

इसी मद्देनजर कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सिह सुरजेवाला ने खट्टर सरकार व भाजपा के नुमाइंदों पर हमला बोलते हुए कहा कि कैथल में दिन दहाड़े एक आढ़ती भाई और उनकी पत्नी की दर्दनाक और निर्मम हत्या ने एक बार फिर खट्टर सरकार की औंधे मुँह पड़ी क़ानून व्यवस्था की पोल खोल दी है।

 

उन्होंने कहा कि पिछले 7 सालों से हरियाणा प्रदेश व कैथल शहर सहित पूरे जिले में गुंडो का आतंक इस कद्र हावी है कि दिन दहाड़े गुंडे सरेआम हत्या कर रहे हैं। बदमाश हावी हैं, जनता भयभीत है और भाजपा-जजपा सरकार सत्ता के नशे में सोई है।
Advertisement
आज दिन दहाड़े आढ़ती सत्यवान व उनकी पत्नी की घर में घुसकर हत्या करना ये दर्शाता है कि कैथल में गुंडों का आतंक व दहशतगर्दी का आलम दोबारा फिर चरम सीमा पर है।
कांग्रेस के महासचिव रणदीप सिह सुरजेवाला ने कहा कि 6 साल पहले भी 18 मई 2015 की दोपहर को कैथल की नई अनाज मंडी में दिन दहाड़े बाइक सवार बदमाश ने आढ़ती मनीष को गोली मारकर हत्या कर दी थी। बीते कुछ वर्षों में यह जिले का सबसे चर्चित हत्याकांड रहा। लेकिन 6 साल के बाद भी इस हत्या की कोई गुत्थी सुलझ नही पाई है।

सिर्फ इतना ही नही बल्कि यही हाल बाक़ी दर्दनाक हत्याओं का भी है :-
◆ कैथल जिले के गांव करोड़ा में 23 जनवरी 2017 की रात को विकास की गांव में हुई थी हत्या। 5 साल बाद भी आज तक कोई सुराग नही लगा।
Advertisement
◆ अक्टूबर 2019 में गांव तितरम के पास ईंट भट्ठे पर काम करने वाले मजदूर की 3 साल की बच्ची के हाथ-पांव काट दिए गए, फिर आंखें निकालकर निर्मम हत्या कर दी जाती है, लेकिन हत्यारो का आज तक कोई सुराग नहीं।
◆ गांव क्योड़क में हांसी बुटाना नहर किनारे 5 मार्च 2021 की सुबह वारदात को अंजाम दिया जाता है, कोई शिनाख्त नहीं और 5 महीने से ज्यादा का समय बीतने के बाद भी हत्यारो का कोई सुराख नहीं। न अपराधियों का अता-पता है। न कोई पकड़ा गया है और न ही किसी को न्याय मिला है।
सुरजेवाला ने कहा कि सभी जानते हैं कि कांग्रेस के शासन में ये हिम्मत किसी की नही थी।  याद कीजिए साल 2004 से पहले हरियाणा व कैथल में अपराधियों का आतंक इस कद्र था कि शहर के व्यापारी, दुकानदार, और गरीब आदमी अपने आपको सुरक्षित महसूस करते थे। सरेआम दिनदहाड़े हत्या, लूट व डकैती की घटनाएं होती थी। शहर का व्यापारी व दुकानदार कैथल शहर को छोडकर अन्य राज्यों में प्रस्थान करने को मजबूर थे।
Advertisement
शहर का नागरिक शाम 6 बजे के बाद घरों से नही निकलते थे। यही हाल आज भाजपा के 7 साल के शासन में हो रहा है। कैथल शहर में आए दिन डकैती व दुकानों के शटर तोडकर लूट की जा रही है लेकिन भाजपाइयों के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही।
लेकिन जब 2005 में कांग्रेस पार्टी व सुरजेवाला का शासन आया तो सबसे पहले कैथल शहर व जिले की सुरक्षा सुनिश्चित की गई। अपराधियो को सलाखो के पीछे डाला गया या गैंगस्टर पुलिस मुठभेड में मारे गए। लेकिन कैथल शहर सहित समस्त जिले की शांति भंग नही होने दी गई।
कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने खट्टर सरकार को चेताते हुए कहा कि पुलिस प्रशासन अगर 24 घंटे के अंदर अपराधियों को नहीं पकड़ती तो शहर के व्यापारियों व प्रबुद्ध नागरिकों के साथ जिला सचिवालय का घेराव किया जाएगा और धरना दिया जाएगा।
Advertisement
Advertisement

Related posts

1989 से अब तक कई सरकारें आई गई लेकिन कैथल को एक भी गोताखोर नहीं दिया ,प्रशासनिक अधिकारी भी रहे मस्त 

admin

शिक्षा में मामले में भारत अब्बल ,सिर्फ़ आठ प्रतिशत ग्रामीण बच्चे नियमित ऑनलाइन क्लास ले पा रहे हैं: रिपोर्ट,

admin

कैथल के गाँव जुलानी खेड़ा  सरपंच शपथ लेते ही हुआ गिरफ्तार 

atalhind

Leave a Comment

URL