AtalHind
रोहतक हरियाणा

अंतिम श्रद्धांजलि  भाई गुलशन खट्टर -मनोहर लाल

अंतिम श्रद्धांजलि  भाई गुलशन खट्टर -मनोहर लाल


रोहतक (atal hind) हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के छोटे भाई गुलशन खट्टर का असामयिक देहांत हो गया है। वे 56 वर्ष के थे। गुलशन खट्टर को हृदयाघात के बाद दो दिन पूर्व गुरुग्राम स्थित मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उन्होंने आज सुबह अंतिम सांस ली। उनका अंतिम संस्कार शीला बाईपास शमशान घाट, सोनीपत रोड, रोहतक में किया गया।
आज पंचकूला में हुए राज्यस्तरीय टोक्यो ओलंपिक 2020 पदक विजेता एवं प्रतिभागी खिलाड़ी सम्मान समारोह में दो मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। गुलशन खट्टर अत्यंत ही सरल व्यक्ति थे। उन्होंने हमेशा सादा जीवन व्यतीत किया। गुलशन खट्टर के दो पुत्र और एक पुत्री हैं और सभी शादीशुदा हैं।
रोहतक के बनियानी गांव में स्थित अपनी कृषि भूमि पर वे स्वयं ही किसानी करते थे। उनके निधन पर उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला, विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता, उपाध्यक्ष रणबीर गंगवा, समस्त मंत्रिमंडल एवं विधायकों ने शोक संवेदना व्यक्त करते हुए ईश्वर से प्रार्थना की है कि दिवंगत पुण्यात्मा को सदगति प्रदान करें।
=अंतिम श्रद्धांजलि  भाई गुलशन खट्टर -मनोहर लाल=
हृदयप्रिय अनुज गुलशन खट्टर को अंतिम श्रद्धांजलि, उनके साथ बिताए गए बहुमूल्य क्षण मेरी स्मृति में सदैव अंकित रहेंगे।पीड़ा के इन पलों में रोहतक में परिवार के सदस्यों को सहारा देने वाले सभी शुभचिंतकों तथा हमारे परिवार को हुई इस क्षति में सांत्वना और संबल प्रदान करने वाले समस्त स्नेहीजनों का मैं हृदय से आभार प्रकट करता हूँ।आज मैं उनकी अंत्येष्टि में दोपहर 3 बजे रोहतक में शामिल होऊंगा। मैं 14 अगस्त को चंडीगढ़ में और 15 अगस्त को  फरीदाबाद में ध्वजारोहण के पश्चात दिल्ली में रहूंगा।  सभी से सादर प्रार्थना है कि  एक स्थान पर ज्यादा संख्या में एकत्रित न हों एवं कोविड-19 प्रोटोकोल का पालन करें।

Advertisement
Advertisement

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

नरवाना में नारकोटिक्स विभाग की टीम पर हमला  ,ड्रग्स पकडऩे के लिए  छापेमारी करने पहुंची  थी 

admin

कैथल प्रशासन बताएगा क्या खबर दिखानी है क्या नहीं ,जनहित  में है या  नहीं ,सोशल मीडिया ,न्यूज पोर्टल पर भी खबर दिखाने ,चलाने पर पाबंदी 

atalhind

भारत ग्लूकोज में ऑपरेटर की टैंक में गिरने से मौत, टैंक काटकर निकाला बाहर

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL