AtalHind
टॉप न्यूज़दिल्लीराजनीतिहरियाणा

राकेश टिकैत बोले: ‘राहुल गांधी को ‘पप्पू’ बनाने में बीजेपी ने किया खूब खर्चा, लेकिन वो तो…’

राकेश टिकैत बोले: ‘राहुल गांधी को ‘पप्पू’ बनाने में बीजेपी ने किया खूब खर्चा, लेकिन वो तो…’
Delhi(agency)आंदोलनरत किसानों की अगुवाई कर रहे BKU नेता राकेश टिकैत ने संसद में किसानों का मुद्दा उठाए जाने पर राहुल गांधी की चर्चा करते हुए कहा कि कम से कम उन्होंने हिम्मत तो की। बकौल टिकैत, वो तो ठीक है, सरकार के खिलाफ बोलता है लेकिन भाजपा ने उन्हें पप्पू बनाने में खूब खर्चा किया है।

समाचार चैनल न्यूज 24 से चर्चा करते हुए राकेश टिकैत ने कहा कि यह तो नहीं पता कि संसद में किसानों की आवाज उठाए जाने का आंदोलन को फायदा हुआ या नहीं लेकिन आज विपक्ष किसानों का मुद्दा संसद में उठाने लगा है।

इससे पहले टिकैत ने कहा किसानों का अगला पड़ाव उत्तर प्रदेश होगा। उन्होंने कहा कि सितंबर में हम मुजफ्फरनगर में एक पंचायत का ऐलान करेंगे, इसके बाद और भी जिलों में किसानों की पंचायत बुलाई जाएगी। क्योंकि यूपी में आलू और गन्ने के किसान बर्बाद हो चुके हैं।

Advertisement

उत्तर प्रदेश में सबसे महंगी बिजली मिलती है। इन विषयों को लेकर हम पंचायतें करेंगे। लखनऊ में भी हमारा कार्यक्रम होगा। अगर पुलिस प्रशासन हमें लखनऊ में दाखिल होने से रोकेगा तो हम वहीं बैठ जाएंगे जहां रोका जाएगा।

किसानों के अगले कदम को उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा से जोड़कर पूछे गए सवाल पर किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि चुनावों से हमारा क्या लेना देना। देश में चुनाव तो हर साल होते हैं।

अगर हम 2022 को छोड़कर अपने मुद्दों को 2023 में उठाएंगे तो इसे लोकसभा के चुनावों से जोड़कर देखा जाएगा। उन्होंने कहा कि हम किसानों के नाम पर होने वाले भ्रष्टाचार के दस्तावेज सरकार को उपलब्ध कराएंगे और उनसे जांच की मांग करेंगे। उन्होंने पूछा कि क्या चुनाव के कारण हम अपनी बात नहीं उठाएं।

Advertisement

किसानों के लखनऊ ऐलान पर बीजेपी द्वारा जारी पोस्टर वार पर राकेश टिकैत ने चुटकी लेते हुए कहा कि बीजेपी के पास अपना कुछ नहीं है। उन्होंने भगवा रंग संतों से ले लिया, कहीं से कुछ ले लिया। बताते चलें कि बीजेपी द्वारा एक पोस्टर जारी किया गया है, जिसमें सख्त हिदायत दी गई है कि लखनऊ मत आना, योगी जी बक्कल उतार लेंगे। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि किसान आंदोलन के दौरान राकेश टिकैत ने बक्कल उतारने का नारा दिया था। जिसकी चर्चा सोशल मीडिया पर खूब हुई थी।

15 अगस्त के कार्यक्रम पर बात करते हुए टिकैत ने कहा कि 15 अगस्त को दिल्ली में झंडा फहराएंगे। उन्होंने कहा कि सरकार चाहे तो हमें उससे पहले वापस भेज दे। उन्होंने कहा कि अगर सरकार परमिशन नहीं देगी तो भी दिल्ली में झंडा फहराया जाएगा।

Advertisement
Advertisement

Related posts

अंग्रेजों के जमाने में हम कलायत थाने  के मालिक हुआ करते थे

admin

कोरोना वैक्सीनेशन नौकरियों पर पड़ी भारी ,हाई कोर्ट के खिलाफ : हाई कोर्ट में याचिका !

atalhind

भ्रष्टाचारियों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, भ्रष्टाचारियों की जगह जेल में–,अवैध कॉलोनियों में नहीं दी जा सकती सरकारी सुविधाएं :- मूलचंद शर्मा

atalhind

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL