AtalHind
कैथल

पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट के जस्टिस कर्मजीत सिंह ने किया कैथल अदालतों का दौरा

पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट के जस्टिस कर्मजीत सिंह ने किया कैथल अदालतों का दौरा


कैथल, 14 मार्च ( ATAL HIND)पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट के जस्टिस एवं जिला कैथल के प्रशासनिक जज कर्मजीत सिंह ने कैथल का दौरा कर अदालतों के कामकाज को देखा। सबसे पहले कैथल पहुंचने पर रेस्ट हाऊस में सैशन जज नरेश कत्याल, डीसी प्रदीप दहिया, एसपी मकसूद अहमद ने स्वागत किया। इसके बाद जस्टिस कर्मजीत सिंह ने न्यायिक परिसर पर्यावरण संरक्षण का संदेश देते हुए पौधा रोपण किया।


पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट के जस्टिस एवं जिला कैथल के प्रशासनिक जज कर्मजीत सिंह ने कैथल की सभी अदालतों का दौरा किया और बारिकी से अदालतों के काम काज को देखा तथा फीडबैक ली। उन्होंने सभी जजों को कहा कि जितने भी लंबित कोर्ट केस हैं, उन्हें निपटाएं। वे अदालतों की कार्य प्रणाली से संतुष्टï पाए गए। वकीलों ने उनके सामने नए चैंबर बनाने की मांग रखी। बार एसेसिएशन के प्रधान रविंद्र तंवर और उप प्रधान संजीव बतान, सचिव कर्ण कालड़ा, संजीव सैनी आदि ने कहा कि यहां वकीलों की अपेक्षा चैंबरों की संख्या कम है, चैंबरों के अभाव में वकीलों को लिटीगैंट हाल मेंं बैठना पड़ रहा है। इस पर जस्टिस कर्मजीत सिंह ने आश्वासन देते हुए कहा कि वे इस समस्या पर गंभीरता से विचार करेंगे तथा इस दिशा में आवश्यक कदम उठाएंगे। 

Advertisement
Advertisement

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

मैंने टीकाकरण करवाया है आप भी करवाएं : प्रदीप दहिया

admin

कैथल पोलिस का आप्रेशन नाईट डोमिनेशन 7  मामलों में 3 नाबालिगों सहित 10 आरोपी काबु,

admin

कैथल जिला परिषद में करोड़ों का घोटाला मनोहर सरकार के विधायक ने भी उठाई थी आवाज ,निर्माण सामग्री की खरीद-फरोख्त में भी गोलमाल ?

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL