AtalHind
कुरुक्षेत्र टॉप न्यूज़ राजनीति हरियाणा

पिहोवा नगर पालिका चुनाव में बीजेपी प्रत्याशी को जिताने के लिए की गई अंधेरगर्दी

पिहोवा नगर पालिका चुनाव में बीजेपी प्रत्याशी को जिताने के लिए की गई अंधेरगर्दी
बिना वजह 56 वोट कर दिए गए खुर्दबुर्द
आप ने चेयरमैन का चुनाव रद्द करने की मांग की
चेयरमैन प्रत्याशी अनिल धवन ने लिखा चुनाव आयोग को पत्र
राष्ट्रीय चुनाव आयोग और राज्य चुनाव आयोग से निष्पक्ष जांच की मांग


चंडीगढ़, 24 जून(अटल हिन्द ब्यूरो )आम आदमी पार्टी की पेहवा नगर पालिका चेयरमैन प्रत्याशी अनिल धवन ने चुनाव में धोखाधड़ी कर बीजेपी प्रत्याशी को जिताने का आरोप लगाया है। उन्होंने इसकी शिकायत केंद्रीय चुनाव आयोग और राज्य चुनाव आयोग में की है। उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों पर भी मिलीभगत कर बीजेपी प्रत्याशी जिताने की बात कही है।
आम आदमी पार्टी चेयरमैन प्रत्याशी अनिल धवन ने कहा कि पेहवा नगर पालिका के चुनाव में कुल 20419 वोट पोल हुए थे। इसका ब्यौरा राज्य चुनाव आयोग की वेबसाइट पर भी दिया गया था। लेकिन गिनती वाले दिन केवल 20363 वोटों की गिनती की गई। उन्होंने बताया कि आखिरी राउंड तक वे बढ़त बनाए हुए थे। अंतिम राउंड में उन्हें 55 वोटों से हारा दिखाकर बीजेपी प्रत्याशी को चेयरमैन घोषित कर दिया गया। जबकि 20363 वोटों की गिनती की गई।
*56 वोटों की नहीं की गिनती*
आम आदमी पार्टी चेयरमैन प्रत्याशी अनिल धवन ने बताया कि अंत में 56 वोटों की गिनती नहीं की गई। और ना ही रिटर्निंग अधिकारी ने इन 56 वोटों के बारे में कोई स्थिति स्पष्ट की। उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों पर मिलीभगत का आरोप लगाते हुए कहा कि 56 वोटों को खुर्द बुर्द कर दिया गया। ऐसा बीजेपी प्रत्याशी को जिताने के लिए किया गया।
*चुनाव आयोग निष्पक्ष जांच करे*
आम आदमी पार्टी चेयरमैन प्रत्याशी अनिल धवन ने केंद्रीय चुनाव आयुक्त राजीव कुमार और राज्य चुनाव आयुक्त धनपत सिंह से पेहवा नगर पालिका के चेयरमैन के चुनाव को निरस्त कर निष्पक्ष जांच करने की मांग की और 56 वोटों के बारे में स्थिति स्पष्ट करने की बात कही।
इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर इस मामले में प्रशासनिक अधिकारियों की मिलीभगत के सुबूत मिलते हैं तो चुनाव आयोग जिम्मेदार अधिकारियों को सस्पेंड करें और दोबारा से गिनती कर 56 वोटों की स्थिति को स्पष्ट करें, और चेयरमैन के चुनाव को अमान्य घोषित करे।

Advertisement

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

कलायत में एसडीएम विरेंद्र ढुल स्वतंत्रता दिवस समारोह पर फहराया राष्ट्रीय ध्वज, ली परेड की सलामी,

admin

सेना से लेकर बीएसएफ और रॉ के अधिकारियों के नंबर भी सर्विलांस सूची में शामिल

admin

पंजाब विधानसभा का प्रस्ताव गैर जरूरी- विजयपाल एडवोकेट

atalhind

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL