AtalHind
क्राइमगुरुग्रामजॉबटॉप न्यूज़हरियाणा

हरियाणा के गुरूग्राम में एनआईए का बड़ा कदम गैंगस्टरों के ठिकाने पर की गई रेड

हरियाणा के गुरूग्राम में एनआईए का बड़ा कदम  गैंगस्टरों के ठिकाने पर की गई रेड
गैंगस्टर कौशल, अमित डागर, संदीप उर्फ बंदर के घर को खंगाला
एनआईए, गुरुग्राम पुलिस, क्राइम ब्रांच की टीमों की 8 घंटे कार्यवाही
एनआईए ने जांच में गैंगस्टरों के परिजनों को भी किया शामिल
गुरुग्राम के नाहरपुर इलाके में इलाके में सुबह 5 बजे से चली रेड
दो बैग में सामान भरकर ले गई आईएनए की टीम अपने साथ

अटल हिन्द /फतह सिंह उजाला
गुरूग्राम। नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी के द्वारा मंडे सुबह पांच बजे से दक्षिणी दिल्ली के साथ लगते साइबर सिटी गुरुग्राम के देहात के इलाके में गैंगस्टर कौशल के घर समेत तीन अन्य स्थानों पर रेड की गई। करीब आठ घंटे तक चली इस रेड के दौरान एनआईए के द्वारा गैंगस्टरों के परिजनों से पूछताछ सहित कई प्रकार की जानकारी एकत्रित की गई। इस दौरान गुरुग्राम पुलिस व क्राइम ब्रांच की टीमें भी मौके पर मौजूद रही। गैंगस्टर कौशल के घर पर रेड होने की सूचना फैलते ही क्षेत्र के लोग घर के आसपास उमड़ने लगे । जिन्हें पुलिस ने मौके से हटा दिया और गैंगस्टर के घरों में जांच जारी रही।

दरअसल एनआईए ने पंजाब में सक्रिय बंबोरिया गैंग से जुड़े गैंगस्टरों के उत्तर भारत में 50 ठिकानों पर छापे मारे है। इसमें से तीन छापे गुरुग्राम के नाहरपुर स्थित गैंगस्टर कौशल, अमित डागर और संदीप उर्फ बंदर के घर पर  मारे गए। सूत्रों की मानें तो यह तीनों गैंगस्टर ही बंबोरिया गैंग से जुड़े हुए है। एनआईए को संदेह है कि तीनों ही बंबोरिया गैंग के साथ मिलकर देश की आंतरिक सुरक्षा को क्षति पहुंचाने के लिए कार्य कर रहे थे। इस लिए सुरक्षा एजेंसी के द्वारा यहां भी छापे मारे गए।  पंजाब में सक्रिय बंबोरिया गैंग के तार पाकिस्तान से जुड़े हुए हैं। ऐसे में एनआईए को पूरा यकीन था कि बंबोरिया गैंग से जुड़े गैंगस्टर और उसके गुर्गों के यहां रेड करने पर कुछ ऐसे सबूत हाथ लग सकते हैं, जो कि एजेंसी की जांच को एक नई दिशा भी दे सकते हैं।

Advertisement
मंडे को अल सुबह पांच बजे ही गुरुग्राम पहुंची एनआईए की टीम के द्वारा दोपहर करीब एक बजे तक यहां छापेमारी की गई। छापेमारी के बाद जब एनआईए के अधिकारी गैंगस्टर कौशल के घर से बाहर निकले तो उनके हाथों में दो बैग थे। माना जा रहा है कि घर से कुछ ऐसे सबूत मिले हैं,  जिनके तार बंबूरिया गैंग व पाकिस्तान से जुड़े हो सकते हैं।
गौरतलब है कि हत्या, हत्या के प्रयास व रंगदारी मांगने के मामले में सक्रिय गैंगस्टर कौशल ने फरीदाबाद के कांग्रेसी नेता की हत्या कराई थी। इसके बाद एसटीएफ हरियाणा को, गैंगस्टर के दुबई में होने का पता लगा था।  जिसके बाद एसटीएफ ने दुबई पुलिस से संपर्क करके गैंगस्टर को डीबोर्ट कराया था। दिल्ली के इंदिरा गांधी एयरपोर्ट पर पहुंचते ही एसटीएफ ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। गैंगस्टर कौशल के करीबी संदीप उर्फ बंदर व अमित डागर पर भी हत्या, हत्या के प्रयास समेत दर्जनों मामले दर्ज हैं। अब इनके तार आतंकी गतिविधियों से जुड़े बताए जा रहे हैं जिसके बाद एनआईए ने इनके घर-ठिकानों पर रेड की है।
Advertisement

Related posts

अवैध कारोबार करने वाले अपराधियों पर कैथल पुलिस की पैनी नजर

admin

कैथल जिले के कई गांवों में सफाई के नाम पर करोड़ों का फर्जीवाड़ा-लीला राम 

admin

अनिल विज इन एक्शन, तीन अधिकारियों पर दिखा रि-एक्शन

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL