AtalHind
शिक्षाहरियाणा

कुछे पढ़ा लो यू हरयाणा स सरकार किताबी कीड़ा बना कर रखेगी बच्चों को ,अतीत क्यों वर्तमान पढ़ाओं ना सरकार  ,

कुछे पढ़ा लो यू हरयाणा स सरकार किताबी कीड़ा बना कर रखेगी बच्चों को ,अतीत क्यों वर्तमान पढ़ाओं ना सरकार 
,
  भारत की वीर गाथा पढ़ेंगे विद्यार्थी : हरियाणा शिक्षा बोर्ड ने कक्षा 6 से 10वीं तक बदला इतिहास का सिलेबस

भिवानी () हरियाणा के कक्षा 6 से 10 तक के विद्यार्थी भारत का गौरवशाली इतिहास पढ़ेंगे। इसके लिए हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने इसका नया सिलेबस तैयार कर लिया है। वर्ष 2022-2023 में अब विद्यार्थी भारत देश की गौरवशाली इतिहास को पढ़ेंगे। इससे पहले का इतिहास अब बदल जाएगा। विद्यार्थियों को दिक्कत ना हो इसके लिए सरल तरीके से इसे बनाया गया है। हरियाणा के विद्यार्थी अब कक्षा 6 से 10 तक का नया इतिहास पढ़ेंगे। इसके लिए बोर्ड ने सारी तैयारियां कर ली हैं। बोर्ड चेयरमैन प्रोफेसर डॉक्टर जगबीर सिंह ने बताया कि 2017 में सभी बोर्ड के चेयरमैन व सचिवों की बैठक आयोजित हुई थी। जिसमें तय हुआ था कि जो भी बोर्ड अपने इतिहास के सिलेबस को बदलना चाहे वह बदल सकता है। जगबीर सिंह ने बताया कि अब हरियाणा के विद्यार्थी गौरवशाली इतिहास पढ़ेंगे। पहले के इतिहास में ऐसे पाठ नहीं थे लेकिन अब हरियाणा के विद्यार्थी ऐसा इतिहास पढ़ेंगे जो उन्हें गोर्ववित करवाएगा।
Read something u haryana government will keep the children as bookworm, why don’t the government teach the present?
उन्होंने बताया कि नई पुस्तकों में ना केवल भगत सिंह व सुभाष चन्द्र के बारे में पढ़ने को मिलेगा बल्कि मध्यकाल के बारे से व आजादी के 50 वर्षों के गौरवशाली इतिहास को जानने का मौका मिलेगा। नई पुस्तके पढ़ कर बालक अपने आपको भी गोर्ववित महसूस करेंगे। उसमें देश के राजा- महाराजाओं का इतिहास होगा। साथ ही हमारे देश की जीडीपी के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी गई है कि किस प्रकार से भारत देश की जीडीपी थी अंग्रेजों के समय की। बोर्ड चेयरमैन ने बताया कि सरकारी स्कूलों को ये पुस्तक नि:शुल्क मिलेंगी। वहीं प्राइवेट स्कूलों को बोर्ड के काउंटर से ही ये किताब मिलेंगी।भारत आज तक सिर्फ इतिहास ही तो पढ़ता आया है वर्तमान तो कभी किसे ने पढ़ाया ही नहीं। सरकार छात्र-छात्राओं को या हरियाणा के नागरिकों को एक बात सच- सच बता दे की  अतीत के किस महापुरुष ,महा गाथा ,गीता आद्याये ,धर्म ने किसी को नौकरी दी क्या !इतिहास से छेड़छाड़ करना ,जनता को बरगलाना सभी सरकारों का मुख्य मकसद रहा है ताकि आम जनता को किसी ना किसी  तरीके से व्यस्त और भर्मित रखा जाए। हरियाणा की मनोहर सरकार हरियाणा  युवाओं का भविष्य खराब करने पर उतारू है अगर मनोहर सरकार ने बच्चों को देश का गौरवशाली इतिहास पढ़ाना ही है तो 2014  से अब तक की केंद्र सरकार व  बीजेपी शासित राज्यों सरकारों ने क्या क्या किया ये पढ़ाओं ना ताकि आने वाले समय में सरकारों और बच्चों का आपसी सम्पर्क बना रहे क्योंकि जहाँ किताबों में सरकारें अपना गुणगान करेंगी वहीँ देश का जागरूक युवा वर्ग उससे भर्मित नहीं हो पाएगा ?छात्र- छात्राओं को यह तो पता चले की उनका हरियाणा आज कहाँ खड़ा है और विदेशी हमसे आगे क्यों निकल रहें है !

Advertisement
Advertisement

Related posts

अनिल विज और मनोहर लाल खटर को बता दिया की जनता राज हरियाणा में आ रहा है जिसके चलते  भाजपा हरियाणा में अपने लिए सबसे “बड़ी” चुनौती आप को मान रही है?

atalhind

कैथल जिले में पंचायती राज संस्थाओं के तहत सरपंच और पंच पद के चुनाव संपन्न

atalhind

पत्रकार पर पुलिस हमले को लेकर प्रेस कौंसिल का हरियाणा सरकार को नोटिस

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL