AtalHind
अम्बालाटॉप न्यूज़

कैथल एसपी को कड़ी फटकार लगाते अनिल विज बोले एसपी साहब “थाने में आरोपी को चाय पिलाई जा रही है

एक्शन मोड में गृह मंत्री अनिल विज
एक्शन मोड में गृह मंत्री अनिल विज

एक्शन मोड में गृह मंत्री अनिल विज

कबूतरबाजी मामले में आरोपी को थाने में बिठाकर चाय पिलाने वाले पूंडरी थाने के दो मुलाजिम सस्पेंड, एंबुलेंस चालकों से पैसे मांगने के आरोप में पानीपत सिटी थाना प्रभारी बलराज सस्पेंड

गृह मंत्री अनिल विज को कबूतरबाजी मामले में महिला फरियादी ने जनता दरबार में दिखाई थाने में बैठे उस आरोपी की वीडियो जिस आरोपी को पुलिस ने नहीं किया था गिरफ्तार

Advertisement

गृह मंत्री की कड़ी फटकार के एक घंटे के भीतर कैथल पुलिस ने पकड़ा आरोपी, दरबार में ही डीजीपी ने गृह मंत्री को दी जानकारी

57 लाख रुपए ठगी के मामले में पंचकूला डीएसपी के रीडर को हटाने के निर्देश दिए गृह मंत्री अनिल विज ने

अम्बाला, पूर्ण सिंह

Advertisement

 हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री अनिल विज आज जनता दरबार में एक्शन मोड में नजर आए। कैथल के पूंडरी थाने में कबूतरबाजी के फरार चल रहे आरोपी को थाने में ही दो मुलाजिमों द्वारा चाय पिलाने की वीडियो महिला फरियादी ने दिखाई तो मंत्री विज ने तुरंत प्रभाव से दोनों मुलाजिमों को सस्पेंड करने के निर्देश जारी किए। इसी तरह, पानीपत में एंबुलेंस चालकों द्वारा सिटी थाना प्रभारी बलराज पर 10 हजार रुपए प्रति एंबुलेंस मांगने के आरोप के अंतर्गत गृह मंत्री ने सस्पेंड करने के निर्देश दिए।

जनता दरबार में कबूतरबाजी मामले को लेकर उन्होंने कैथल एसपी को भी कड़ी फटकार लगाई। फटकार लगाते हुए गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि एसपी साहब “थाने में आरोपी को चाय पिलाई जा रही है और आप कह रहे हो कि आरोपी मिल नहीं रहा। अपराधी थाने में पैर-पसार कर बैठे हैं, दोनों मुलाजिमों को तुरंत सरस्पेंड करो, अपराधी क्या ऐसे थाने में बैठेंगे। मैं क्या थाना बंद कर दूं, ऐसा कैसे हो सकता है, एसपी साहब ऐसा कैसे हो सकता है, क्या प्रदेश में गुंडे राज करेंगे, मुझे तुरंत कार्रवाई चाहिए।”

कैथल से आई महिला फरियादी ने गृह मंत्री अनिल विज को कबूतरबाजी मामले में शिकायत देते हुए आरोप लगाया कि 25 लाख रुपए की ठगी के मामले के आरोपी को पुलिस पकड़ नहीं रही है। मामला दर्ज होने के बावजूद भी आरोपी सरेआम घूम रहा है और पुलिस मुलाजिम आरोपी को थाने में ही बिठाकर चाय पिला रहे हैं। महिला ने गृह मंत्री विज को आरोपी के थाने में बैठे होने का वीडियो भी दिखाया। पुलिस के इस रवैये से खफा हुए गृह मंत्री ने तुरंत एसपी कैथल को फोन कर पहले उन्हें कड़ी फटकार लगाई। गृह मंत्री अनिल विज की फटकार के एक घंटे के भीतर डीजीपी पीके अग्रवाल ने गृह मंत्री अनिल विज को आरोपी की जानकारी दी कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

Advertisement

वहीं, पानीपत से आए एंबुलेंस चालकों ने गृह मंत्री अनिल विज को शिकायत देते हुए आरोप लगाया कि उन्हें एंबुलेंस चलाने की एवज में सिटी थाना प्रभारी बलराज द्वारा 10 हजार रुपए प्रति एंबुलेंस के मांगे जा रहे हैं। मंत्री विज ने मामले में पानीपत एसपी को फोन कर थाना प्रभारी को सस्पेंड करने के निर्देश दिए।

शनिवार अम्बाला छावनी के पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में जनता दरबार में प्रदेशभर से छह हजार से ज्यादा फरियादी अपनी शिकायतें लेकर पहुंचे जिन पर कार्रवाई के दिशा-निर्देश गृह मंत्री अनिल विज द्वारा दिए गए। जनता दरबार देर सांय तक जारी रहा।

57 लाख की ठगी, डीएसपी के रीडर को हटाने के निर्देश दिए गृह मंत्री अनिल विज ने

जनता दरबार में फरियादी ने शिकायत देते हुए आरोप लगाया कि उसने 57 लाख रुपए में कोठी का सौदा किया था। मगर आरोपी ने उसके साथ धोखाधड़ी की। इस मामले में पुलिस को शिकायत की गई थी, मगर अब तक उसकी शिकायत दर्ज नहीं की गई है। फरियादी का आरोप था कि डीएसपी के रीडर ने उससे केस दर्ज करने की एवज में दो लाख की मांग की, उसने यह राशि नहीं दी और अब तक उसका केस दर्ज नहीं हुआ है। मामले में गृह मंत्री विज ने डीएसपी के रीडर को सीट से हटाने, मामला दर्ज करने के निर्देश दिए।

Advertisement

पोक्सो के मामले में आरोपी को शाम तक गिरफ्तार करने के निर्देश एसपी झज्जर को

गृह मंत्री अनिल विज के समक्ष झज्जर से आए सैन्य जवान ने शिकायत देते हुए बताया कि उसकी नाबालिग बहन के खिलाफ रेप के मामले में आरोपी को झज्जर पुलिस अब तक गिरफ्तार नहीं कर सकी है। इस मामले को लेकर पूरे परिवार में रोष है। इस मामले में कड़ा संज्ञान लेते हुए गृह मंत्री अनिल विज ने झज्जर एसपी को फोन कर फटकार लगाते हुए कहा कि आरोपी को अब तक गिरफ्तार क्यों नहीं किया जा सका है। उन्होंने एसपी को सख्त आदेश दिए कि आरोपी को आज शाम तक गिरफ्तार करें ताकि फरियादी को न्याय मिल सके।

नूंह में कंप्यूटर आपरेटर को हटाकर अन्य को नौकरी पर लगाया, एसीएस हेल्थ को जांच के निर्देश

Advertisement

नूंह से आए फरियादी युवक ने बताया कि वह नूंह अस्पताल में कंप्यूटर आपरेटर के पद पर 2014 से कार्यरत था, मगर अधिकारियों ने 2018 में उसे हटा दिया। इसके बाद दो अन्य युवक पैसे लेकर रख लिए गए जबकि उसे जानबूझकर हटाया गया। मामले में कड़ा संज्ञान लेते हुए मंत्री विज ने स्वास्थ्य विभाग के एसीएस को जांच के निर्देश दिए।

फौजी के भाई से मारपीट मामले में मंत्री विज फौजी से बोले, “तुम अपनी ड्यूटी करो, मैं तुम्हारे लिए लडूंगा”

गृह मंत्री अनिल विज के समक्ष हिसार से आए सैन्य जवान ने बताया कि उसके भाई से कई युवकों ने मारपीट की, मगर उसके भाई की शिकायत पर दर्ज मामले में आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है। फौजी ने कहा कि वह बार्डर पर लड़े या सिस्टम से। इस पर गृह मंत्री  अनिल विज ने संज्ञान लेते हुए फौजी से कहा कि “तुम बार्डर पर ड्यूटी दो, मैं तुम्हारे लिए लडूंगा, तुम्हे चिंता करने की जरूरत नहीं”। फौजी की शिकायत पर गृह मंत्री ने आईजी हिसार को इस मामले में अन्य जिले की एसआईटी बनाकर जांच के निर्देश दिए।

Advertisement

अन्य मामलों में कार्रवाई के निर्देश

जनता दरबार में अन्य मामलों में भी मंत्री ने कार्रवाई के निर्देश दिए। चरखी दादरी से आए एक व्यक्ति ने उसकी भाभी के साथ मारपीट के मामले में बनाई गई एसआईटी में उसी पुलिस अधिकारी को शामिल किया गया है जिसके खिलाफ उन्होंने शिकायत दी थी, मामले में मंत्री विज ने अधिकारी को एसआईटी से हटाने के निर्देश दिए। इसी प्रकार, हजारों अन्य शिकायतों पर भी उन्होंने कार्रवाई के निर्देश दिए।

जनता दरबार में आने वाली जनता का रखा गया पूरा ध्यान

Advertisement

अत्याधिक सर्दी की वजह से जनता दरबार में इस बार विशेष प्रबंध किए गए थे। जनता को सर्दी से बचाने के लिए कवर टेंट लगाया गया साथ ही टेंट में कई हीट पिल्लर लगाए गए। इसके अलावा, रोटी बैंक की ओर से जनता दरबार में आने वाले लोगों को चाय भी पिलाई गई।

इस अवसर पर एडीसी सचिन गुप्ता, एसडीएम सतिन्द्र सिवाच के अलावा सभी पुलिस रेंज से डीएसपी सहित कपिल विज, भाजपा मंडल प्रधान राजीव डिम्पल, मंडल प्रधान किरण पाल चौहान, सुरेन्द्र तिवारी, बीएस बिन्द्रा, रवि सहगल, दीपक भसीन, शैली खन्ना, जसबीर जस्सी, बलविन्द्र सिंह शाहपुर, राम बाबू यादव, श्याम सुंदर अरोड़ा, आशीष अग्रवाल सहित अन्य मौजूद रहे।

Advertisement
Advertisement

Related posts

अगर जिन्ना देश के पहले प्रधानमंत्री बनते तो विभाजन से बच सकता था भारत : भाजपा नेता

atalhind

35,000 से अधिक छात्रों की आत्महत्या से मौत हुई: सरकारी डेटा

editor

कैथल पोलिस ने एटीएम कार्ड का क्लोन बना जालसाजी करने वाले 2 शातिर अपराधी गिरफ्तार किये 

admin

Leave a Comment

URL