AtalHind
कैथलटॉप न्यूज़

कैथल में आगामी 22 व 23 दिसंबर से स्थानीय भाई उदय सिंह किला परिसर में शुरू होगा महोत्सव

कैथल में आगामी 22 व 23 दिसंबर से स्थानीय भाई उदय सिंह किला परिसर में शुरू होगा महोत्सव–विभिन्न विभागों द्वारा लगाई जाएगी प्रदर्शनी–सायं काल में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का होगा आयोजन :- डीसी प्रशांत पंवार
कैथल में आगामी 22 व 23 दिसंबर से स्थानीय भाई उदय सिंह किला परिसर में शुरू होगा महोत्सव
कैथल, 12 दिसम्बर (अटल हिन्द रिपोर्ट ) डीसी प्रशांत पंवार ने कहा कि आगामी 22 व 23 दिसंबर को गीता जयंती महोत्सव भव्य और गरिमा पूर्ण तरीके से मनाया जाएगा। इसके लिए सभी अधिकारी अपने-अपने विभागों से संबंधित तैयारियां समय रहते पूरी कर लें।
भाई उदय सिंह किला परिसर में हवन यज्ञ से गीता महोत्सव की शुरूआत की जाएगी और इसी दिन प्रदर्शनी का उद्घाटन भी होगा, जिसमें विभिन्न विभागों द्वारा योजनाओं, परियोजनाओं संबंधित विषयों को लेकर स्टॉल लगाए जाएंगे। इसके अलावा समाज सेवी संस्थाएं भी अध्यात्मिक और पौराणिक दृष्टिकोण से सहयोग करेंगी।
डीसी प्रशांत पंवार मंगलवार को स्थानीय लघु सचिवालय के सभागार में गीता जयंती महोत्सव मनाने को ेकर अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि गीता महोत्सव हमारा अध्यात्मिक पर्व है। इसमें संबंधित अधिकारी, समाज सेवी संस्थाओं और एैच्छिक संगठनों को आमंत्रित करते हुए एक रूप रेखा तैयार करें। जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि ग्लोबल चैंटिंग के लिए बच्चों को तैयार किया जाए। जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी शौचालय स्थापित करने के साथ-साथ पेयजल व्यवस्था भी करें।
बैठक में उन्होंने नगर परिषद के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि आयोजन स्थल पर लेवलिंग का काम सुचारू रूप से होना चाहिए। सभी दीवारों पर सफेदी इत्यादि करवाकर निर्धारित नियमानुसार गीता के श्लोक लिखवाना सुनिश्चित करें, ताकि लोगों को हमारे अध्यात्मिक और पौराणिक परिवेश बारे व्यापक रूप से जानकारी मिल सके। कार्यक्रम के आयोजन को लेकर गठित कमेटी के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि टैंटिंग, लाईट एडं साउंड, बिजली सप्लाई, रंगोली के साथ-साथ भव्य और शानदार प्रवेश गेट बनाए जाने चाहिए। सांस्कृतिक कार्यक्रम थीम पर आधारित होने चाहिए।
भाई उदय सिंह किला परिसर में सभी विभाग अपने-अपने विभागों से संबंधित स्टॉल लगाएं। बिजली सप्लाई और लाईट एंड साउंड की व्यवस्था भी बेहत्तर होनी चाहिए। किला परिसर की दीवारों को बेहत्तर तरीके से सजाया जाए। बैठक में उपस्थित पुलिस अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि कार्यक्रम स्थल पर सुरक्षा व्यवस्था पूरी तरह से चाक-चौबंद होना चाहिए। साथ ही 23 दिसंबर को शोभा यात्रा के दौरान रूट के अनुसार सुरक्षा व्यवस्था में कोई कमी नहीं रहनी चाहिए।
उन्होंने कहा कि विद्क्यार तीर्थ के साथ-साथ जिला में अन्य तीर्थों पर दीपोत्सव की बेहत्तरीन व्यवस्था होनी चाहिए। इसके लिए पंचायती राज संस्थाओं के साथ-साथ तीर्थ कमेटियों का भी सहयोग लिया जाए। इन कार्यक्रमों में गांव के लोगों की भागीदारी भी अति अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि इन कार्यक्रमों में मुख्यातिथियों को आमंत्रित किया जाए। गीता जयंती महोत्सव के लिए एडीसी सुशील कुमार को नोडल अधिकारी बनाया गया है।
बैठक में एडीसी सुशील कुमार, डीएमसी कुलधीर सिंह, एसडीएम कपिल कुमार व कृष्ण कुमार, सीईओ जिप अश्वनी मलिक, सीटीएम गुरविंद्र सिंह, तहसीलदार अनिल बिढ़ान, नायब तहसीलदार आशीष, डीडीपीओ कंवर दमन, डीआईपीआरओ कृष्ण कुमार, सीएमओ रेणू चावला, शिव शंकर पाहवा, दिनेश पाठक, सुषम कुमार, टेक चंद, सुरेंद्र बिट्टू, राजू डोहर, रामजी लाल सहित संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।
Advertisement

Related posts

निजी अंगों पर हुआ हमला- प्रदर्शन कर रहीं कार्यकर्ता

admin

बलात्कार के दोषी अपने पार्टी विधायक रामदुलार गोंड को बीजेपी कब विधानसभा से अयोग्य घोषित करेगी

editor

पटौदी सब्जी मंडी में लाठी डंडों से लैस बदमाशों का तांडव 

editor

Leave a Comment

URL