AtalHind
चण्डीगढ़ (Chandigarh)टॉप न्यूज़पंचकुलाहरियाणा

मनोहर सरकार ने चंडीगढ़ पर अधिकार छोड़ दिया क्या ?जो पंचकूला को अभी (छोटी )  मिनी राजधानी बना रहे है ,बाद में पूर्ण राजधानी बना दी जाएगी !

मनोहर सरकार ने चंडीगढ़ पर अधिकार छोड़ दिया क्या ?जो पंचकूला को अभी (छोटी )  मिनी राजधानी बना रहे है ,बाद में पूर्ण राजधानी बना दी जाएगी !

चण्डीगढ़(अटल हिन्द ब्यूरो )
पंजाब सरकार यानी आम आदमी पार्टी ने जैसे ही पंजाब में सत्ता संभाली और एकजुट होकर चंडीगढ़ पर अपना हक़ जताया उससे हरियाणा सरकार की चिंता बढ़ गई बेशक मनोहर लाल और उनके मंत्री अपनी आदत के अनुसार अपना घर छोड़ दूसरों के घरों में दखल देकर खुद को समझा रहे हों लेकिन मामला इतना आसान नहीं है क्योंकि यह दिल्ली नहीं पंजाब है।
Advertisement
आप आदमी पार्टी दिल्ली में उसके साथ किये गए बर्ताव को भूली नहीं खासकर बीजेपी  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार की घटिया राजनीति जिसके चलते मोदी सरकार ने आप विधायकों को वो भी दिल्ली की जनता द्वारा पूर्ण बहुमत से चुने 67 विधायकों में से हर किसी आप विधायक को झूठे केस बना कर जेल भेजना ,जनता द्वारा चुने मुख्यमंत्री से अधिकार छीनना मुख्यमंत्री की पॉवर उपराज्पाल को सौपना ऐसे अनेक गैर सवैधानिक निर्णय दिल्ली की जनता भूली नहीं है।
जिसके कारण नरेंद्र मोदी को बीजेपी का प्रधानमंत्री कहा जाने लगा और दिल्ली की जनता के साथ साथ पंजाब की जनता से भी बीजेपी नेताओं को मुंह की खानी पड़ी। हरियाणा के बीजेपी नेताओ और मनोहर सरकार का तो कहना ही कुछ नहीं क्योंकि नकल करने के लिए भी अक्ल की जरूरत पड़ती है और मनोहर सरकार प्रदेश  की बजाए हरियाणा में यूपी वाले कानून थोपने में और गैर बीजेपी सरकारों और उनके नेताओं  को कोसने में लगी रही बची खुसी कसर बीजेपी के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पंजाब को हत्यारा घोषित कर पूरी कर दी।
Advertisement

जिसके कारण चंडीगढ़ हरियाणा के हाथों से खिसकने लगा है यही डर मनोहर सरकार को सता रहा है जिसके चलते रविवार को   हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने खुद कहना पड़ा की सरकारी विभागों व कार्यालयों की दृष्टि से पंचकूला को वे प्रदेश की मिनी राजधानी के रूप में विकसित पंचकूला बनाएंगे  मुख्यमंत्री ने यह घोषणा पंचकूला के सेक्टर-3 स्थित ताऊ देवी लाल स्टेडियम में आयोजित ”जन विकास रैली” को संबोधित करते हुए की।

The Manohar government gave up control over Chandigarh. Those who are making Panchkula a mini-capital now, will later be made a full-fledged capital!
Advertisement
मुख्यमंत्री ने कहा कि पंचकूला शहर का हर क्षेत्र में विकास किया जाएगा चाहे वह शिक्षा हो, स्वास्थ्य हो, उद्यम हो या सेवा क्षेत्र की परियोजनाएं हों। उन्होंने कहा कि पंचकूला शिवालिक की तलहटी में बसा गेटवे ऑफ हरियाणा है।मुख्यमंत्री मनोहर लाल के इस व्यक्तव्य से तो ऐसा लग रहा है की हरियाणा की जनता को जल्द ही पंचकूला या गुरुग्राम दोनों में से किसी एक को हरियाणा की राजधानी स्वीकार करना पड़ेगा।
  जिन नेताओं ने पंचकूला को एक छोटे से गांव से शहर के रूप में बसाया था और उसे आदर्श शहर बनाने का वादा किया था सत्ता में आने के बाद वे उसे भूल गए और सभी परियोजनाएं गुरुग्राम में लेकर चले गए। हालांकि, गुरुग्राम प्रदेश की आर्थिक राजधानी है और यह विश्व के आइकन शहरों में शामिल है। विश्व की 200 से अधिक जानी-मानी फार्चून कंपनियों के कार्यालय गुरुग्राम में हैं।
Advertisement
पंचकूला को भी गुरुग्राम के बराबर विकसित किया जाएगा।बेशक मनोहर लाल अपने आकाओं के डर से हरियाणा की जनता को अँधेरे  कर ब्यान -बाजी कर रहे हो लेकिन जनता सब समझती है। जैसा की रैली में मुख्यमंत्री ने कहा कि खेलों की दृष्टि से अंतरराष्ट्रीय स्तर का खेल स्टेडियम ताऊ देवी लाल स्टेडियम, पंचकूला में ही है।
आगामी जून माह में इसी स्टेडियम में ‘खेलो इंडिया’ का आयोजन किया जाएगा, जिसमें 14 हजार से अधिक खिलाडिय़ों के भाग लेने की संभावना है। इसी प्रकार, यहां पर मोरनी में टिक्कर ताल में एअर स्पोट्र्स और वाटर स्पोट्र्स व साहसिक खेलों की शुरूआत की गई है और पर्यटन की दृष्टि से पंचकूला एक उपयुक्त स्थल के रूप में उभर चुका है।
उन्होंने कहा कि पंचकूला खेल, पर्यटन की दृष्टि से आदर्श शहर तो बनेगा ही और यहां स्थित श्री माता मनसा देवी मंदिर के कारण आध्यात्मिक दृष्टि से भी यह जिला प्रसिद्ध है।
Advertisement
इन प्रमुख योजनाओं की घोषणा की
पंचकूला महानगर का लोगो लांच करके पंचकूला महानगरीय विकास प्राधिकरण की विधिवत शुरुआत करते हुए मुख्यमंत्री ने 175 करोड़ रुपये की दो परियोजनाएं प्राधिकरण को पहले चरण के लिए देने की घोषणा की।
इसके अलावा, सेक्टरों में मल्टीलेवल पार्किंग के लिए भी प्राधिकरण पीपीपी मोड के तहत कार्य करवाएगा और वीजीएफ गैप को सरकार वहन करेगी। मुख्यमंत्री ने जिन प्रमुख योजनाओं की घोषणा की उसमें 75 करोड़ रुपये की लागत से हरियाणा अंतर्राष्ट्रीय कला सेंटर, 16 करोड़ रुपये की लागत से कजौली वाटर वर्क्स, पिंजौर, बरवाला व एमडीसी में 151 करोड़ रुपये के नये फायर स्टेशन शामिल हैं।
Advertisement
इसके अलावा, हाईराइज फायर ब्रिगेड के लिए 16 करोड़ रुपये, कालका में टांगरी नदी पर पुल तथा गांव बालदवाला के लिए डैम, नये नागरिक अस्पताल कालका के लिए 35 करोड़ रुपये, रायपुररानी पीएचसी को 25 बैड के रूप में विकसित करना, 25 लाख रुपये की लागत से पिंजौर बस स्टैंड का निर्माण, पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस पिंजौर के पास रिटेनिंग वॉल के लिए 50 करोड़ रुपये, दूनरायतन क्षेत्र में नई डिस्पेंसरी व स्कूलों को अपग्रेड करने की योजनाएं शामिल हैं।
पिंजौर की 60 एकड़ भूमि में बनेगी फिल्म सिटी
मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि एचएमटी पिंजौर में 60 एकड़ भूमि पर फिल्म सिटी का निर्माण करवाया जा रहा है। बॉलीवुड के कई फिल्म निर्माताओं ने यहां आने की इच्छा व्यक्त की है।
उन्होंने कहा कि पंचकूला में शीघ्र ही मेडीकल कॉलेज खोला जाएगा। इसके अलावा, दिल्ली स्थित एम्ज़ की तर्ज पर माता मनसा मनसा देवी के पास आयुष का एम्स बनाया जा रहा है।
Advertisement
यहां निकट नेचर कैंप थापली में दिल्ली व केरल की तर्ज पर पंचकर्मा केन्द्र स्थापित किया जा रहा है। इसी प्रकार, औद्योगिक दृष्टि से पंचकूला विकसित हो, इसके लिए बरवाला में एचएसआइआईडीसी द्वारा औद्योगिक संपदा विकसित की जा रही है।
Advertisement

Related posts

छात्रों में आत्महत्या के बढ़ते मामले।

atalhind

सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश द्वारा कानून का दुरुपयोग करने पर की गई टिप्पणी बेहद गंभीर: अभय सिंह चौटाला

admin

सरकार को ख़ुद को बेगुनाह साबित करना चाहिए-प्रेस संगठन

admin

Leave a Comment

URL