AtalHind
कुरुक्षेत्र (Kurukshetra)टॉप न्यूज़

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने ब्रहमसरोवर पर महाआरती व महापूजन में की शिरकत,

पवित्र ग्रंथ गीता की महाआरती व महापूजन से हुआ अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव-2023 का आगाज
उप राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ व मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने ब्रहमसरोवर पर महाआरती व महापूजन में की शिरकत,

उप राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ व मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने ब्रहमसरोवर पर महाआरती व महापूजन में की शिरकत,

कुरुक्षेत्र
अटल हिन्द ब्यूरो /शशी अरोड़ा

पवित्र ग्रंथ गीता की महाआरती व महापूजन तथा गीता के श्लोकों के उच्चारण के बीच कुरुक्षेत्र के अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव-2023 का आगाज हो चुका है। इस आगाज के साथ ही ब्रहमसरोवर के चारों तरफ पवित्र ग्रंथ गीता के श्लोकोच्चारण से पूरी फिजा ही गीतामय हो गई। इसके साथ ही उपराष्ट्रपति जयदीप धनखड़, मुख्यमंत्री मनोहर लाल, गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानंद ने पवित्र ग्रंथ गीता की महाआरती व महापूजन कर विधिवत रुप से 17 दिसंबर से 24 दिसंबर तक चलने वाले अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव-2023 का शुभारम्भ किया। इस दौरान आकाश में छोडें गए रंग-बिरंगे हिंडोले मुख्य आकर्षण का केंद्र रहे।

अंतराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2023 में उप राष्टï्र्रपति जगदीप धनखड़ व उनकी धर्मपत्नी डा. सुदेश धनखड़ का धर्मक्षेत्र-कुरुक्षेत्र में पहुंचने पर सबसे पहले कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय हैलीपेड पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष एवं सांसद नायब सिंह सैनी, राज्यमंत्री संदीप सिंह, विधायक सुभाष सधा, उपायुक्त शांतनु शर्मा, कुलपति डा. सोमनाथ सचदेवा ने स्वागत किया।

इसके उपरांत रविवार को ब्रहमसरोवर के पुरुषोतमपुरा बाग में उप राष्टï्रपति जगदीप धनखड़ का जैसे ही आगमन हुआ, उसी समय मंत्रौच्चारण के बीच मुख्यमंत्री मनोहर लाल, गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानंद महाराज, असम के मुख्य सचिव पवन कुमार बोरठाकुर, असम के सांस्कृतिक एवं कॉमर्स मंत्री बिमल बोरहा, राज्यमंत्री संदीप सिंह, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव एवं सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक डा. अमित अग्रवाल, अंतराष्ट्रीय गीता महोत्सव के नोडल अधिकारी एवं केडीबी सदस्य सचिव विकास गुप्ता, मुख्यमंत्री के राजनैतिक सलाहकार भारत भूषण भारती, हरियाणा सरस्वती धरोहर विकास बोर्ड के उपाध्यक्ष धुमन सिंह, आयुक्त अंबाला मंडल रेणू फुलिया, उपायुक्त शांतनु शर्मा, जिला परिषद की चेयरमैन कंवलजीत कौर ने परम्परा अनुसार स्वागत किया।

यहां पर देश के विभिन्न राज्यों से आए लोक कलाकारों ने अपने-अपने प्रदेश की वेशभूषा में सुसज्जित होकर अपने-अपने प्रदेश की परंपरा अनुसार सभी मेहमानों और पर्यटकों का कुरुक्षेत्र की पावन धरा पर पहुंचनें पर अभिनंदन किया।

उप राष्ट्रपति  जगदीप धनखड़ व मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पंडित बलराम गौतम, पंडित सोमनाथ शर्मा, गोपाल कृष्ण गौतम, अनिल व रुद्र द्वारा श्लोकोच्चारण के बीच पवित्र ग्रंथ गीता की महाआरती व महापूजन से अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव-2023 का शुभारम्भ किया। इससे पहले सभी मेहमानों ने भागीदारी राज्य असम के पवेलियन का उदघाटन करने के उपरांत असम प्रदेश के खान-पान, रहन-सहन, परिधानों सहित अन्य विभिन्न दृश्यों को दर्शाने वाले स्टॉलों का अवलोकन किया।

इस दौरान सभी मेहमानों ने हरियाणा पवेलियन का उदघाटन करने के बाद की सांस्कृतिक विरासत के दर्शन किए। इसके पश्चात सूचना, जनसम्पर्क, भाषा एवं संस्कृति विभाग की राज्य स्तरीय प्रदर्शनी का उदघाटन व अवलोकन किया। इस प्रदर्शनी के माध्यम से हरियाणा सरकार की 9 साल की उपलब्धिों को विभिन्न विभागों के स्टॉलों के माध्यम से दर्शाया गया है।

इसके पश्चात सभी मेहमानों ने कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड के सदस्यों और अधिकारियों के साथ एक ग्रुप स्मृति चित्र भी करवाया। पवित्र ग्रंथ गीता की महाआरती व महापूजन में इन मेहमानों के गरिमामयी आगमन के साथ अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव 2023 का शुभारम्भ हो गया। इसके उपरांत उप राष्ट्रपति और मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गीता ज्ञान संस्थानम केंद्र में संग्रहालय का अवलोकन करने के उपरांत संस्थान के कार्यक्रम में शिरकत की है।

उपायुक्त शांतनु शर्मा ने कहा कि यह महोत्सव के मुख्य कार्यक्रम 17 दिसंबर से 24 दिसंबर तक चलेंगे। इस महोत्सव में 18 हजार विद्यार्थियों के साथ वैश्विक गीता पाठ, उत्तर क्षेत्र सांस्कृतिक कला केन्द्र पटियाला, हरियाणा कला एवं सांस्कृतिक कार्य विभाग द्वारा विभिन्न राज्यों के कलाकारों के सांस्कृतिक कार्यक्रम, अंतर्राष्ट्रीय गीता सेमिनार, संत सम्मेलन, ब्रहमसरोवर की महाआरती, दीपोत्सव, 48 कोस के 164 तीर्थों पर सांस्कृतिक कार्यक्रम आदि मुख्य आकर्षण का केन्द्र रहेंगे।

इसके लिए प्रशासन और कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड की तरफ से सुरक्षा और व्यवस्था के तमाम पुख्ता इंतजाम किए गए है। इस मौके पर उपायुक्त शांतनु शर्मा, पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र भौरिया, हरियाणा पशुधन विकास बोर्ड के चेयरमैन धर्मवीर मिर्जापुर, भाजपा प्रदेश महामंत्री डा. पवन सैनी, भाजपा के जिलाध्यक्ष रवि बतान, एडीसी एवं केडीबी सीईओ अखिल पिलानी, कुलसचिव डा. संजीव शर्मा, केडीबी के मानद सचिव उपेंद्र सिंघल, कुरुक्षेत्र 48 कोस निगरानी कमेटी के चेयरमैन मदन मोहन छाबड़ा, सूचना, सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के अतिरिक्त निदेशक कुलदीप सैनी, केडीबी सदस्य डा. ऋषिपाल मथाना, अशोक रोशा, एमके मोदगिल, ७युद्घिष्ठïर बहल, सुशील राणा, सौरभ चौधरी, विजय नरुला, केसी रंगा, महेन्द्र सिंगला, डीवाईसीए के निदेशक डा. महा सिंह पूनिया सहित केडीबी के सभी सदस्य और अधिकारीगण उपस्थित थे।

Advertisement

Related posts

54 फार्मा कंपनियों के कफ सीरप के सैंपल निर्यात गुणवत्ता परीक्षण में विफल रहे: रिपोर्ट

editor

बेरोजगारी की हालत आज जितनी खराब है, स्वतंत्र भारत में इससे पहले कभी नहीं थी

editor

कुख्यात गैंगेस्टर प्रसन्न लंबू और राकू समेत 7 बदमाशों को उम्रकैद, 6 को 14 साल और 2 को 7 वर्ष की सजा

atalhind

Leave a Comment

URL